Loading...    
   


रेल यात्रा नहीं कर रहे लोग: 4 दिन में सिर्फ 8 तत्काल टिकट बुक हुए / GWALIOR NEWS

ग्वालियर। रेलवे द्वारा सौ दिन के अंतराल में यानि 29 जून से ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों के लिए रेलवे ने तत्काल सेवा शुरु तो कर दी। लेकिन पूरे देश के कोरोना संक्रमण के फै लाव के चलते यात्री ट्रेनों में सफर करने में डर रहे हैं। ऐसे में तत्काल सेवा की हालत यह है कि बीते चार दिनों में ग्वालियर रेलवे स्टेशन से केवल आठ यात्रियों ने ही तत्काल सेवा के तहत टिकट आरक्षित कराएं हैं। 

लॉकडाउन से पहले जहां तत्काल टिकट के लिए मारामारी रहती थी वहीं अब कोरोना संक्रमण के चलते रेलवे द्वारा यात्रियों के लिए शुरु की गई तत्काल सेवा फ्लॉप साबित हो रही है। तत्काल सेवा का आलम यह है कि तत्काल सेवा के लिए जो एक घंटे का समय निर्धारित किया गया है उस अवधि में तत्कालविंडो पर बैठे रेल कर्मचारियों को इन दिनों टिकट बुक कराने पहुंचने वाले यात्रियों का उल्टे इंतजार करना पड़ रहा है। स्थानीय सीआरएस राजेन्द्र दिवगंया ने बताया कि बीते चार दिनों में ग्वालियर आरक्षित रेल काउंटर से महज आठ तत्काल टिकट ही बुक किए जा सके हैं, जिसमें से एक थर्ड एसी व शेष सात स्लीपर क्लास के बुक किए गए है।  

80 फीसदी सीटें खाली 
वर्तमान में कोरोना संक्रमण के चलते रेलवे द्वारा विशेष ट्रेनों का ही संचालन किया जारहा है। ग्वालियर स्टेशन से सात जोड़ी ट्रेनों का ठहराव है। लेकिन इन ट्रेनों से लंबी दूरी की यात्रा करनेवाले यात्री भी कोरोना संक्रमण के चलते यात्राकरने से परहेज कर रहे हैं। आलम यह है कि ग्वालियर शहर से पुणे, मुंबई हैदराबाद, गोवा सहित देश के अन्य बड़े शहरों के लिए ग्वालियर से कनेक्ट ट्रेनों में अस्सी फीसदी आरक्षित सीटें सफर नहीं करने के कारण खाली चल रही हैं। ट्रेनों के खाली परिचालन होने के चलते वर्तमान में सभी ट्रेनों में करंट की यात्रा करने का आरक्षित टिकट भी ट्रेन के आने से दो घंटे पहले तक यात्रियों को उपलब्ध है।

03 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर में दुकानों का किराया माफ, लॉकडाउन के कारण लिया फैसला
फर्जी सर्टिफिकेट लगाने वाला कितने साल के लिए जेल जाएगा, ध्यान से पढ़िए
फर्जी सर्टिफिकेट बनाने व हस्ताक्षर करने वाले को कितनी सजा होती है, पढ़िए
अब मुझमें हिम्मत नहीं बची, मैं सुसाइड कर लूंगी: एक्ट्रेस रानी चटर्जी
पुंसवन संस्कार क्या है, क्या इससे गर्भ में शिशु के लिंग का निर्धारण होता है
मध्य प्रदेश: जिला शिक्षा अधिकारियों की तबादला सूची
मध्यप्रदेश - 28 मंत्री, 20 कैबिनेट, 8 राज्य मंत्री
MPPSC 2019 SCORECARD यहां देखें, OMR SHEET भी डाउनलोड कर सकते हैं
परिनिन्दा या चेतावनी की शास्ति का शासकीय कर्मचारी की सेवा के ऊपर क्या प्रभाव पड़ता है
हायर एजुकेशन के अस्थाई एवं संविदा शिक्षक लॉकडाउन के दौरान ऑन ड्यूटी माने जाएंगे: भारत सरकार
अन्याय के खिलाफ़ छेड़ा गया संघर्ष ही धर्म है: ज्योतिरादित्य सिंधिया
मध्य प्रदेश के 33 मंत्रियो में से 14 विधायक ही नहीं है: कमलनाथ
झूठी गवाही के लिए धमकाना या लालच देना कितना गंभीर अपराध है, यहां पढ़िए
जो थर्माकोल गर्म पानी में से नहीं पिघलता, माचिस की तीली से क्यों सिकुड़ जाता है
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने फिर दोहराया: मैं आपकी तलवार भी बनूंगा और आपकी ढाल भी बनूंगा
भाजपा विधायक रमेश मेंदोला समर्थक ने आत्मदाह की कोशिश की, मंत्री न बनाए जाने से नाराज
मध्य प्रदेश पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती नाराज, मंत्रिमंडल में संशोधन की मांग
मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल: पढ़िए कौन किसके कोटे से, कौन नया- कौन पुराना
प्रोटेम स्पीकर को मंत्री पद की शपथ दिला दी, 3 मंत्री एक्स्ट्रा हो गए: सज्जन सिंह वर्मा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here