NO-1 INDORE की सड़कें पानी में डूबी, जरा सी बारिश में तालाब हो जाता है शहर

इंदौर
। यह शहर मध्य प्रदेश का अभिमान है। कई मामलों में भारत का नंबर वन शहर है परंतु कुछ मामलों में यह शहर शर्मसार करता है। साफ सफाई के मामले में जिस नगर निगम की सारी दुनिया में तारीफ की जाती है वहीं नगर निगम बारिश के पानी की निकासी का उचित प्रबंध नहीं कर पाया। मात्र 2 इंच की बारिश में शहर की सड़कें पानी में डूब गई। कई इलाके जलमग्न हो गए।

इंदौर शहर के मध्य क्षेत्र के इलाके चंद्रभागा, चम्पाबाग, कलालकुई, भाट मोहल्ला, जूनी इंदौर, गंगवाल, मल्हारगंज, सरवटे, जवाहर मार्ग तोड़ा, हरसिद्धि, मच्छी बाजार से लेकर छत्रीबाग के कई इलाके जलमग्न हो गए। लोगों के घरों में पानी भर गया। शहर में कचरा फैलाने वालों से जुर्माना वसूलने वाले नगर निगम को इन लोगों को मुआवजा देना चाहिए।

निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल ने इस मामले में अफसरों को निर्देश दिए हैं कि जल जमाव वाले क्षेत्रों का सर्वे कर पूरी रिपोर्ट तैयार करें और उनके कारण भी स्पष्ट किए जाएं। साथ ही इन क्षेत्रों में नई स्टार्म वाटर लाइन बिछाने के प्रस्ताव तैयार कर काम शुरू कराया जाए। स्टार्म वाटर लाइनों को चैनलाइज करने के साथ-साथ इस बात का भी खास ध्यान रखा जाए कि वहां दोबारा जल जमाव की स्थिति न बने। 

जिन क्षेत्रों में पहले से स्टार्म वाटर लाइनें बिछी हैं, वहां साफ-सफाई से लेकर उन्हें चैक करने के लिए निगम की टीमें भी भेजी जा रही हैं, ताकि उनमें फंसे कचरे को हटाया जा सके। अधिकांश मुख्य मार्गों पर बिछाई गई स्टार्म वाटर लाइनों की सफाई का अभियान भी निगम ने बारिश के चलते काफी समय से शुरू कर दिया है।

08 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- आउटसोर्स कर्मचारियों पर कंट्रोल के लिए गाइडलाइन
BHOPAL NEWS- वीआईपी रोड पर ये क्या हो रिया है, वीडियो वायरल
MP CORONA NEWS- सावधान, नागपुर-मुंबई में तीसरी लहर शुरू, एमपी से डायरेक्ट कनेक्ट है
मंदिर की संपत्ति का मालिक कौन, सुप्रीम कोर्ट का महत्वपूर्ण फैसला
MP EMPLOYEE NEWS- पंचायत विभाग के कर्मचारी भी अनुग्रह योजना के पात्र
INDORE NEWS- साध्वी के बैग में मानव खोपड़ी और हड्डियां मिलीं, एयरपोर्ट पर रोका
MP NEWS- मध्यप्रदेश में उपचुनाव तैयारियों का प्रथम चरण समाप्त, EVM की जांच का काम पूरा

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiबिजली के तार को कैसे पता होता है, पंखे को 60 वाट और एसी को 1160 वाट बिजली देना है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
GK in Hindiशहद की बोतल पर एक्सपायरी डेट क्यों नहीं होती
GK in Hindiयदि पृथ्वी के 4 टुकड़े हो जाएं तो क्या सभी वैसे ही घूमते रहेंगे
GK in Hindiदर्पण के पीछे कौन सा पदार्थ लगा होता है, जो पारदर्शी से परावर्ती बन जाता है 
GK in Hindiभगवान विष्णु विश्राम मुद्रा में क्यों रहते हैं, सिंहासन पर क्यों नहीं बैठते
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here