MP NEWS- 7.50 किलो की देव प्रतिमा पानी में नहीं डूबी, तैरती रही

इंदौर
। डोल ग्यारस के अवसर पर मध्यप्रदेश के देवास जिले के हाटपिपलिया में हजारों लोगों के सामने 7.50 किलो वजन वाली भगवान नृसिंह की पत्थर की प्रतिमा को बहती नदी में छोड़ा गया लेकिन प्रतिमा पानी में नहीं डूबी। सतह पर तैरती रही। पुजारी ने एक बार नहीं बल्कि 3 बार प्रतिमा को पानी में छोड़ा लेकिन हर बार पत्थर की मूर्ति नदी की सतह पर तैरती रही। 

सदियों पुरानी परंपरा- आने वाला साल सुख समृद्धि लाएगा 

दरअसल, यह सदियों पुरानी परंपरा है। हर वर्ष डोल ग्यारस के अवसर पर नरसिंह मंदिर से डोल निकाले जाते हैं जो नदी के घाट तक पहुंचते हैं। यहां पुजारी द्वारा स्नान करने के बाद भगवान नरसिंह की प्रतिमा को नदी में प्रवाहित किया जाता है। ऐसा लगातार तीन बार किया जाता है। प्रतिमा पत्थर की बनी हुई है और उसका वजन 7.5 किलो है। प्रतिमा के पानी में डूबने अथवा सतह पर तैरने के आधार पर आने वाले साल की भविष्यवाणी की जाती है। इस साल तीनों बार प्रतिमा नदी की सतह पर तैरती रही। इस दौरान नदी के किनारों पर लगभग 10,000 नागरिक उपस्थित थे।

2005 में एक बार तैरी थी प्रतिमा

वर्ष 2011, 12 में प्रतिमा दो बार तैरी थी। वर्ष 2016, 17 व 18 में भी प्रतिमा तीन बार तैरी थी। इसके पूर्व वर्ष 2005 में प्रतिमा एक ही बार तैरी थी। कोरोना काल में भी सिर्फ इस परंपरा को निभाया गया था। इस बार प्रतिमा तैराने वाले राहुल वैष्णव ने बताया तैराने वाला पहले सवा महीने की साधना करता है। इस सवा महीने भर वह मंदिर में ही रहकर पूजा-अर्चना कर भक्ति करता है। सवा महीने बाहरी चीजों का त्याग करता है। ऐसी मान्यता है कि यदि प्रतिमा तीन बार तैरी तो पूरा वर्ष अच्छा निकलेगा।

18 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

JABALPUR में POST OFFICE एजेन्ट चयन हेतु इंटरव्यू की सूचना
EMPLOYEE NEWS- मात्र 1 साल पुराने कर्मचारियों को भी ग्रेच्युटी मिलेगी
MP NEWSमंत्राइन की चप्पल में लगे कीचड़ को साफ करने समर्थकों में होड़
MP NEWS- मंदसौर में CMO गिरफ्तार, किसान से रिश्वत लेने का आरोप, लोकायुक्त की कार्रवाई
MP NEWS- मात्र 35000 की सैलरी में चार आलीशान बंगले, लग्जरी लाइफ
MP POLICE अनुसचिवीय बल ASI का वेतन भृत्य केे बराबर क्यों है - Khula Khat
सोमवार से शिक्षक भर्ती शुरू हो जाएगी: अब मुख्यमंत्री ने कहा
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का सिलेबस जारी, यहां पढ़िए
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का संशोधित टाइम टेबल जारी
BHOPAL NEWS- रेलवे ने प्लेटफार्म टिकट सस्ते किए
MPBOU BHOPAL की सलाहकार मैडम सुर्खियों में, आइएएस अफसर पर नेपोटिज्म का आरोप

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiशेरों के शिकार की परंपरा क्यों बनाई, उसका तो मांस भी नहीं खाया जाता
GK in Hindiगेहूं की रोटी में हवा कैसे भर जाती है, ज्वार और मक्का की रोटी में क्यों नहीं भरती
GK in Hindiजब अमेरिका 110V बिजली से जगमगाता है तो भारत में 220V बिजली सप्लाई क्यों की जाती है
GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com