GWALIOR में सिंधिया सरकार- भोपाल से आए ADG को ज्वाइन ही नहीं करने दिया

ग्वालियर
। राजनीति में महाराजा होना इसे कहते हैं। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उनकी अनुमति के बिना भोपाल से ट्रांसफर होकर ग्वालियर आए श्रीनिवास वर्मा आईपीएस को एडीजी के पद पर ज्वाइन ही नहीं होने दिया। जिन्होंने प्रमोशन देकर वाली और भेजा था वह भी कुछ नहीं कर पाए। श्री वर्मा को छुट्टी पर जाना पड़ा।

हाल ही में मध्य प्रदेश शासन के गृह विभाग मंत्रालय द्वारा भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अफसरों की प्रमोशन सूची जारी की गई थी। प्रमोशन के साथ उन्हें नवीन पदस्थापना भी दी गई। आईजी रैंक के अधिकारी श्रीनिवास वर्मा आईपीएस को प्रमोट करके एडीजी बनाया गया और ग्वालियर पदस्थापना दी गई। श्री वर्मा शासन के निर्देशानुसार गृह सचिव के पद से रिलीवो कर ग्वालियर पहुंच गए परंतु एडीजी के पद पर चार्ज नहीं ले पाए। 

बताया गया है कि श्रीनिवास वर्मा आईपीएस की पदस्थापना केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की अनुमति के बिना कर दी गई थी। इसलिए उन्हें चार्ज नहीं दिया गया। उनके स्थान पर श्री गौरव राजपूत आईपीएस को चार्ज दिया गया है। श्री वर्मा गृह मंत्रालय से रिलीव हो चुके हैं और ग्वालियर में चार्ज नहीं मिला। कोई ऑप्शन नहीं था इसलिए छुट्टी पर चले गए।  ग्वालियर की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया GWALIOR NEWS पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here