जो लड़की माता-पिता को धोखा दे सकती है..:प्रॉपर्टी डीलर का सुसाइड नोट- BHOPAL NEWS

मैं जीना चाहता था। मेरी पत्नी, सास-ससुर और साले ने जीने नहीं दिया। मुझे आत्महत्या के लिए उकसाया। मुझे हर तरीके से प्रताड़ित किया। आरोप भी लगाए कि तुम छोटी जाति के हो। मेरी धर्मपत्नी आरती जिसको मैंने दिलो-जान से चाहा, जिससे लव मैरिज की थी। आज वह मुझे धोखा देकर मेरे घर से बहुत सारा सामान और जेवरात ले जा चुकी है। 

इससे पहले 2013 में भी वह जेवरात लेकर चली गई थी। मुझसे झूठ बोला उसने। ससुर गणेश सिंह कुशवाह यह बोलता है कि तुम (जाति) ने हमारे 30 साल तक जूते नहीं उठाए। मुझे जाति के नाम पर कलंकित किया। मैंने 14 साल पहले लव मैरिज की थी। शायद उसका बदला मुझसे अब लिया जा रहा है। सास-ससुर ने बोला- तुझे अब कहीं का नहीं छोड़ेंगे। तूने हमारी जाति पर कलंक लगाया है। मेरी पत्नी उनकी बातों में आकर मुझे लगातार 2 साल से प्रताड़ित कर रही थी। 

मुझे मारा गया, पीटा गया, काटा गया, नोंचा गया। लेकिन मैंने कभी डर से किसी को बताया नहीं। मेरे ससुर ने भी मुझ पर कई बार हाथ उठाए। सास-ससुर,साला और मेरी पत्नी इन लोगों ने मिलकर मुझे कई बार प्रताड़ित किया। मेरी दोनों फूल सी बच्चियों से दूर कर दिया। मैंने हमेशा इनकी सुख-दुख में मदद की। पर मेरी पत्नी अपने माता-पिता के कहने पर बोलती है कि तू आत्महत्या कर ले, तू मर जा। मैंने हमेशा अपनी पत्नी को अच्छा रखना चाहा, पर मैं शायद गलत था। मुझे नहीं मालूम था कि जो लड़की अपने माता-पिता को धोखा दे सकती है। वह मुझे भी एक दिन धोखा दे देगी। 

मैंने आरती को बहुत आगे बढ़ाने की कोशिश की। गाड़ी सिखाई, ब्यूटी पार्लर का कोर्स करवाया। शायद यही गलतियां मेरे लिए भारी पड़ रही हैं। इनका पूरा खानदान ही खराब है। मेरी 35 साल उम्र हो चुकी है। 14 साल शादी के हो चुके हैं। अब मैं क्या करूं, मेरी दूसरी शादी करने की हिम्मत नहीं है। मैंने कभी जीवन में ऐसा नहीं सोचा कि मैं दूसरी शादी कर लूंगा। इन लोगों की वजह से मुझे आत्महत्या करनी पड़ रही है। 

यह शायद मेरा आखिरी मैसेज है। मुझे इंसाफ चाहिए। मुझे इंसाफ जरूर दिलवाना, क्या गरीबों की सुनवाई नहीं है? यह लोग पैसे वाले हैं। पैसे के दम पर कुछ भी कर सकते हैं। अगर मुझे इंसाफ नहीं मिला, तो मेरी आत्मा भटकती रहेगी।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कोलार थाना क्षेत्र में प्रॉपर्टी डीलर विनय रजक उम्र 36 साल की डेड बॉडी उनके घर में फांसी के फंदे पर झूलती हुई मिली। यह सुसाइड नोट उन्होंने व्हाट्सएप पर अपनी फैमिली के ग्रुप में डाला था। पुलिस ने मामले की इन्वेस्टिगेशन शुरू कर दी है। भोपाल की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया bhopal news पर क्लिक करें।