संकष्टी चतुर्थी पर 100 साल बाद अद्भुत योग, तुला, वृश्चिक और कुंभ राशि वालों के लिए विशेष

सकट चौथ, संकष्टी चतुर्थी, वक्रतुण्डी चतुर्थी, तिल कुटा चौथ अथवा माही चौथ, भारत के विभिन्न क्षेत्रों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है परंतु पौष माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि पूरे भारतवर्ष में प्रत्येक पंथऔर संप्रदाय में विशेष मानी जाती है। परंपरा है कि इस दिन संकट से मुक्ति के लिए भगवान श्री गणेश की पूजा की जाती है। 

सकट चौथ 2024 पर शोभन और त्रिग्रही योग 

ज्योतिष के विद्वान आचार्य सुरेंद्र के अनुसार 100 साल बाद संकष्टी चतुर्थी के अवसर पर एक अद्भुत योग बन रहा है। इस दिन धनु राशि में सूर्य, शुक्र और बुध के साथ शोभन और त्रिग्रही योग बन रहा है। कुछ राशियों को इस संयोग से जबरदस्त फायदा होगा। आर्थिक लाभ के साथ दांपत्य जीवन में खुशियां आएंगी। संकष्टी चतुर्थी तिथि 29 जनवरी को सुबह 06.10 मिनट से 30 जनवरी को सुबह 08.54 मिनट तक रहेगी।

तुला राशि पर शोभन और त्रिग्रही योग का प्रभाव

इस राशि के जातकों के जीवन में समृद्धि आएगी। भगवान लंबोदर की कृपा से कार्य सफल होंगे। लंबे समय से चल रही तकलीफों का अंत होगा। बिजनेस में उन्नति के अवसर मिलेंगे। शत्रु कमजोर पड़ेंगे। आध्यात्मिक गतिविधियों में रुझान बढ़ेगा। अपने अंदर सकारात्मक बदलाव महसूस करेंगे।

वृश्चिक राशि पर शोभन और त्रिग्रही योग का प्रभाव

वृश्चिक राशि वालों के लिए संकष्टी चतुर्थी लाभकारी रहेगी। कार्यस्थल पर शुभ समाचार मिलेगा। वाहन खरीदने के योग हैं। पिछले निवेश से अच्छा मुनाफा मिलेगा। सहकर्मियों के साथ सामंजस्यता बढ़ेगी। प्रेम संबंध में प्रगाढ़ता महसूस करेंगे। नया जॉब मिलने के योग है।

कुंभ राशि पर शोभन और त्रिग्रही योग का प्रभाव

संकष्टी चतुर्थी कुंभ राशि के लिए भाग्यशाली रहेगा। धन आगमन के नए दरवाजे खुलेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। सुख-सुविधाओं से जीवन व्यतीत करेंगे। सामाजिक कार्यों से सफलता मिलेगी। विवाहित युगल के संबंधों में मधुरता आएगी। 

डिस्क्लेमर - इस जानकारी का आधार उत्तर भारत में प्रचलित ज्योतिष शास्त्र है। केवल उन्हीं पाठकों के लिए प्रकाशित की जा रही है जो उत्तर भारतीय ज्योतिष में आस्था रखते हैं। स्पष्ट किया जाता है कि कृपया इस जानकारी के आधार पर अपने जीवन से संबंधित कोई फैसला नहीं लें। इसके लिए कृपया किसी विद्वान ज्योतिषी से संपर्क करें।

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।
Tags

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !