Loading...

इंदौर में तबादला प्राप्त शिक्षकों ने विरोध प्रदर्शन किया | EMPLOYEE NEWS

इंदौर। प्रदेश के विभिन्न जिलों से ट्रांसफर होकर इंदौर पहुंचे 40 से अधिक शिक्षकों को जिला शिक्षा अधिकारी ने विभाग के एक आदेश का हवाला देते हुए ज्वाॅइनिंग देने से इंकार कर दिया। नाराज शिक्षकों ने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में विरोध प्रदर्शन कर तुरंत ज्वाइनिंग देने की मांग की है।

मंगलवार को बड़ा गणपति स्थित जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में पहुंचे 40 से अधिक शिक्षक उस समय आक्रोशित हो गए जब डीईओ ने उन्हें ज्वाॅइनिंग देने से इंकार कर दिया। यह शिक्षक प्रदेश के विभिन्न जिलों से रिलीव होकर इंदौर में ज्वाॅइनिंग के लिए आए थे। मंगलवार को जब यह डीईओ कार्यालय पहुंचे तो वहां कहा गया कि शिक्षा विभाग के एक आदेश के तहत सभी प्रकार की ज्वाॅइनिंग और रिलिव पर फिलहाल रोक लगा दी गई है। 

इस संबंध में डीईओ राजेन्द्र मकवानी ने बताया कि मंगलवार सुबह ही शिक्षा विभाग आयुक्त का एक आदेश जारी हुआ है। इस आदेश के अनुसार ज्वाॅइनिंग और रिलीव दोनों पर अगले आदेश तक रोक लगाई गई है। बुधवार को शाम 4 बजे विभाग की वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक होगी जिसमें ट्रांसफर किए गए शिक्षकों को ज्वाॅइनिंग देनी है अथवा नहीं इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा।

शिक्षकाें में आक्रोश

प्रदेश के कई जिलों से आए शिक्षकों ने बताया कि उन्हें 7 दिनों के अंदर इंदौर में ज्वाॅइन करने को कहा गया था। अब इंदौर में ज्वाॅइनिंग देने से मना कर दिया। शिक्षकों का कहना है कि पुराने कार्यस्थल से इंदौर आने-जाने के खर्च के साथ ही इंदौर में रुकने के लिए भी पैसा खर्च हो रहा है। अब विभाग बुधवार शाम तक कोई निर्णय लेने की बात कह रहा है तो विभाग को शिक्षकों को इस अतिरिक्त खर्च का भुगतान भी करना चाहिए।

नहीं दे रहे जानकारी 

ज्वाॅइनिंग के लिए जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय पहुंचे शिक्षक सहीं जानकारी नहीं मिलने के कारण परेशान होते रहे। शिक्षकों ने बताया कि आदेश के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी किसी को जानकारी नहीं दे रहे हैं। वहीं जब शिक्षकों ने उनसे मिलने का प्रयास किया तो डीईओ ने मिलने से भी इंकार कर दिया। डीईओ के इस व्यवहार से भी शिक्षकों में आक्रोश देखा गया।