MP NEWS- टाइम पर टीकाकरण से भड़के सांसद, मेरा इंतजार क्यों नहीं किया

इंदौर
। धार महू लोकसभा क्षेत्र से सांसद छतर सिंह दरबार प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर टाइम पर टीकाकरण शुरू हो जाने से भड़क गए। दरअसल, सांसद कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने में लेट हो गए थे। वह इस बात से नाराज थे कि उनका इंतजार क्यों नहीं किया गया। उनके आने से पहले टीकाकरण क्यों शुरू कर दिया गया।

मैं क्यों लेट हुआ, इसकी आपको पहले जानकारी लेना थी: सांसद ने कहा

मनावर में आयोजित टीकाकरण कार्यक्रम में सांसद छतर सिंह दरबार को आमंत्रित किया गया था लेकिन सांसद समय पर नहीं पहुंचे। टीकाकरण कार्यक्रम निर्धारित समय पर शुरू कर दिया गया। देरी से आए सांसद ने जब यह देखा तो भड़क गए। BMO डॉक्टर जीएस चौहान से बोले- मेरा इंतजार नहीं कर सकते थे। 10 मिनट ही तो देरी हुई है। उन्होंने कहा- ध्यान रखना था कि सांसद को बुलाया है। किसी विधायक या सरपंच वगैरह को नहीं बुलाया है। मैं सांसद हूं, समझ में नहीं आ रहा है। सांसद ने कार्यक्रम में BMO को सबके सामने मंच पर बुलाकर लताड़ दिया। सांसद ने चिल्लाकर कहा कि अधिकारियों को प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए था। प्रधानमंत्री का जन्मदिन है। मैं क्यों लेट हुआ, इसकी आपको पहले जानकारी लेना थी। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान मंच पर मनावर विधायक डॉ. हीरालाल के अलावा पूर्व मंत्री रंजना बघेल भी मौजूद थे। 

पूरे 45 मिनट देरी से आए थे सांसद 

मनावर में शुक्रवार को प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर शुरू हुए टीकाकरण महाअभियान में सांसद छतरसिंह दरबार ने गुस्से में BMO डॉक्टर जीएस चौहान को स्टेज पर जमकर खरी-खोटी सुनाई। उन्हें इस बात पर नाराजगी थी कि उनके आने से ही पहले चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित कर दिया, जबकि वे कार्यक्रम में करीब 45 मिनट देर से पहुंचे थे।

क्या प्रोटोकॉल में इंतजार करने का प्रावधान है 

सांसद छतर सिंह दरबार में जोर देकर कहा कि अधिकारियों को प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। मध्यप्रदेश के जागरूक नागरिकों के लिए यह अध्ययन का विषय हो सकता है कि क्या प्रोटोकॉल में मुख्य अतिथि के इंतजार का प्रावधान है और वह भी तब जबकि कोरोनावायरस जैसी महामारी से लोगों को बचाने के लिए टीकाकरण जैसा कार्यक्रम किया जा रहा है। एक सवाल और भी है, क्या प्रोटोकॉल में सांसदों को कार्यक्रम स्थल पर समय पर पहुंचने का प्रावधान नहीं किया गया है। यदि नहीं, तो क्यों ना ऐसे प्रोटोकॉल को संशोधित कर दिया जाए। ताकि जनता को टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण काम के लिए किसी सांसद का इंतजार न करना पड़े। 

देरी के लिए क्षमा मांगते हैं, नाराज नहीं होते 

मध्यप्रदेश में राजनीति की स्वस्थ परंपरा रही है। यहां यदि कोई नेता किसी कार्यक्रम में देरी से पहुंचता है तो वह इसके लिए आयोजकों एवं जनता से क्षमा मांगता है। 45 मिनट की देरी को अपना अधिकार नहीं मानता। संगठन को सांसद से स्पष्टीकरण लेना चाहिए क्योंकि इस तरह की गतिविधियां जनता के बीच संगठन की छवि को धूमिल करती हैं। 

सांसद छतर सिंह दरबार के सामान्य ज्ञान का वीडियो, आप भी देखिए 



19 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP NEWS- महिला डांसर के साथ शिक्षक के ठुमके वायरल
MP NEWS- लोकायुक्त को देखते ही नोटों की गड्डी फेंककर भागा डिप्टी रेंजर, गिरफ्तार
GWALIOR NEWS- कलेक्टर और सीएमएचओ के बीच विवाद, डॉ मनीष ने इस्तीफा दिया
मध्य प्रदेश मानसून- 7 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, 5 संभागों में रिमझिम होती रहेगी
JABALPUR MP NEWSअमित शाह के कार्यक्रम में मंत्री विजय शाह का हाई वोल्टेज ड्रामा
char dham yatra guidelines 2021चार धाम यात्रा 2021-22 के लिए गाइडलाइन जारी 
MP NEWS- चयनित शिक्षकों की नियुक्ति के लिए हलचल तेज
MP CPCT स्कोरकार्ड की वैधता वाला आदेश जारी, यहां पढ़िए
MP BOARD NEWS- लो सिलेबस में भी संशोधन, त्रैमासिक परीक्षा के लिए, यहां पढ़िए
BHOPAL NEWS- शासकीय उचित मूल्य दुकान के लिए आवेदन बुलाए
MP NEWS- 7.50 किलो की देव प्रतिमा पानी में नहीं डूबी, तैरती रही

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशिवलिंग पर जल क्यों चढ़ाते हैं, कोई वैज्ञानिक कारण है या बस परंपरा
GK in Hindiशेरों के शिकार की परंपरा क्यों बनाई, उसका तो मांस भी नहीं खाया जाता
GK in Hindiगेहूं की रोटी में हवा कैसे भर जाती है, ज्वार और मक्का की रोटी में क्यों नहीं भरती
GK in Hindiजब अमेरिका 110V बिजली से जगमगाता है तो भारत में 220V बिजली सप्लाई क्यों की जाती है
GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here