Loading...    
   


कमलनाथ और दिग्विजय सिंह आप दोनों सुन लीजिए, टाइगर अभी जिंदा है: ज्योतिरादित्य सिंधिया / MP NEWS


भोपाल। मध्य प्रदेश की राजनीति में आज बहुत कुछ हुआ। कुछ नए रिश्ते बने कुछ पुराने रिश्ते टूटे। कुछ टूटे हुए रिश्तो में दरारें बड़ी हो गई। 2018 में श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह के पैर छूते हुए नजर आए थे आज उन्हीं को अपनी जीत का संकेत देते हुए दिखाई दिए। 

कांग्रेस पार्टी से भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए समर्थकों को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केवल अपने समर्थकों से बात नहीं की बल्कि भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी के नेताओं से भी बात की। पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ एवं श्री दिग्विजय सिंह को संबोधित करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि 'कमलनाथ जी और दिग्विजय सिंह जी आप दोनों कान खोल कर सुन लीजिए, टाइगर जिंदा है।' 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यह बयान क्यों दिया

राजनीति में इन शब्दों के अपने अपने तरीके से अर्थ निकाले जा रहे हैं। इसका एक अर्थ यह भी है कि श्री कमलनाथ और श्री दिग्विजय सिंह ने मिलकर श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस पार्टी में घेर लिया था, उनका राजनैतिक शिकार करने की तैयारी थी परंतु ज्योतिरादित्य सिंधिया बच कर निकल आए और मध्य प्रदेश की राजनीति में स्थापित हो गए। श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के इस बयान का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि उन्होंने अपने पूरे भाषण में से केवल इसी अंश को काटकर सोशल मीडिया पर वायरल किया है।

02 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

इंदौर में दुकानों का किराया माफ, लॉकडाउन के कारण लिया फैसला
फर्जी सर्टिफिकेट लगाने वाला कितने साल के लिए जेल जाएगा, ध्यान से पढ़िए
फर्जी सर्टिफिकेट बनाने व हस्ताक्षर करने वाले को कितनी सजा होती है, पढ़िए
अब मुझमें हिम्मत नहीं बची, मैं सुसाइड कर लूंगी: एक्ट्रेस रानी चटर्जी
पुंसवन संस्कार क्या है, क्या इससे गर्भ में शिशु के लिंग का निर्धारण होता है
मध्य प्रदेश: जिला शिक्षा अधिकारियों की तबादला सूची
मध्यप्रदेश - 28 मंत्री, 20 कैबिनेट, 8 राज्य मंत्री
MPPSC 2019 SCORECARD यहां देखें, OMR SHEET भी डाउनलोड कर सकते हैं
परिनिन्दा या चेतावनी की शास्ति का शासकीय कर्मचारी की सेवा के ऊपर क्या प्रभाव पड़ता है
हायर एजुकेशन के अस्थाई एवं संविदा शिक्षक लॉकडाउन के दौरान ऑन ड्यूटी माने जाएंगे: भारत सरकार
अन्याय के खिलाफ़ छेड़ा गया संघर्ष ही धर्म है: ज्योतिरादित्य सिंधिया
मध्य प्रदेश के 33 मंत्रियो में से 14 विधायक ही नहीं है: कमलनाथ
झूठी गवाही के लिए धमकाना या लालच देना कितना गंभीर अपराध है, यहां पढ़िए
जो थर्माकोल गर्म पानी में से नहीं पिघलता, माचिस की तीली से क्यों सिकुड़ जाता है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here