तू मेरे पापा को मार डाल, मैं तेरी गर्लफ्रेंड बन जाऊंगी: 17 साल की लड़की ने हत्यारे को ऑफर दिया था

ग्वालियर
। कलेक्टर कार्यालय की निर्वाचन शाखा में पदस्थ रवि दुबे की हत्या के मामले का खुलासा कर दिया गया है। पुलिस ने दावा किया है कि रविदत्त दुबे की 17 साल की छोटी बेटी ने पूरी प्लानिंग के साथ उनका मर्डर करवाया है। पहले वह अपने बॉयफ्रेंड के जरिए हत्या करवाना चाहती थी परंतु जब उसने साफ मना कर दिया तो उसके दोस्त को फंसाया। ऑफर दिया कि यदि तू मेरे पापा का मर्डर कर देता है तो मैं करण को छोड़कर तेरी गर्लफ्रेंड बन जाऊंगी।

घटना का विवरण
ग्वालियर के थाटीपुर के तृप्ति नगर निवासी 58 वर्षीय रविदत्त दुबे पुत्र ओमप्रकाश दुबे कलेक्टोरेट के निर्वाचन शाखा में क्लर्क थे। वह 4-5 अगस्त की दरमियानी रात खाना खाने के बाद अपने घर की पहली मंजिल पर परिवार के साथ सोए हुए थे। कमरे में उनकी पत्नी भारती, बड़ी बेटी कृतिका दुबे, 17 वर्षीय बेटी, बेटा 12 वर्षीय रूपेन्द्र सो रहे थे। रात करीब 2 बजे अचानक कमरे में धमाके की आवाज आई और जब सभी जागे तो बिस्तर पर रवि के पेट व मुंह से खून निकल रहा था। उनकी मृत्यु हो चुकी थी। 

सबसे पहले आत्महत्या का मामला माना गया

पुलिस इन्वेस्टिगेशन के दौरान फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने बताया कि गोली बहुत नजदीक से लगी है। किसी व्यक्ति के घर के अंदर आने के निशान नहीं मिले थे। कमरा पहली मंजिल पर ऐसी जगह था कि बाहर से गोली नहीं चलाई जा सकती थी। पुलिस इसे आत्महत्या का मामला मान रही थी परंतु समझ नहीं पा रही थी कि परिवार के लोग हथियार क्यों नहीं दे रहे हैं। सुसाइड मोटिव भी क्लियर नहीं हो रहा था।

सबसे पहले शक की सुई बड़ी बेटी पर गई

पुलिस पड़ताल में पता चला है कि बड़ी बेटी की शादी राम मोहन शर्मा निवासी भिंड से हुई थी। उसका पति से विवाद चल रहा है और वह अपने मायके में रह रही है। पुलिस ने इस रिश्ते को हर एंगल से चेक किया परंतु ना तो इसके कारण आत्महत्या की स्थिति बन सकती थी और ना ही हत्या की। 

बॉयफ्रेंड के हाथों पिता की हत्या करवाना चाहती थी

तमाम सवालों के जवाब की तलाश में पुलिस की इन्वेस्टिगेशन 17 वर्षीय छोटी बेटी तक पहुंची। पहली इंफॉर्मेशन मिली कि किसी करण राजौरिया नाम के लड़के से इसका अफेयर चल रहा है। बेटा रविदत्त दुबे को इसके बारे में जानकारी हो गई थी उन्होंने करण राजौरिया के साथ मारपीट भी की थी। पुलिस तेजी से एक्टिव हुई क्योंकि करण के पास हत्या करने का मोटिव भी था। पूछताछ में पता चला कि करण को हत्या के बारे में कोई जानकारी नहीं थी लेकिन यह भी पता चला कि रवि दत्त दुबे की छोटी बेटी ने करण से अपने पिता की हत्या करने के लिए कहा था परंतु करण ने साफ इंकार कर दिया था। 

दोस्त को फंसाया, बोली: पापा को मार दिया तो तेरी गर्लफ्रेंड बन जाऊंगी 

पुलिस ने लड़की की कॉल डिटेल निकाली तो एक और चौंकाने वाली जानकारी मिली। पिता द्वारा करन की पिटाई के बाद 23 जुलाई से वो लगातार पुष्पेन्द्र लोधी नाम के लड़के से बात कर रही थी। पुलिस ने राउंडअप किया तो सारी कहानी सामने आ गई। जब बॉयफ्रेंड ने हत्या करने से इंकार कर दिया तो लड़की ने उसके दोस्त को बातों के जाल में फंसाया। बताया कि इस मर्डर करने से बहुत सारा पैसा मिलेगा और वो खुद भी करण को छोड़कर उसकी उसकी गर्लफ्रेंड बन जाएगी।

हत्या कैसे की गई 
पूरी प्लानिंग के साथ हत्याकांड को अंजाम दिया गया। लड़की ने पुष्पेंद्र को रात 10:00 बजे ही घर के अंदर बुला लिया था। उसे पता था ग्राउंड फ्लोर पर कोई नहीं होता। उसने पुष्पेंद्र को एक रूम में बंद कर दिया। ऊपर जब सब सो गए तो रात 2:00 बजे पुष्पेंद्र को नींद से जगा कर लाई और पिता की हत्या करवाने के बाद उसे सफलतापूर्वक फरार करवा दिया। पूरे समय ऐसे ड्रामा करती रही जैसे उसे बहुत दुख है।

15 अगस्त को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

MP CORONA NEWS- मरीजों की संख्या 100 के पार, पड़ोसी महाराष्ट्र में 63,262
MP EMPLOYEE NEWSसंविदा लेखापालों को 2800 ग्रेड पे देने के आदेश, राज्य शिक्षा केंद्र हाईकोर्ट में हारा
INDORE NEWS- वाल्मीकि समाज बम्बई बाजार की सफाई नहीं करेगा
MP COLLEGE ADMISSION- शिक्षा विभाग के कॉलेजों में BEd के प्रवेश का कार्यक्रम जारी
MP NEWS- सीएम राइज स्कूलों की प्लानिंग में शामिल होने का आमंत्रण
GWALIOR NEWS- तिरंगा लगा रहे 3 कर्मचारी हादसे का शिकार, मौत
BHOPAL NEWS- अब तो रेडियो वाले भी सड़कों का मजाक उड़ाने लगे
यदि पड़ोसी ने नाली बंद कर दी तो उचित कार्रवाई कौन करेगा नगरपालिका या SDM - CrPC Section 147
भारतीय विमानों पर VT क्यों लिखा होता है, इसे हटाने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर दबाव क्यों बनाया जा रहा है, पढ़िए
Hindi News- भारत में प्रीपेड बिजली मीटर लगाने की प्रक्रिया शुरू
MP EMPLOYEE NEWS- असिस्टेंट प्रोफेसर के टर्मिनेशन ऑर्डर पर हाई कोर्ट का स्टे
BHOPAL में भारत माता की जय पर प्रतिबंध था, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस नहीं मना था

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiकार का साइलेंसर पीछे, ट्रक का साइड में और ट्रैक्टर का सामने क्यों होता है
GK in Hindiअंग्रेजी के अक्षरों में i और j के ऊपर बिंदी क्यों लगाई जाती है
GK in Hindiमाचिस की तीली किस लकड़ी से बनती है, माचिस का आविष्कार किसने और कब किया 
GK in Hindiदुबई के सभी शेख अमीर क्यों होते हैं, कोई कंगाल क्यों नहीं होता
GK in Hindi- वह कौन सी संख्या है जिसे रोमन में नहीं लिखा जा सकता
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com