INDORE NEWS- खेड़ापति हनुमान प्रॉपर्टी विवाद में तहसीलदार का फैसला खारिज

इंदौर।
ग्राम पलास्याहाना स्थित खेड़ापति हनुमान मंदिर संपत्ति विवाद में जूनी इंदौर तहसीलदार श्री सुदीप मीणा द्वारा 10 अगस्त 2021 को दिए गए फैसले को अपर कलेक्टर श्री पवन जैन ने खारिज कर दिया। अपर कलेक्टर ने सूओ मोटो (स्वत: संज्ञान) पुनरीक्षण के दौरान पाया कि तत्कालीन पुजारी महंत रामकृष्णदास गुरू जगन्नाथ दास द्वारा अवैध कब्जा किया गया एवं खेड़ापति हनुमान की संपत्ति को अपनी निजी संपत्ति बताया। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा गलत तरीके से जमीन का डायवर्सन कर दिया गया। अपर कलेक्टर ने अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए हैं। दोषी अधीक्षक भू-अभिलेख के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई इसकी सूचना नहीं दी गई। 

इंदौर खेड़ापति मंदिर विवाद- अपर कलेक्टर ने स्वत: संज्ञान लेते हुए पुनरीक्षण किया

इंदौर कलेक्टर कार्यालय द्वारा प्रेस को बताया गया कि खेड़ापति मंदिर के तत्कालीन पुजारी महंत रामकृष्णदास गुरू जगन्नाथ दास द्वारा अवैध कब्जा किया गया था। उक्त प्रकरण में तहसीलदार जूनी इंदौर को शासन हित में मध्यप्रदेश भू राजस्व संहिता, 1959 की धारा 248 के अंतर्गत निराकरण किया जाना था। जो उनके द्वारा नहीं किया जाना पाया गया। तब उक्त प्रकरण को अपर कलेक्टर श्री पवन जैन द्वारा स्वत: संज्ञान में लेते हुये पूरे मामले का पुनरीक्षण किया गया। 

प्रॉपर्टी के मालिक खेड़ापति हनुमान हैं, मंदिर के पुजारी नहीं: अपर कलेक्टर

अपर कलेक्टर श्री जैन ने बताया कि पुनरीक्षण के दौरान पाया गया कि प्रश्नाधीन भूमि खेडापति हनुमान मंदिर हेतु तात्कालीन पुजारी को पूजा अर्चन हेतु दी गई थी। इससे स्पष्ट है कि प्रश्नाधीन भूमि के स्वामी श्री खेड़ापति हनुमान होकर उस पर अनावेदक का कब्जा मात्र पूजा अर्चन हेतु सौंपा गया था। खेड़ापति हनुमान मंदिर के तत्कालीन पूजारी द्वारा तथ्यों को छिपाते हुए राजस्व अधिकारी से भूमि का व्यपवर्तन कराया गया है, जबकि पुजारी प्रश्नाधीन भूमि के स्वामी नहीं है। 

अधीक्षक भू-अभिलेख की गलती के कारण गड़बड़ी हुई

अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा व्यपवर्तन करते समय पुजारी व्दारा प्रस्तुत राजस्व अभिलेखों का गंभीरता अध्ययन किए बिना व्यपवर्तन किया गया है, जो स्थिर रखे जाने योग्य नहीं है। अपर कलेक्टर श्री पवन जैन द्वारा अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा परिवर्तित भूमि इंदौर में पारित आदेश निरस्त करते हुये प्रश्नाधीन भूमि पर निर्मित संरचना को तत्काल हटाकर भूमि का कब्जा प्राप्त करने के आदेश दिये गये।

14 अक्टूबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP TRIBAL- अतिथि विद्वानों की भर्ती हेतु जॉब नोटिफिकेशन
BHOPAL JOBS- पॉलिटेक्निक कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर की भर्ती
MPPSC 19-20 RESULT और 2021 विज्ञापन के लिए प्रदर्शन
JU GWALIOR JOBS- गेस्ट फैकल्टी भर्ती शुरू
MP BOARD NEWS- 10th-12th विशेष परीक्षा रिटोटलिंग और सप्लीमेंट्री एग्जाम का टाइम टेबल
MP GOVT JOBS- बालाघाट और छतरपुर में अस्थाई शिक्षक भर्ती
DAVV RESULT- 8 परीक्षाओं के परिणाम जारी
केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन करने का लास्ट चांस
सरकारी नौकरी- BU BHOPAL में असिस्टेंट प्रोफेसर बैकलॉग सीधी भर्ती विज्ञापन
MP NEWS- ग्राम रोजगार सहायक की सेवा समाप्त
सरकारी नौकरी के अवसर- नगरीय निकायों में बंपर भर्ती आने वाली है

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiखरगोश पानी क्यों नहीं पीते, क्या बिना पानी के जिंदा रह सकते हैं
GK in Hindiबाघ की जीभ में कांटे क्यों होते हैं, इंसानों के प्रति व्यवहार कैसा है
GK in Hindiहवाई जहाज की स्पीड कितनी होती है, 1973 में क्यों घटाई गई थी
GK in Hindiअंडा तो बंद होता है फिर चूजे को ऑक्सीजन कहां से मिलती है, जिंदा कैसे रहता है
GK in Hindi- 3 प्रकार के विवाह, जिसमें लड़की को पत्नी का कानूनी अधिकार नहीं मिलता है 
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here