Loading...    
   


कोरियोग्राफर सरोज खान सुपुर्द-ए-खाक, 3 साल की उम्र में शुरू किया था करियर / BOLLYWOOD NEWS

भोपाल। बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का 71 साल की उम्र में निधन हो गया है। सरोज खान को शुक्रवार सुबह मलाड के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। सरोज खान को आखिरी विदाई देने के लिए उनके परिवार वाले और कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे। सांस लेने में शिकायत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गुरुवार देर रात 1.52 बजे दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनकी मौत हो गई। कुछ दिन पहले ही उनका कोरोना टेस्ट भी कराया गया था जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार से लेकर महानायक अमिताभ बच्चन ने सरोज खान को श्रद्धांजलि दी।  

SAROJ KHAN मलाड कब्रिस्तान सुपुर्द-ए-खाक

सरोज खान को शुक्रवार सुबह मलाड के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। सरोज खान को आखिरी विदाई देने के लिए उनके परिवार वाले और कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे। मुंबई शहर में कोरोना वायरस के कहर के चलते सरोज खान को सुबह-सुबह ही बिना देर किए सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया।

50 लोगों को ही जनाजे में शामिल होने की इजाजत

कोरोना वायरस महामारी के चलते सरोज खान के जनाजे में सिर्फ 50 लोगों को ही शामिल होने की इजाजत थी। पुलिस ने सरोज खान के परिवार को आदेश दिया था कि अंतिम विदाई में 50 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे।

पाकिस्तान से भारत आ गया था परिवार


विभाजन के बाद सरोज खान का परिवार पाकिस्तान से भारत आ गया था। सरोज ने महज तीन साल की उम्र में बतौर बाल कलाकार फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। उनकी पहली फिल्म नजराना थी जिसमें उन्होंने श्यामा नाम की बच्ची का किरदार निभाया था।

SALMAN KHAN  ने किया था वादा

सरोज खान ने तीन बार नेशनल अवॉर्ड जीता लेकिन एक समय ऐसा भी आया था जब सरोज खान के पास काम नहीं था। एक इंटरव्यू में सरोज खान ने बताया था कि उन्हें फिल्मों के ऑफर मिलने बंद हो गए थे। लेकिन जब सलमान खान को इसके बारे में पता चला तो उन्होंने कहा कि वो सरोज के साथ काम करेंगे। सरोज ने कहा था कि 'जब हम मिले, तो सलमान ने मुझसे पूछा कि मैं आजकल क्या कर रही हूं। तो मैंने उन्हें ईमानदारी से बताया कि मेरे पास कोई काम नहीं है, और मैं युवाओं को इंडियन क्लासिकल डांस सिखा रही हूं। ये सुनकर उन्होंने कहा, 'अब, आप मेरे साथ काम करेंगी'। मुझे पता है कि वो अपनी जुबान के बहुत पक्के हैं। और वो अपना वादा निभाएंगे।

फिल्म देवदास के 'डोला रे' गाने के लिए मिला था नेशनल फिल्म अवॉर्ड

सरोज खान को 2003 में रिलीज हुई फिल्म 'देवदास' का गाना 'डोला रे' के लिए नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिला था। इसके अलावा 2006 में आई फिल्म 'श्रीनगरम' के सभी गानों और साल 2008 में आई 'जब वी मेट' के लिए यह इश्क हाए के लिए भी नेशनल अवार्ड मिला था। सरोज खान का जन्म 22 नवंबर 1948 में निर्मला नागपाल के रूप में हुआ था। तीन साल की उम्र में उन्होंने बतौर बाल कलाकार काम करना शुरू कर दिया था। शादी से पहले उन्होंने इस्लाम धर्म अपना लिया था।

 गणेश आचार्य से हुई थी नाराज 

अपने जीवन के आखिरी सांस तक सरोज खान को कोरियोग्राफर्स की चिंता थी। यही कारण है कि वह सिने डांसर्स एसोसिएशन (सीडीए) में फूट डालने की चाहत रखने वाले गणेश आचार्य तक से भिड़ गई थीं। सरोज खान ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'लोग सीडीए को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं, जो नहीं होना चाहिए। मैं जब 10 बरस की थी, तब इसी एसोसिएशन ने एंट्री दी थी। चंद पैसों के लिए ये लोग पेट पर लात मा रहे हैं।

