Small business ideas- ना मशीन ना दुकान, टीम बनाओ पैसे कमाओ

यह जमाना एंटरप्रेन्योरशिप का है। भारत के युवा ट्रेडिशनल बिजनेस को भी कुछ नए तरीके से कर रहे हैं। बिना पूंजी या बहुत कम लागत वाला स्टार्टअप शुरू करते हैं लेकिन एक बात का ध्यान रखते हैं कि पोटेंशियल बहुत ज्यादा होना चाहिए। यदि किस्मत अच्छी हुई तो करोड़ों का कारोबार। यह एक ऐसा ही बिजनेस आइडिया है। ना मशीन ना दुकान, टीम बनाओ और पैसे कमाओ। 

स्कूल और कॉलेज के टाइम में ज्यादातर स्टूडेंट्स की टीम लीडरशिप निखर कर सामने आ जाती है। आज के जमाने में जो व्यक्ति एक टीम को लीड कर सकता है, वह अनलिमिटेड पैसा कमा सकता है। लोकल डिलीवरी कंपनी एक ऐसा स्टार्टअप है जो मेट्रो सिटीज में काफी तेजी से ग्रोथ कर रहा है। कहीं ऑनलाइन पोर्टल और मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च हो चुके हैं। करोड़ों का कारोबार भी हो रहा है। अब बारी, छोटे शहरों की है। 

जोमाटो और स्विग्गी का नाम तो आपने सुना ही होगा। यह भी डिलीवरी कंपनी है। हजारों करोड़ का कारोबार करने वाली कंपनी अभी आप के बाजार में 100% पकड़ नहीं बना पाई हैं। आज भी लोग अपने आसपास की दुकानों से सामान खरीदना पसंद करते हैं। अपने शहर की परिचित दुकान से सामान खरीदते हैं। सबसे बड़ी प्रॉब्लम होती है डिलीवरी की। 

दुकानदार डिलीवरी ब्वॉय अप्वॉइंट नहीं कर सकता, क्योंकि उसके पास इतने आर्डर नहीं होते। लोगों के पास टाइम नहीं है। आपको इसी प्रॉब्लम को सॉल्व करना है। अपनी कंपनी का एक बहुत अच्छा सा नाम रखना है और सोशल मीडिया के जरिए सबको बताना है। लोग आपको आर्डर देंगे। बताएंगे कि उन्हें किस दुकान से क्या सामान चाहिए। सामान का पैसा दुकानदार को ट्रांसफर हो जाएगा। डिलीवरी चार्ज आपको मिलेगा। 

धीरे-धीरे दुकानदार भी आप को हायर करने लगेंगे और अपने परमानेंट ग्राहकों के यहां डिलीवरी के लिए आपको कॉन्ट्रैक्ट देने लगेंगे। काम थोड़ा सा भी बढ़ जाएगा तो आप अपनी वेबसाइट और मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च कर सकते हैं। काम बहुत ज्यादा बढ़ जाए तो आप अपना वेयरहाउस बना सकते हैं। यह कारोबार आपको अपने शहर में फेमस कर देगा, जिसकी शुरुआत के लिए आपको केवल एक टीम की जरूरत है। जो विश्वसनीय हो। और हां, यूनिफॉर्म जरूरी है।