MP POLICE अनुसचिवीय बल ASI का वेतन भृत्य केे बराबर क्यों है - Khula Khat

निवेदन है कि मध्य प्रदेश पुलिस विभाग में कार्यरत अनुसचिवीय बल को पद तो सहायक उप निरीक्षक दिया गया है किन्तु वेतनमान भृत्य के अनुसार 19000/- मासिक प्राप्त होता है। इसके विपरीत इसी विभाग में ही पदस्थ अनुसचिवीय स्टेनो को उप निरीक्षक के पद अनुसार पूर्ण वेतन 36000/- प्राप्त हो रहा है। 

जिससे कि अनुसूचीवय सउनि बल अपने आप में तुलनात्मक रूप से हीन भाव महसूस करता है। जबकि अनुसचिवीय स्टेनो से 10 गुना अधिक कार्य हम अनुसचिवीय सउनि बल संपादित करते है। महोदय बताना चाहूंगा कि जब अनुसचिवीय स्टेनो पद को उप निरीक्षक की समानता व वेतन दी जा रही है तो हम अनुसचिवीय सउनि बल को भृत्य क्यों समझा जा रहा है। 

यह शासन एवं विभाग की दोहरी नीति है। कार्य व पारिश्रमिक के नाम पर हम सउनि बल का शोषण किया जाता रहा है। जिससे हमारा मनोबल भी छीन होता है। आगे निवेदन है कि उक्त दोनों पदों का कार्य एव वेतन का तुलनात्मक परीक्षण कर समानता लाई जाए। 
समस्त अनुसचिवीय सउनि बल - पुलिस विभाग मध्यप्रदेश

17 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मध्य प्रदेश मानसून- 3 जिलों बादल तोड़, 28 जिलों में मूसलाधार वर्षा की चेतावनी
MP NEWS- मध्य प्रदेश में राशन की दुकानों का संचालन महिलाएं करेंगी: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा
MP BOARD- त्रैमासिक परीक्षा का सिलेबस जारी, यहां पढ़िए
MP NEWS- BANK MANAGER के यहां लोकायुक्त का छापा, संपत्ति, सोना और 20 लाख कैश बरामद
RAILWAY NEWS - भोपाल-बिलासपुर एक्सप्रेस अब डेली चलेगी
INDORE NEWS- मॉडल श्रेया कालरा के खिलाफ FIR दर्ज
सोमवार से शिक्षक भर्ती शुरू हो जाएगी: अब मुख्यमंत्री ने कहा - MP NEWS
पुलिस, शिक्षक, पटवारी भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी: CM शिवराज सिंह
MP NEWS- भ्रष्ट कर्मचारियों को नौकरी करने लायक नहीं रहने देंगे: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiगेहूं की रोटी में हवा कैसे भर जाती है, ज्वार और मक्का की रोटी में क्यों नहीं भरती
GK in Hindiजब अमेरिका 110V बिजली से जगमगाता है तो भारत में 220V बिजली सप्लाई क्यों की जाती है
GK in Hindiदुनिया की पहली डामर रोड कहां और कब बनी थी
GK in Hindiशेरनी के नुकीले दांतों से शावक घायल क्यों नहीं होते, जब गर्दन पकड़ कर उठाती है
GK in Hindiउल्लू घोंसला क्यों नहीं बनाते, खंडहर में क्यों रहता है
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here