Loading...    
   


कोरोना योद्धाओं ने कोरोना संदिग्धों का अंतिम संस्कार करने से इंकार किया / BHOPAL NEWS

भोपाल। हमीदिया अस्पताल में इलाज करा रहे दो कोरोना संदिग्धों की रविवार को मौत हो गई। इन्हें भदभदा स्थित विश्राम घाट में अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। विश्राम घाट के कर्मचारियों ने ही अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया।  

दरअसल, इन कर्मचारियों के पास सुरक्षा संबंधित किट नहीं थी। इस पर मृतक के चार परिजनों ने ही लाश को उठाया और अंतिम संस्कार संबंधित तैयारी की। दूसरी लाश के साथ कोई परिजन नहीं आया था। मौके पर मौजूद पुलिस कर्मी ने इसकी सूचना हमीदिया प्रबंधन को दी। फिर मृतक के परिजन विश्रामघाट पहुंचे और दो घंटे बाद अंतिम संस्कार हो सका। निगम अधिकारी ने बताया कि इस मामले की कोई सूचना उन्हें नहीं मिली है। 

रविवार को कोरोना के 27 नए मरीज मिले हैं। इसमें बरखेड़ी की 9 दिन की बच्ची भी है। यह प्रदेश में कोरोना पीड़ित सबसे कम उम्र की मरीज है। हालांकि, उसके माता-पिता संक्रमित नहीं है। चार संदिग्धों के मौत भी रविवार को हुई है। सभी मरीजों को चिरायु मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया जा रहा है।रविवार को चार संदिग्धों की मौत का मामला सामने आया है। इनमें एक रायसेन व दूसरा विदिशा व तीसरा भोपाल का रहने वाला था। एक अज्ञात है। इसके अलावा इटारसी में तीन नए मरीज मिले हैं। यहां अब मरीजों की संख्या 24 हो गई है। 

20 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कूलर में यदि पानी की जगह बर्फ रख दें तो क्या वह ज्यादा ठंडी हवा देगा
ग्वालियर में सरेआम महिला ने कपड़े उतारे, पुलिस और डॉक्टर के सामने हंगामा 
20 अप्रैल से 03 मई तक क्या खुलेगा क्या बंद रहेगा, यहां पढ़िए 
आग की लौ ऊपर क्यों जाती है, गुरुत्वाकर्षण प्रभावित नहीं करता क्या 
कमलनाथ की प्रिय बहन रामबाई को शिवराज सरकार में मंत्री पद चाहिए (वीडियो देखिए क्या कहा) 
अस्थाई शिक्षकों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, नियमितीकरण पर मुहर 
रेप पीड़ित महिला बैंक अधिकारी की हालत गंभीर, पति लॉक डाउनलोड फंसा था 
मध्यप्रदेश 03 मई तक लॉक डाउन में ठेकेदारों के लिए गाइडलाइन 
टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी आज डिस्चार्ज होने वाले थे, लगातार दो रिपोर्ट नेगेटिव आई थी 
इंदौर शोक मग्न: कोरोना फाइटर TI देवेंद्र चंद्रवंशी शहीद, पढ़िए पूरी रिपोर्ट 
प्रधानमंत्री ने छोटे दुकानदारों को धन्यवाद के साथ संदेश दिया 
कोरोना वायरस: MADHYA PRADESH तीसरे नंबर पर, महाराष्ट्र और DELHI के बाद सबसे ज्यादा मरीज
गृह निर्माण के समय ईटों पानी में क्यों भिगोया जाता है, आइए जानते हैं 
मध्यप्रदेश में शराबबंदी के नए आदेश जारी 
BHOPAL: मात्र 9 दिन की नवजात बच्ची कोरोना पॉजिटिव


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here