Loading...    
   


होम क्वॉरेंटाइन का उल्लंघन, IAS मिश्रा के खिलाफ FIR, सस्पेंड | BUREAUCRACY NEWS

नई दिल्ली। भारत में पहली बार होम क्वॉरेंटाइन की गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले किसी व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हुई है। विदेश यात्रा से लौटे भारतीय प्रशासनिक सेवा (केरल कैडर) के अधिकारी श्री अनुपम मिश्रा को होम क्वॉरेंटाइन के लिए निर्देशित किया गया था परंतु उन्होंने होम क्वॉरेंटाइन की गाइडलाइन का उल्लंघन किया। श्री अनुपम मिश्रा के खिलाफ FIR दर्ज की गई है एवं उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है।

हनीमून मनाने विदेश गए थे, क्वॉरेंटाइन के लिए कहा तो कानपुर भाग गए


अनुपम मिश्रा कोल्लम जिले में SDM हैं। उनकी हाल ही में शादी हुई थी। शादी के बाद वह अपनी WIFE के साथ HONEYMOON मनाने SINGAPORE और MALAYSIA गए थे। वहां से वह 19 मार्च को वापस लौटे। डीएम बी अब्दुल नासिर ने बताया कि हालांकि विदेश से लौटने के बाद अनुपम और उनकी पत्नी की जांच हुई थी और उनमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं मिले थे। उन्हें एहतियात के तौर पर 14 दिन होम क्वॉरेंटाइन के लिए कहा गया था लेकिन वह अपने सरकारी आवास से भागकर अपने निजी निवास कानपुर उत्तर प्रदेश पहुंच गए। संयोग से, कोल्लम, केरल राज्य का एकमात्र जिला है जहां से अब तक कोविड-19 का एक भी मामला सामने नहीं आया है। 

IAS अफसर राज्य छोड़कर भागे तो बदनामी होती है: मुख्यमंत्री


इस मामले में मुख्‍यमंत्री पी विजयन ने मीडिया से कहा, 'कोल्‍लम के सब कलेक्‍टर ने बिना अधिकारियों को बताए राज्‍य छोड़ा है। यह उन्‍होंने सही नहीं किया। जो लोग कोरोना के कारण डॉक्‍टरी देखरेख में रखे गए हैं उनसे क्वॉरेंटाइन गाइडलाइन का सख्‍ती से पालन करने का अनुरोध किया गया है लेकिन जब सब कलेक्‍टर जैसा जिम्‍मेदार व्‍यक्ति केरल छोड़कर भागता है तो इससे राज्‍य का नाम खराब होता है। इसलिए हमने उन्‍हें सस्‍पेंड करने का फैसला किया है।' 

बिना अनुमति के केरल छोड़कर भाग गए: कलेक्टर

कोल्‍लम के कलेक्‍टर बी अब्‍दुल नासिर ने कहा, 'जब कोई अफसर अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर यात्रा करता है तो उसे सरकार को बताना होता है। लेकिन श्री अनुपम मिश्रा ने ऐसा नहीं किया। उन्‍होंने राज्‍य छोड़ने से पहले भी अनुमति नहीं ली।' मिश्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 और 271 के तहत केस दर्ज किया गया है।

28 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

CRPC की धारा 144 का उल्लंघन करने पर IPC की धारा 188 के तहत FIR क्यों होती है
'पास आउट' का सही अर्थ, 'अकॉर्डिंग टू मी' का मतलब क्या होता है 
टोटल लॉक-डाउन में पैसा कैसे कमाए, यहां पढ़िए 
VVIP कारों की प्लेट पर नंबर क्यों नहीं होते, कोई लॉजिक है या अकड़ दिखाने के लिए, पढ़िए
यदि पेट्रोल को इंडक्शन कुकर पर उबाला जाए तो क्या होगा, पढ़िए 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
मध्यप्रदेश में शराब की दुकान मामले में शिवराज सिंह का यू-टर्न 
CORONA को खत्म करने महुआ के पेड़ से देवी प्रकट हुई, अफवाह उड़ी, मेला लगा, प्रशासन सोता रहा 
मप्र लॉकडाउन: कलेक्टर/एसपी के नाम संशोधित गाइडलाइन
मध्य प्रदेश कोरोना बुलेटिन: इंदौर-उज्जैन गंभीर, भोपाल-शिवपुरी चिंताजनक, जबलपुर-ग्वालियर कंट्रोल


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here