Loading...    
   


कोरोना राहत राशि के नाम पर ठगी शुरू | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। सरकारी योजनाओं के नाम पर ठगी का कारोबार करने वाले टोटल लॉकडाउन के बावजूद अपराध करना बंद नहीं कर रहे हैं उल्टा कोरोना राहत राशि के नाम पर ठगी का कारोबार शुरू कर दिया है।

विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के सिटी सेंटर निवासी दिनेश नरवरिया पुत्र कल्याण सिंह नरवरिया प्राइवेट जॉब करता है। उसके मोबाइल पर एक कॉल आया। कॉल करने वाले ने उसका नाम पूछा और बताया कि उसके मोबाइल पर कोरोना राहत राशि भेजी गई है, उसे ओपन कर राशि अपने खाते में ट्रांसफर कर ले। राहत राशि का पता चलते ही उसने लिंक ओपन की और उस पर आया मैसेज चेक कर रहा था कि तभी फिर से उसके मोबाइल पर कॉल आया।

कॉल करने वाले ने उससे राशि का मैसेज मिलने के बारे में पूछा और उसके हां में जवाब देते ही युवक ने उस पर आए कोड का नंबर पूछा। नंबर बताते ही उसके खाते से दो बार में ढाई हजार रुपए निकल गए। ठगे जाने का अहसास होते ही पीडि़त साइबर सेल पहुंचा और मामले की शिकायत की। कृपया इस खबर को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि लोगों को इस तरह की घटनाओं का शिकार होने से बचाया जा सके।

28 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

CRPC की धारा 144 का उल्लंघन करने पर IPC की धारा 188 के तहत FIR क्यों होती है
'पास आउट' का सही अर्थ, 'अकॉर्डिंग टू मी' का मतलब क्या होता है 
टोटल लॉक-डाउन में पैसा कैसे कमाए, यहां पढ़िए 
VVIP कारों की प्लेट पर नंबर क्यों नहीं होते, कोई लॉजिक है या अकड़ दिखाने के लिए, पढ़िए
यदि पेट्रोल को इंडक्शन कुकर पर उबाला जाए तो क्या होगा, पढ़िए 
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
मध्यप्रदेश में शराब की दुकान मामले में शिवराज सिंह का यू-टर्न 
CORONA को खत्म करने महुआ के पेड़ से देवी प्रकट हुई, अफवाह उड़ी, मेला लगा, प्रशासन सोता रहा 
मप्र लॉकडाउन: कलेक्टर/एसपी के नाम संशोधित गाइडलाइन
मध्य प्रदेश कोरोना बुलेटिन: इंदौर-उज्जैन गंभीर, भोपाल-शिवपुरी चिंताजनक, जबलपुर-ग्वालियर कंट्रोल


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here