लॉक-डाउन के बाद मप्र के गवर्नर क्या कर रहे हैं, यहां पढ़िए | MP NEWS
       
        Loading...    
   

लॉक-डाउन के बाद मप्र के गवर्नर क्या कर रहे हैं, यहां पढ़िए | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के राज्यपाल श्री लालजी टंडन कितने दिनों काफी सुर्खियों में आए। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ को तीन बार फ्लोर टेस्ट का आदेश देने के अलावा वह इसलिए भी सुर्खियों में आए क्योंकि 85 वर्ष की आयु के बावजूद उन्हें रात 3:00 बजे तक काम करते हुए देखा गया। राजनीति से इतर एक बड़ा सवाल यह था कि राज्यपाल श्री लालजी टंडन कितने फिट कैसे हैं। उनकी फिटनेस का राज क्या है। टोटल ऑफ डॉन के बाद जब उन्हें फुर्सत मिली तो उन्होंने अपना यह सीक्रेट भी शेयर कर दिया।

राज्यपाल रोज सुबह 6:30 बजे प्राणायाम करते हैं 

राज्यपाल श्री लालजी टंडन बताते हैं कि मेरी वर्षों पुरानी आदत है कि रतजगा कितना भी हो जाए, सुबह साढ़े छह बजे प्राणायाम के साथ ही दिन की शुरुआत होती है। प्रदेश में हुए ताजा सत्ता परिवर्तन के दौरान कई दिन तक राजभवन सचिवालय को रात-रात भर काम करना पड़ा। राज्यपाल स्वयं भी कई रातें दो-ढाई बजे तक जागे। 

राज्यपाल की फिटनेस का राज: गिलोय का रस, अदरक और आयुर्वेद

राज्यपाल ने बताया कि इन दिनों कोरोना संक्रमण के चलते मैंने अपनी दिनचर्या तो बदली ही, प्रदेश में सभी लोगों के लिए जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए हैं। शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखना बहुत जरूरी है। इसलिए गिलोय का रस, अदरक और आयुर्वेदिक औषधियां भी ले रहा हूं। 

अधूरी किताब पूरी कर रहे हैं, नाम रखा है 'स्मृतिनाद'

राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने बताया कि टोटल लॉक डाउन के कारण मुलाकातें सीमित कर दी हैं, इसलिए अब फुर्सत के क्षणों का उपयोग अपनी ही पुस्तक पढ़ने और उसे अपडेट करने में जुट गया हूं। एक बात और संस्मरणों की इस पुस्तक का शीर्षक भी मैंने 'स्मृतिनाद' तय कर लिया है।

25 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

जींस में छोटी जेब क्यों होती है, कोई बड़ा कारण है या बस डिजाइन
यदि पेट्रोल को इंडक्शन कुकर पर उबाला जाए तो क्या होगा, पढ़िए
जयारोग्य हॉस्पिटल में कोरोना पॉजीटिव 3 दिन भटकाया, अब पत्नी को भर्ती करने की नौबत
जबलपुर में 148 लोग कोरोना संदिग्ध, होम क्वारंटाइन किया
हवाई जहाज कितना माइलेज देता है, प्रति व्यक्ति ईंधन का खर्चा कितना होता है
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
शिवराज सिंह: कलेक्टरों को गाइडलाइन, किसानों, गरीबों व विद्यार्थियों को राहत
हिंदुओं का दंडवत, जिसे ढोंग कहा था, दुनिया को कोरोनावायरस से बचा रहा है: चीन और अमेरिका की रिसर्च रिपोर्ट
भोपाल में कोरोनावायरस संदिग्ध लड़की पटवारी से लिपट गई
ना खांसी, ना जुकाम, मोहल्ले से बाहर नहीं निकली फिर भी कोरोनावायरस से मौत