Sprite- कबाड़ से कमाई के लिए प्रोडक्ट की पहचान बदली - Hindi Business News

कोका कोला कंपनी ने दुनिया में तीसरे नंबर पर सबसे ज्यादा बिकने वाली ड्रिंक स्प्राइट की पहचान बदल दी है। सन 1961 से स्प्राइट ग्रीन कलर की बोतल में मिलती थी परंतु अब ट्रांसपेरेंट बोतल में मिलेगी। बिजनेस इंसाइडर ने बताया है कि ग्रीन कलर की बोतल को रिसाइकल करना मुश्किल हो गया था। बाजार में ग्रीन कलर के रिसाइकल प्रोडक्ट की डिमांड नहीं थी। इसलिए कंपनी ने बोतल का कलर बदल दिया। अब स्प्राइट के कबाड़-कचरे को रीसायकल करना आसान हो जाएगा। 

कोका कोला कंपनी ने बताया कि नई बोतल में स्प्राइट पेश करने की शुरुआत 1 अगस्त 2022 से नॉर्थ यूएस से होगी। इसके बाद अन्य देशों में पहुंचाया जाएगा। स्प्राइट की बोतल का ग्रीन कलर उसकी पहचान है। यह दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा पी जाने वाली सॉफ्ट ड्रिंक है। सन 1961 में जब पहली बार स्प्राइट को लांच किया गया था तब वह हरे रंग की बोतल में थी और तब से लेकर अब तक स्प्राइट की बोतल के कलर में कोई परिवर्तन नहीं किया गया।

बिजनेस इनसाइडर की रिपोर्ट के अनुसार बोतल का कलर बदलने के पीछे एक बड़ी वजह है। इसे रिसायकल किया जा सकता है, लेकिन ट्रांसपेरेंट बोतले नहीं बनाई जा सकती है। इसे रिसाइकल करके हरे रंग के प्रोडक्ट ही बनाए जा सकते हैं। बाजार में हरे रंग की बोतल की डिमांड नहीं है। इसलिए स्प्राइट की हरी बोतलों का कचरा बढ़ा रहा है। जो मैनेजमेंट के लिए सिरदर्द बन गया है। अब देखना यह है कि क्या पब्लिक ट्रांसपोर्ट बोतल को उतना ही प्यार देगी जितना ग्रीन कलर की बोतल को देती थी। कहीं बोतल के बदलने के कारण प्रोडक्ट की बिक्री तो प्रभावित नहीं हो जाएगी।