GWALIOR NEWS- निचली बस्तियों में घुसा पानी, बारिश का चौथा दिन

ग्वालियर
। गुरुवार को लगातार जिले में बारिश का चौथा दिन है। कल रात हल्की बारिश के बाद सुबह से जमीन में बैठने वाले पानी का दौर देखने को मिल रहा है। इस दौरान कहीं तेज तो कहीं रिमझिम बारिश होती रही। उधर लगातार बारिश से जिले के नदी-नाले उफान पर आ गए हैं। बारिश से मौसम सुहाना हो गया है। बारिश से सडक़ों पर चहल-पहल कम नजर आ रही है। 

सुबह जल्द खुली रहने वाली दुकानें भी बंद नजर आई। इधर शहर में लगातार हो रही बारिश के कारण कॉलोनियों में कीचड़ के साथ पानी की निकासी की समस्या खड़ी हो रही है। लगातार बारिश के कारण कई वार्डों में नालियां चौक होने से बारिश का पानी सडक़ों पर बह रहा है। नगर-निगम ने पानी की निकासी के लिए कोई व्यवस्था नहीं की है। 

बड़ी संख्या में कच्चे हैं मकान

लगातार बारिश से सडक़ों का पानी गोल पहाडिय़ा क्षेत्र, लक्ष्मीगंज रोड से सटे संजय नगर, और तिघरा मार्ग से लगी कई निचली बस्तियों में पानी भर गया है। ऐहतियात के तौर पर अब तक संबंधित विभाग अलर्ट नहीं है। इसी प्रकार सतत वर्षा से स्वर्ण रेखा नाला में पानी ऊपर चल रहा है। 

निकासी नहीं होने से घरों में घुसा पानी

बस स्टैंड पर पानी भर गया है। कई खेतों ने पानी भरने से तालाब का रूप ले लिया। सुबह से ही कई प्रमुख मार्ग पर आवागमन बंद सा देाने को मिल रहा है। इधर नदी किनारे के गांवों में परेशानी बढ़ गई है। इस वजह से तिघरा के आसपास और हरसी के पास के गांव के लोगों को डर है।

पिकनिक पसंदों की बल्ले-बल्ले

लगभग तीन साल बाद ऐसा मौसम बना है, जब लोग पिकनिक का मजा जमकर ले पा रहे हैं। पहले पानी ठीक से नहीं बरसा, बीते साल कोरोना के चलते वह बरसात का मजा नहीं ले सके, इस बार भी आषाढ़ और सावन के सूखे आगाज से परेशान थे, लेकिन जब सिस्टम बना तो फिर सारे गिले शिकवे दूर हो गए। बरसात की झड़ी लग गई और पिरनिक पसंदों की बल्ले-बल्ले हो गई। आज तो लोग सुबह से ही अपने मित्रों और परिवार के साथ पिकनिक स्थानों की ओर रवाना हो गए, तिघरा पर तो जबरदस्त भीड़ है, वहीं भदावना पर लोग गिरते झरने के आसपास जमकर सेल्फी लेकर अपनी यादों को स्थायी बना रहे हैं, वहीं व्यंजनों का भी खूब स्वाद चख रहे हैं।

नाश्ते की दुकानों पर भीड़, घर में भी बदला मैन्यू

बरसात के मौसम में व्यंजन कुछ अधिक ही जायकेदार लगने लगते हैं। यही कारण है कि आज सुबह से मंगोड़े, कचौड़ी, समोसे, पकौड़ी खाने वालों की भीड़ शहर के उन स्थानों पर जुट रही है, जहां इस स्वाद को तैयार किया जाता है, फिर वह ठेले, गुमटी हों या बड़ी दुकान। चाय की भी खूब चुस्कियां ली जा रहीं हैं। उधर घरों में भी रोटी सब्जी और दाल की जगह ऐसे ही व्यंजनों की खुशबू महक रही है। यही नहीं लोग बाजार से समोसे, कचौड़ी और पकौड़ी पैक कराकर घर ले जाकर ले रहे हैं।

29 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

EMPLOYEE NEWS- एरियर्स और डीए पर कोई समझौता नहीं करेंगे: कर्मचारी संघ 
NATIONAL NEWS- ग्राम पंचायत से बनेंगे ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, पैन कार्ड और आधार कार्ड
BHOPAL NEWS- गृह मंत्री का कथित पीए सस्पेंड, ऑडियो वायरल के बाद हुई कार्रवाई
BHOPAL NEWS- वैक्सीन नहीं लगवाने वाले शिक्षकों का 1 महीने का वेतन कटेगा
मध्य प्रदेश मानसून- 9 जिलों के लिए रेड अलर्ट, 31 जुलाई तक खतरा रहेगा
MP NEWS- नगरीय निकाय चुनाव कब होंगे, मंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया
AIRTEL NEWS- मोबाइल की इनकमिंग 62% महंगी हुई
JABALPUR NEWS- बाउंस चेक की वैल्यू कितनी होती है, समझना है तो इस मामले को पढ़िए 
INDORE NEWS- उषा ठाकुर फेम सस्पेंडेड डिप्टी रेंजर का बहाली के बिना ट्रांसफर
INDORE सहित मध्यप्रदेश में घर बैठे ड्राइविंग लाइसेंस मिलेगा, डिप्टी कमिश्नर RTO ने नई तारीख बताई
MP NEWS- कमलनाथ को झटका, दिग्विजय सिंह ने विभा को दिखाकर अर्चना को बिठा दिया
 

महत्वपूर्ण, मददगार एवं मजेदार जानकारियां

GK in Hindiजालसाज व्यक्ति को 420 क्यों कहते हैं ​
GK in Hindiकागज के ग्लास में पानी गर्म करें तो पहले कागज जलेगा या पानी
GK in Hindiरानियों के रेशमी वस्त्र किससे धुलते थे, वाशिंग पाउडर तो था नहीं
GK in Hindiपुष्पक विमान किस ईंधन से चलता था, पेट्रोल और बैटरी तो उस समय होते नहीं थे
GK in Hindi- हिटलर की मूछें टूथब्रश जैसी क्यों थी, योद्धाओं जैसी क्यों नहीं, पढ़िए
:- यदि आपके पास भी हैं ऐसे ही मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here