KAREENA KAPOOR से बोली सरोज खान- ऐ लड़की, कमर हिला


सरोज खान ने कोरियोग्राफी से बहुत सारी बॉलीवुड अभिनेत्रियों का करियर बनाने में मदद की थी। अदाकारा करीना कपूर खान भी इनमें से एक हैं। एक डांस रिएलिटी शो में करीना कपूर ने सरोज खान के साथ अपना एक पुराना किस्सा सुनाया और बताया कि कैसे सरोज खान उन्हें डांस सिखाया करती थीं। करीना ने बताया कि एक दिन आधी रात की शूटिंग के समय सरोज खान को करीना के डांस मूव्स पसंद नहीं आ रहे थे, तो वह करीना पर चिल्ला पड़ीं, 'ऐ लड़की, कमर हिला।' करीना ने बताया कि सरोज खान ने आगे डांटते हुए कहा, 'रात के एक बज रहे हैं, क्या कर रही है।' सरोज खान के निधन से करीना कपूर भी काफी दुखी हैं। उन्होंने सरोज के साथ अपनी एक पुरानी तस्वीर इंस्टाग्राम पर साझा करते हुए लिखा, 'मास्टर जी हमेशा मुझे बताती थीं... पैर नहीं चला सकती तो कम से कम चहरा तो चला। डांस को इंजॉय करना, मुस्कुराना और आंखों के जरिए मुस्कुराना... बस यही उन्होंने मुझे सिखाया। उनके जैसा कोई और नहीं हो सकता। हम जैसे ऐक्टर्स, जो उन्हें प्यार करते थे उनके लिए डांस और एक्सप्रेशंस कभी ऐसा नहीं रहेगा। लव यू मास्टर जी... जब तक हम दोबारा साथ में डांस नहीं करते।

कोरियोग्राफी के लिए 3 बार मिला नेशनल अवॉर्ड

सरोज खान ने अपने 40 साल के करियर में सफलता की बुलंदियों को छुआ। सरोज खान ने एक से बढ़कर एक फिल्मी गानों को कोरियोग्राफ किया। सरोज खान ने तीन बार नेशनल अवॉर्ड जीता। सरोज खान ने कोरियोग्राफी में सबसे ज्यादा अवॉर्ड अपने नाम किए थे। 50 के दशक में सरोज खान ने बतौर बैकग्राउंड डांसर काम करना शुरू कर दिया था। उन्होंने कोरियोग्राफर बी. सोहनलाल के साथ ट्रेनिंग ली। 1974 में रिलीज हुई फिल्म गीता मेरा नाम से सरोज खान एक स्वतंत्र कोरियोग्राफर की तरह जुड़ीं हालांकि उनके काम को काफी समय बाद पहचान मिली। सरोज खान की मुख्य फिल्मों में मिस्टर इंडिया, नगीना, चांदनी, तेजाब, थानेदार और बेटा हैं।

SUSHANT SINGH RAJPUT की आत्महत्या से थीं दुखी

कोरियोग्राफर सरोज खान ने सुशांत सिंह राजपूत की एक तस्वीर इंस्टाग्राम पर शेयर करते हुए लिखा था मैंने आपके साथ कभी काम नहीं किया, लेकिन हम कई बार मिल चुके हैं। आपके जीवन में क्या गलत हुआ? मैं हैरान हूं कि आपने अपने जीवन में इतना कठोर कदम उठाया। आप किसी बुजुर्ग से बात कर सकते थे, जो आपकी मदद कर सकते थे। ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे और मुझे नहीं पता कि आपके पिता और बहन इस समय कैसे सह रहे हैं, उनके प्रति संवेदना और शक्ति। मैंने आपकी सभी फिल्मों से प्यार किया और हमेशा आपसे प्यार करती रहूंगी। 

1975 में सरदार रोशन खान से की दूसरी शादी

सोहनलाल से अलग होने के बाद 1975 में सरोज खान ने अपनी जिंदगी के बारे में एक बार फिर से फैसला लिया और उन्होंने सरदार रोशन खान से शादी कर ली। उनसे उन्हें एक बेटी हुई, जिसका नाम उन्होंने सुकन्या रखा। सुकन्या आज दुबई में अपना डांस इंस्टीट्यूट चलाती हैं।

पति ने नाम देने से कर दिया था इनकार

बच्चों के जन्म के बाद सोहनलाल ने उन्हें अपना नाम देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद दोनों के बीच दूरियां आ गईं। सरोज की एक बेटी कुकु भी हैं। सरोज ने दोनों बच्चों की परवरिश अकेले ही की।


