गुना में 151 सरकारी स्कूल बंद करने का प्रस्ताव- MP EDUCATION NEWS

गुना।
मध्य प्रदेश के गुना जिले में 151 सरकारी स्कूल बंद करने का प्रस्ताव तैयार हो गया है। मार्च के महीने में यह प्रस्ताव राज्य शिक्षा केंद्र के पास भेज दिया जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में तैयार हुए प्रस्ताव में बताया गया है कि इन स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या 15 से कम है, इसलिए इन्हें बंद कर दिया जाना चाहिए। 

जिला शिक्षाधिकारी चंद्रशेखर सिंह सिसोदिया का कहना है कि अभी बीच सत्र में इन स्कूलों को बंद नहीं किया जा सकता है, लेकिन मार्च में विद्यार्थियों की परीक्षा के बाद इन स्कूलों को पास के स्कूलों में मर्ज कर दिया जाएगा। बताया गया है कि इनमें से ज्यादातर स्कूलों में 2-2 शिक्षक पदस्थ हैं। यह भी बताया गया है कि इन स्कूलों के क्षेत्र में आने वाले विद्यार्थी प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने जाते हैं, सरकारी स्कूलों में एडमिशन नहीं लेते। 

शिक्षक हटाने चाहिए थे, स्कूल बंद कर रहे हैं

नौकरशाह जो चाहते हैं, किसी न किसी बहाने से कर ही लेते हैं। गुना के जिला शिक्षा अधिकारी के प्रस्ताव में जो जानकारियां दी गई हैं उसके हिसाब से स्कूल के आस-पास विद्यार्थियों की संख्या मौजूद है लेकिन स्कूलों में एडमिशन नहीं है। स्पष्ट है कि स्कूलों में योग्य शिक्षक तैनात नहीं है। पेरेंट्स अपने बच्चों को इन शिक्षकों के पास पढ़ने भेजना नहीं चाहते। ऐसी स्थिति में शिक्षक बदलने चाहिए, लेकिन स्कूल बंद किए जा रहे हैं।

कम एडमिशन वाले स्कूल अतिथि शिक्षकों को अनुबंध के आधार पर दे दो 

एक प्रस्ताव यह भी हो सकता है। जिन स्कूलों में एडमिशन कम है वहां नियमित शिक्षकों को हटाकर अतिथि शिक्षकों को स्कूल भवन अनुबंध के आधार पर दे दिया जाए। शर्त निर्धारित कर दी जाएगी यदि एडमिशन नहीं होंगे तो वेतन भी नहीं मिलेगा। यदि एडमिशन हो जाए तो स्कूल के संचालन का खर्चा और अतिथि शिक्षकों का वेतन भुगतान कर दिया जाए। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.