Loading...    
   


पहला टीका की जल्दबाजी में ANM की मौत, रेलवे ट्रैक क्रॉस करते समय हुआ हादसा - MP NEWS

भोपाल
। मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में कोरोनावायरस वैक्सीन का पहला टीका लगाने के लिए ANM चंदा सोनी का चयन किया गया था। पहला टीका लगवाने के लिए तेजी से जा रही महिला कर्मचारी रेलवे क्रॉसिंग पर ट्रेन की चपेट में आ गई। उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। 

कोरोनावायरस वैक्सीन का टीका लगने से पहले ही मौत

होशंगाबाद जिले के डोलरिया स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ एएनएम चंदा सोना पति जगदीश प्रसाद सोना 40वर्ष डबलफाटक पर शनिवार सुबह 8.30 बजे हादसे का शिकार हो गई। पहुंचने में कहीं देर ना हो जाए इसलिए फाटक बंद होने के बावजूद भतीजी से पैदल चलते हुए रेलवे ट्रैक पार कर रही थी। ठीक उसी समय इटारसी की तरफ से एक सुपरफास्ट ट्रेन आ गई। आसपास खड़े लोगों ने तेजी से आवाज लगाई और चंदा ने ट्रेन को आते हुए देखा तो घबरा गई एवं गलत दिशा में दौड़ लगा दी। ट्रेन की चपेट में आने से एएनएम का महिला का शरीर कई टुकड़ों में बिखर गया। घटना की जानकारी लगने के बाद आरपीएफ, जीआरपी व सिटी कोतवाली का अमला मौके पर पहुंचा। जीआरपी में मर्ग केस दर्ज कर लिया गया है।

पूरी घटना रेलवे के सीसीटीवी कैमरे में कैद

डबलफाटक पर हुई घटना वहां लगे कैमरे में रिकार्ड हुई है। कैमरे में स्पष्ट नजर आ रहा है कि एएनएम पटरी पार कर रहीं थीं। इसी दौरान अचानक ट्रेन आते हुए दिखती है तो वह ट्रेन की दिशा में ही दौड़ लगा देती हैं, कुछ ही पल में ट्रेन वहां से गुजर जाती हैं। घटना को देख वहां मौजूद लोग भी बुरी तरह घबरा गए थे। इटरनेट मीडिया पर एक बात और सामने आई है कि महिला ने कान में हैडफोन लगाया हुआ था जिसके कारण ट्रेन की आवाज नहीं सुन सकी। बीएमएमओ का कहना है कि चंदा पांच साल से अस्पताल में पदस्थ थी, उसके पास कीपेड वाला मोबाइल था व हैडफोन का उपयोग नहीं करती थी। 

कोरोना संक्रमण काल में बिना छुट्टी लिए लगातार काम किया था

डोलरिया अस्पताल की बीएमओ डॉ चंदन चावड़ा ने बताया कि चंदा सोना काम के प्रति ईमानदार कर्मचारी थीं। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी चंदा ने काफी मेहनत की थी व लोगों को मदद उपलब्ध कराई। बिना कोई अवकाश लिए वह अपने कार्य में जुटी हुईं थी। शनिवार सुबह पांच बजे डोलरिया की एक महिला डिलेवरी कराई थी व उसके बाद सुबह आठ बजे होशंगाबाद जाने के लिए निकली थी।

सहकर्मियों से कहा था जल्दी आ जाऊंगी

सुबह ड्यूटी खत्म कर जब वे घर जा रहीं थी तो सहकर्मियों से कहा था कि शाम को जल्दी ड्यूटी पर आ जाउंगी। बीएमओ डॉ चावड़ा ने बताया कि एएनएम चंदा सोना को शनिवार शाम चार बजे डोलरिया में वैक्सीन लगनी थी उनका सूची में 19वें नंबर पर नाम था। चंदा के पति जगदीश प्रसाद सोना जिला चिकित्सालय में नेत्र सहायक हैं। नवीन जिला जेल के पास घर है, परिवार में दो बेटियां हैं बड़ी बेटी 9वीं व छोटी बेटी 7वीं में पढ़ रही हैं।

16 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here