Loading...    
   


REWA की लड़की ने पति का सिर दीवार में दे मारा, मौत, गिरफ्तार - MP NEWS

जबलपुर
। मध्य प्रदेश के रीवा की रहने वाली एक लड़की ने छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अपने पति का सिर दीवार से दे मारा। इस हमले में पति की मौत हो गई। पुलिस ने पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि वारदात के समय लड़की के साथ उसका एक और दोस्तों मौजूद था। हत्या करने के बाद लड़की वापस रीवा आ गई थी और रायपुर पुलिस के बुलाने पर फिर से रायपुर पहुंच गई थी।

कंचन ने हर्षिता को कॉल करके बताया था कि विनय बेहोश है

दो दिन पहले डीडी नगर क्षेत्र में सरोना स्थित मकान में विनय चंद्र शुक्ला का शव मिला था। इसकी जानकारी पुलिस को विनय की भतीजी हर्षिता ने दी थी। उसने बताया था कि विनय की पत्नी कंचन ने रीवा से उसे कॉल किया था और विनय के मकान में बेहोश पड़े होने की सूचना दी थी। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो विनय की मौत हो चुकी थी। इसके बाद पुलिस ने शुक्रवार को रीवा से कंचन को रायपुर बुलाया।

कंचन ने झूठ बोला और पकड़ी गई, फिर हत्या का खुलासा हुआ

हर्षिता ने पुलिस को बताया था कि विनय और कंचन के बीच आपसी संबंध ठीक नहीं थे। आसपास पूछताछ में यह भी पता चला कि 8 दिसंबर को एक महिला और एक युवक विनय से मिलने आए थे। जिस शोरूम में विनय काम करता था, वहां से भी पता चला कि वह 8 दिसंबर को दफ्तर से जल्दी चला गया था। जबकि कंचन इससे इनकार करती रही कि वह रायपुर आई भी थी।

स्वर्ण आभूषण और रुपयों को लेकर दोनों के बीच विवाद था

कॉल डिटेल से पता चला कि कंचन घटना वाले दिन रायपुर में थी। पूछताछ में उसने बताया कि परिवार वालों को बिना बताए वह अपने एक साथी हरिओम कुशवाहा के साथ रायपुर आई थी। इसकी जानकारी विनय को भी नहीं थी। यहां रुपयों के लिए पति झगड़ने लगी। गुस्साए विनय ने कंचन से उसकी सोने की चेन और रुपए मांगे इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद बढ़ गया।

दीवार से सर टकराते ही विनय बेहोश होकर गिर गया

विनय ने कंचन का गला पकड़ लिया। यह देखकर हरिओम ने विनय पर हमला कर दिया। कंचन ने भी अपने पति को धक्का मारा तो वह पास ही पड़ी खाट से टकरा कर चोटिल हो गया। दोबारा उठकर विनय ने हमला करने का प्रयास किया तो कंचन और हरिओम ने मिलकर उसका सिर दीवार से टकरा दिया। इससे विनय बेहोश होकर गिर पड़ा। काफी खून बहने से उसकी मौत हो गई।

कंचन का दोस्त फरार है

विनय की मौत के बाद हरिओम और कंचन घबरा गए। कंचन ने उसका मोबाइल अपने पास रख लिया और मकान में बाहर से ताला लगाकर भाग गई। बिलासपुर के रास्ते होते हुए हरिओम के साथ रीवा चली गई। 10 दिसंबर को कंचन ने खुद विनय की भतीजी हर्षिता को फोन किया और उसके बेहोश होने की जानकारी दी। इस मामले में कंचन का साथी हरिओम कुशवाहा फिलहाल फरार है।

12 दिसंबर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here