JU की असिस्टेंट प्रोफेसर से 3 लोगों ने रेप किया, और 2 लाख रूपये भी ले लिए - GWALIOR NEWS

ग्वालियर।
मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्थित जीवाजी यूनिवर्सिटी असिस्टेंट प्रोफेसर से रेप का मामला सामने आया है। महिला ने 9 साल पहले मेट्रिमोनियल साइट पर शादी के लिए ID बनाई थी। इसके बाद तीन अलग-अलग लोगों ने उसे कॉल किया। तीनों आरोपियों ने खुद को पुलिसकर्मी बताया। महिला को शादी का झांसा देकर कई बार दुष्कर्म किया। मामले में मंगलवार रात केस दर्ज किया गया। 

42 वर्षीय महिला जीवाजी यूनिवर्सिटी में बतौर असिस्टेंट प्रोफेसर पदस्थ है। 9 साल पहले 2013 में मैंने मेट्रिमोनियल वेबसाइट पर शादी के लिए आईडी बनवाई थी। उसके जरिए सत्यप्रकाश तिवारी ने मुझसे संपर्क किया। वह खुद को गोंडा, लखनऊ और बहरीन में रहने वाला बताता था। उसने शादी का झांसा देकर दो साल तक मेरा शारीरिक शोषण किया। इस बीच, जरूरत बताकर 50 हजार रुपए भी ले लिए। 2015 में जेयू स्थित क्वार्टर में आकर रेप किया। जब मैंने सत्यप्रकाश के बारे में पता लगाया, तो उसके तेवर बदल गए। उसने बदनाम करवाने की धमकी देकर फिर रेप किया। इसके बाद उसने मेरा मोबाइल नंबर ब्लैक लिस्ट में डाल दिया। मैं सत्यप्रकाश से धोखा खाकर टूट गई थी। 

2019 में सनोज नाम के युवक ने इसी वेबसाइट का हवाला देकर मुझसे संपर्क किया। उसने खुद को कॉन्स्टेबल बताया। कहा- वह उज्जैन में पदस्थ है। सनोज ने कहा- वह शादी के लिए राजी है। विवाह से पहले उज्जैन बुलाया। वहां होटल में ले जाकर सनोज ने मेरे साथ रेप किया। घर पर पैसों की जरूरत बताकर मुझसे 51 हजार रुपए लिए। जब मैंने शादी का दबाव डाला, तो सनोज ने खुद काे शादीशुदा बता दिया। धमकी दी कि अगर किसी से शिकायत की, तो मुझे मरवा देगा, क्योंकि उसका परिवार जेल में है। 

ठगी का सिलसिला यहीं थमा। इसी वेबसाइट का हवाला देकर बजरंग लाल नाम के युवक ने मुझसे संपर्क किया। उसने खुद को RPF (रेलवे पुलिस फोर्स) में सिपाही बताया। बोला- उसकी दिल्ली में गहरी पैठ है। मेरी बहन की नौकरी रेलवे पुलिस में लगवा देगा। उसके बाद शादी करेगा। इसके बाद बताया कि शादी से पहले उसने नोएडा में एक फ्लैट लिया है। उसमें 2 लाख रुपए कम पड़ रहे हैं। इस पर एक लाख रुपए मैंने उसे नेट बैंकिंग के जरिए दे दिए। इसके बाद वह मुकर गया और धमकाने लगा। इसके बाद किसी शिवकुमार शर्मा का फोन मेरे पास आया। उसने भी इसी वेबसाइट के जरिए संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन तीन बार ठगने के बाद मैं अलर्ट थी।

मामले में सीएसपी रत्नेश तोमर का कहना है कि पीड़िता की शिकायत पर रेप और ठगी का केस दर्ज किया है। आरोपी एक ही गिरोह के हो सकते हैं, उनकी तलाश की जा रही है। ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.