Loading...    
   


सरकार के खिलाफ कोर्ट जाने की तैयारी कर रहा है पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता संघ / EMPLOYEE NEWS

भोपाल। दिनांक 5/6/2020 को संघ के उपाध्यक्ष श्री जसवंत सिंह जी ने बताया कि पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता संघ विगत कई वर्षों से अतिथि व्याख्याताओं की मांगों जैसे फिक्स वेतनमान  स्थायित्व को लेकर हमेशा से शासन से पत्र व्यवहार करते आया है लेकिन आज दिनांक तक उस पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया है।

लॉक डाउन जैसी विषम परिस्थिति में भी पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता ₹400 प्रति कालखंड पर कार्य करते हैं। हम अतिथि व्याख्याताओं को 11 माह का आदेश जारी किया जाता है पर हमें भुगतान केवल 180 दिन (6 माह )का दिया जाता है तथा अतिथि व्याख्याताओं से कार्य 11 माह (लगभग 335 दिन) का लिया जाता है जिसमें लेक्चर के अलावा प्रायोगिक परीक्षा एग्जाम ड्यूटी कॉपी मूल्यांकन और समय-समय पर संस्था द्वारा दिए गए कार्य अतिथि व्याख्याताओं द्वारा संपादित किए जाते हैं आज पुनः संगठन द्वारा प्रमुख सचिव महोदय  तथा संचालक महोदय को मेल के माध्यम से पत्र भेजा गया है जिसमें संगठन की प्रमुख मांग है।

1. फिक्स वेतनमान(12 माह) और स्थायित्व। वर्तमान में कार्यरत सभी अतिथि व्यख्याताओ के लिए।
2.  400 /कालखंड  रूपी शोषित व्यवस्था समाप्त की जाये।

 यदि 10 दिवस के अंदर  हमारी मांगें नहीं मानी जाती है तो पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता संघ न्यायालय की शरण में जाएगा तथा इसकी समस्त जिम्मेदारी प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा एवं संचालक तकनीकी शिक्षा तथा समस्त प्राचार्य शासकीय पॉलिटेक्निक महाविद्यालय  मध्यप्रदेश की होगी तथा न्यायालय में आने वाले खर्च को वहन भी प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा ,संचालक तकनीकी शिक्षा तथा समस्त प्राचार्य को ही करना होगा।

06 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मैं कांग्रेस में लौट आया हूं 'महाराज' आने वाले हैं: सत्येंद्र यादव
छतरपुर में युवा कर्मचारी ने CMO की पत्नी को गोलियां मारीं, घटना के समय दोनों घर में अकेले थे
दिवालिया बैंक में पैसा डूब जाता है तो क्या लिया गया LOAN भी नहीं चुकाना पड़ता
सिंधिया के सवाल पर तोमर ने कहा: भाजपा किसी को पचाने में सक्षम है
CBSE 12th EXAM NOTIFICATION जारी, यहां पढ़िए
भोपाल में देह व्यापार अनलॉक, 5 लड़कियों के साथ सीहोर का किसान गिरफ्तार
धूम्रपान करने वालों के खिलाफ IPC की किस धारा के तहत FIR दर्ज होगी, क्या आप जानते हैं
इंदौर में जिस व्यापारी के यहां नोटों से भरे बोरे मिले, वो पाकिस्तानी निकला
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
MP BOARD EXAM के लिए प्रवेश-पत्र जारी, यहां से डाउनलोड करें
जबलपुर में युवक ने खंडहर में नाबालिग को हवस का शिकार बनाया
चिन्ह और चिह्न में से क्या सही है और क्या गलत, प्रमाण सहित उत्तर यहां पढ़िए
SSC EXAM 2020 DATE घोषित, शेड्यूल जारी / SSC EXAM 2020 TIMETABLE
कोरोना के लक्षण दिखाई देते ही क्या करें: 1000 मरीजों का ठीक करने वाले डॉ. गोयनका के सुनिए
सीएम शिवराज सिंह गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के घर क्यों गए, जवाब की तलाश
ग्वालियर नगर निगम ने नामांतरण शुल्क 50 से 5000 कर दिया, चेंबर ऑफ कॉमर्स नाराज
बॉयफ्रेंड के साथ भागने वाली थी विवाहिता, पति ने पत्थर पर पटककर मार डाला
चुनाव की तरह सभी कर्मचारियों को कोरोना ड्यूटी पर लगाएं: कमिश्नर ग्वालियर
पेयजल को अपवित्र करना पाप ही नहीं क्राइम भी है, पढ़िए किस धारा के तहत FIR दर्ज होती है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here