अब भी पैसे मांग रही है, भाजपा | EDITORIAL by Rakesh Dubey

14 August 2018

यूँ तो भारतीय जनता पार्टी अपने को विश्व की सबसे बड़ी पार्टी कहती है। निष्पक्ष प्रेक्षक उसे देश की सबसे धनी और चंदा बटोरने वाली पार्टी का ख़िताब देते हैं। इसके विपरीत मध्यप्रदेश भाजपा अपने खाली खजाने को भरने का लक्ष्य लेकर मैदान में उतर गई है। उसने एक निश्चित लक्ष्य किया है और उसकी पूर्ति के लिए वो मैदान में उतर चुकी है। एक दम लिखत-पढ्त के साथ इसके विश्लेष्ण के साथ भाजपा की वर्तमान स्थिति पर एक नजर जरूरी है।

भारतीय जनता पार्टी देश का सबसे धनी राजनीतिक दल है जबकि कांग्रेस इस मामले में दूसरे नंबर पर है, यह जानकारी एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) की तरफ से जारी की गई रिपोर्ट से सामने आई है। ADR ने इस जानकारी के लिए राजनीतिक दलों की तरफ से चुनाव आयोग में वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान दी गई जानकारी को आधार बनाया है। रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान देश के 7 राष्ट्रीय राजनीतिक दलों यानि भाजपा, कांग्रेस, बसपा, सीपीएम, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, सीपीआई और तृणमूल कांग्रेस ने कुल मिलाकर 1559.17 करोड़ रुपए की कमाई की है इसमें से 1228.26 करोड़ रुपए का खर्च किया है। रिपोर्ट के मुताबिक कुल 1559.17 करोड़ रुपए में से भाजपा की कुल कमाई 1034.17 करोड़ रुपए दर्ज की गई है जिसमें से 710 करोड़ रुपए का खर्च हुआ है। वित्तवर्ष 2016-17 के दौरान भाजपा को 324 करोड़ रुपए की कमाई हुई है। भारतीय जनता पार्टी को वित्तवर्ष 2015-16 के मुकाबले २०१६-१७ के दौरान ८१ प्रतिशत ज्यादा कमाई हुई है जबकि कांग्रेस की कमाई में करीब १४ प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। २०१५ -१६ के दौरान भाजपा को ५७०.८६ करोड़ रुपए और कांग्रेस को २६१.५६ करोड़ रुपए की कमाई हुई थी।

भाजपा की कमाई में अधिकतर हिस्सेदारी ऐच्छिक योगदान की है, इसके अलावा ब्याज से होने वाली कमाई और कार्यकर्ताओं और सदस्यों से वसूली जाने वाली फीस से होने वाली कमाई की ज्यादा हिस्सेदारी है। वित्तवर्ष २०१६-१७ में भाजपा को को हुई कुल १०३४.२७ करोड़ रुपए की कमाई में से ९४.४१ प्रतिशत यानि ९९७.१२ करोड़ रुपए ऐच्छिक योगदान से मिले हैं जबकि ३.०२ प्रतिशत यानि ३१.१८ करोड़ रुपए ब्याज से आए हैं और बाकी ४.२९ करोड़ रुपए कार्यकर्ताओं से ली गई  फीस या सदस्यता शुल्क है।

मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी ने कभी ऐसा वित्तीय विवरण जरी नहीं किया और न ही किसी संस्था ने इसकी जाँच करने की कोशिश की। ऐसा अन्य राज्यों में होता है या नहीं कहना मुश्किल है। मध्यप्रदेश में धन एकत्र करने के लक्ष्य को लेकर भाजपा के कार्यकर्ता मैदान में हैं। इन कार्यकर्ताओं के हाथ में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की हस्ताक्षरित छपी हुई चिठ्ठी है, जिसमे आम नागरिकों से उनकी मेहनत की कमाई से एक अंश माँगा गया है। भाजपा आप आदमी से क्या ले रही है सबको पता लग गया है। भाजपा ने क्या दिया है, यह भी किसी से छिपा नहीं है।
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com
श्री राकेश दुबे वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार हैं।
संपर्क  9425022703        
rakeshdubeyrsa@gmail.com
पूर्व में प्रकाशित लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए
आप हमें ट्विटर और फ़ेसबुक पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts