Loading...    
   


JABALPUR: युवक का शव फांसी पर मिला, पत्नी मायके चली गई थी - MP NEWS

जबलपुर।
 मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में आठ महीने से पैरालिसिस की बीमारी से जूझ रहे 32 वर्षीय युवक ने पंखे में गमछा बांधकर आत्महत्या कर ली। उसकी पत्नी रूठ कर मायके चली गई थी। वहीं बड़े भाई से भी उसकी बहस हो गई थी। शाम को केंट पुलिस भी उसकी शिकायत पर गई थी, लेकिन देर रात वह फंदे से झूल गया। शनिवार सुबह उसकी कमरे में लटकी लाश मिली।    

केंट पुलिस ने बताया कि संजय गांधी नगर निवासी देव कुमार कुशवाहा (32) को आठ महीने पैरालिसिस हो गया था। उसकी जुबान व एक पैर में इसका असर आया था। अधिक असर जुबान पर हुआ था और वह ठीक से बोल नहीं पाता था। बीमारी के बाद उसकी पत्नी से अक्सर झगड़ा होता रहता था। परेशान होकर उसकी पत्नी रुठ कर मायके में रहने लगी थी। उसकी देखभाल बड़ा भाई कमल कुशवाहा कर रहा था। शुक्रवार को देव कुमार का बड़े भाई कमल कुशवाहा से विवाद हो गया था। बहस के चलते देव कुमार ने थाने में शिकायत की थी। इस पर पुलिस पहुंची थी। केंट पुलिस ने कमल कुशवाहा को समझाया था। सब कुछ ठीक हो गया था। रात में देव कुमार ने खाना भी खाया। इसके बाद वह कमरे में सोने चला गया था।

कमल कुशवाहा के मुताबिक सुबह नौ बजे वह भाई केा जगाने के लिए दरवाजा खटखटाया, लेकिन किसी ने नहीं खोला। मोहल्ले वालों की मदद से किसी तरह दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंचे। अंदर देव कुमार पंखे से गमछा बांधकर फंदे से लटका था। कमल ने इसकी सूचना केंट पुलिस को दी। केंट पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है।

22 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here