बेटा होने के बाद पता चली थी पति की पहली शादी की बात

सरोज खान से शादी के वक्त सोहनलाल ने अपनी पहली शादी की बात नहीं बताई थी। 1963 में सरोज खान के बेटे राजू खान का जन्म हुआ तब उन्हें सोहनलाल की शादीशुदा जिंदगी के बारे में पता चला। 1965 में सरोज ने दूसरे बच्चे को जन्म दिया लेकिन उसकी 8 महीने बाद ही मौत हो गई। 14 साल की उम्र में सरोज खान पहली बार मां बनी थीं और उन्हें एक बेटा हामिद खान (राजू खान) हुआ। अपने एक पुराने इंटरव्यू में सरोज खान ने बताया था कि सोहनलाल से उनकी शादी कैसे हुई थी।

AMITABH BACHCHAN ने जताया शोक


अक्षय कुमार से लेकर महानायक अमिताभ बच्चन ने सरोज खान को सोशल मीडिया के जरिए श्रद्धांजलि दी। अमिताभ बच्चन ने सुबह सुबह सरोज खान को याद करते हुए लिखा, 'हाथ जुड़े हैं मन उदास है।' साथ ही अमिताभ बच्चन ने एक तस्वीर साझा की है जिसमें अंधेरे में रोशनी की एक किरण आती दिखाई दे रही है।

मर्जी से अपनाया था इस्लाम

एक टीवी चैनल के साथ इंटरव्यू में सरोज खान ने बताया था कि 'मैंने अपनी मर्जी से इस्लाम धर्म अपनाया था। उस वक्त मुझसे कई लोगों ने पूछा कि मुझ पर कोई दबाव तो नहीं है लेकिन ऐसा नहीं था। मुझे इस्लाम धर्म से प्रेरणा मिलती है।

13 साल में हुई थी शादी

सरोज खान ने मास्टर बी. सोहनलाल से शादी की थी। दोनों की उम्र में 30 साल का अंतर था। शादी के वक्त सरोज की उम्र 13 साल थी। सोहनलाल की ये दूसरी शादी थी। पहली शादी से उनके चार बच्चे थे। सरोज खान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 'मैं उन दिनों स्कूल में पढ़ती थीं तभी एक दिन मेरे डांस मास्टर सोहनलाल ने गले में काला धागा बांध दिया था और मेरी शादी हो गई थी।' 


03 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश के 33 मंत्रियो में से 14 विधायक ही नहीं है: कमलनाथ
प्राचीन काल में क्या राजा-महाराजा भी खुले में शौच के लिए जाते थे
झूठी गवाही के लिए धमकाना या लालच देना कितना गंभीर अपराध है, यहां पढ़िए
जो थर्माकोल गर्म पानी में से नहीं पिघलता, माचिस की तीली से क्यों सिकुड़ जाता है
अब मुझमें हिम्मत नहीं बची, मैं सुसाइड कर लूंगी: एक्ट्रेस रानी चटर्जी
मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल: पढ़िए कौन किसके कोटे से, कौन नया- कौन पुराना
मध्य प्रदेश पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती नाराज, मंत्रिमंडल में संशोधन की मांग
इंदौर में दुकानों का किराया माफ, लॉकडाउन के कारण लिया फैसला
MPPSC: सहायक प्राध्यापक आरक्षण से संबंधित याचिका खारिज
प्रोटेम स्पीकर को मंत्री पद की शपथ दिला दी, 3 मंत्री एक्स्ट्रा हो गए: सज्जन सिंह वर्मा
मध्यप्रदेश - 28 मंत्री, 20 कैबिनेट, 8 राज्य मंत्री
फर्जी सर्टिफिकेट लगाने वाला कितने साल के लिए जेल जाएगा, ध्यान से पढ़िए
हत्यारे को बचाने की किसी भी प्रकार की कोशिश अपराध है, पढ़िए FIR में कौन सी धारा दर्ज होगी
कमलनाथ और दिग्विजय सिंह आप दोनों सुन लीजिए, टाइगर अभी जिंदा है: ज्योतिरादित्य सिंधिया
सब्जी खरीदने से पहले किन बातों का ध्यान रखें, सरकार ने नई एडवाइजरी जारी की
फर्स्ट मैरिज एनिवर्सरी पर पति नहीं आया, विवाहिता छत से कूद गई, मौत
मध्य प्रदेश कोरोना: 7844 में से 245 पॉजिटिव, 8 मरीजों की मौत
MP POLICE RI/SUBEDAR TRANSFER LIST / मध्य प्रदेश पुलिस आरआई/सूबेदार तबादला सूची


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here