Loading...    
   


मध्य प्रदेश कोरोना: आज 500 से ज्यादा पॉजिटिव, 13 जिलों में स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल / MP CORONA UPDATE NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोनावायरस की स्थिति गंभीर होती जा रही है। इससे भी ज्यादा गंभीर बात यह है कि सरकार के सामने सिर्फ वही आंकड़े पेश किए जा रहे हैं जिनमें परिणाम संतोषजनक एवं सुखद दिखाई देते हो। आज की तारीख में मध्य प्रदेश 13 जिलों की स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल है। ना केवल संक्रमण बढ़ रहा है बल्कि प्राथमिक जांच में पाया जा रहा है कि संक्रमण का कारण प्रशासनिक लापरवाही है। आम जनता पर नियम तो अपने वाले प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही 100% प्रमाणित एवं संक्रमण के लिए जिम्मेदार प्राप्त हो रही है। पिछले 24 घंटे में 500 से ज्यादा नागरिक पॉजिटिव पाए गए हैं। बताने की जरूरत नहीं कि यह बेहद चिंता की बात है।

MADHYA PRADESH CORONA BULLETIN 11 JULY 2020 

संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलेटिन दिनांक 11 जुलाई 2020 (शाम 6:00 बजे तक) के अनुसार पिछले 24 घंटे में 13500 नागरिकों की सैंपल की जांच की गई। इनमें से 382 रिजेक्ट हो गए। 12976 नेगेटिव लेकिन 544 पॉजिटिव मिले। इसी के साथ मध्यप्रदेश में महामारी से पीड़ित नागरिकों की कुल संख्या 17201 हो गई है। 6 मरीजों की मौत के साथ कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 644 और 198 डिस्चार्ज के साथ COVID-19 से जंग जीतने वालों की संख्या 12679 हो गई है। आज की तारीख में मध्यप्रदेश में 3878 नागरिक महामारी से पीड़ित है। 

MP COVID-19 LATEST REPORT की खास बातें 

13520 सैंपल में से 382 का रिजेक्ट हो जाना बड़ी लापरवाही के साथ खतरनाक भी है। इसका दूसरा अर्थ यह है कि मध्य प्रदेश के 382 नागरिकों की जान संकट में है। यदि वह वाकई महामारी से पीड़ित हैं तो उनकी रिपोर्ट आने से पहले उनकी मृत्यु भी हो सकती है। क्योंकि इस तरह के नागरिकों को आइसोलेशन में रखने या कोरोनावायरस के लिए निर्धारित डाइट देने का कोई प्रावधान नहीं है। 
13500 सैंपल मैसेज 544 का पॉजिटिव पाया जाना, गंभीर चिंता का विषय है। यह औसत 4% से अधिक है जो मध्य प्रदेश के पिछले औसत 2% से दोगुना है। 
मुरैना में कोरोना खतरे के निशान से ऊपर चल रहा है। ग्वालियर की स्थिति भी ऐसी है। 
भोपाल एवं इंदौर में सुधार के बजाय बिगाड़ होता जा रहा है। 
शिवपुरी जिले में प्रशासनिक लापरवाही के कारण संक्रमित नागरिकों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है। यहां एक्टिव केस की संख्या 100 से ज्यादा हो गई। यह मध्य प्रदेश का छठवां जिला है जहां एक्टिव केस की संख्या 100 से ज्यादा है।



11 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ग्वालियर से विकास दुबे के कनेक्शन पान मसाला व्यापारी पांडे बंधु गिरफ्तार
शिक्षक, कोरोना के बाद स्कूल ड्यूटी पर आ गए, कमिश्नर DPI ट्रांसफर पॉलिसी नहीं बना पाईं 
यदि कहीं कोहनी टकरा जाए तो करंट सा क्यों लगता है
पंखा चलाने से धूल उड़ती है तो फिर पंखुड़ी पर क्यों चिपक जाती है
भोपाल में माँ ने BF से चैटिंग करने मना किया तो इंपीरियल हारमनी की छठवीं मंजिल से कूदी छात्रा, मौत
जबलपुर अपर आयुक्त की बेटी के विवाह में कोरोना फैला, अब तक 10 पॉजिटिव
सरकारी नोटिस का पालन नहीं किया तो FIR भी हो सकती है, पढ़िए कैसे
इंदौर में 17 साल छोटे बॉयफ्रेंड ने 45 साल की ब्यूटी पार्लर संचालिका की हत्या की
BIG NEWS! जबलपुर में पटरी पर सफलतापूर्वक दौड़ी बैटरी वाली बड़ी यात्री ट्रेन
IAS बनना है तो निबंध के साथ एक बात और याद रखें: UPSC टॉपर वैशाली सिंह ने बताया
राज्य शिक्षा केन्द्र: व्यापमं पास कर्मचारियों की फिर से परीक्षा ले रहा है
भोपाल का एक इलाका 12 से 19 जुलाई तक लॉकडाउन, कलेक्टर के आदेश
संदेशवाहक कबूतर प्राप्तकर्ता का पता कैसे खोज लेते थे, पढ़िए मजेदार रहस्य की बात
विकास दुबे: देखिए किस गाड़ी में सवार था कौन सी पलटी, शिवपुरी में तो मुस्कुरा रहा था
पहले कह रहे थे जिंदा क्यों पकड़ लिया, अब पूछ रहे हैं मर कैसे गया: गृह मंत्री मध्यप्रदेश
मध्य प्रदेश कोरोना: एक्टिस केस की संख्या 3500 के पार, 5 जिलों में 100 से ज्यादा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here