Loading...    
   


PAYTM APP पर जुआ को प्रमोट करने का आरोप, गूगल ने प्ले स्टोर से हटाया, UPDATE: वापस आया - TECH NEWS

नई दिल्ली।
भारत के सबसे ज्यादा प्रचलित पेमेंट एप पेटीएम पर जुआ खिलाने वाली वेबसाइट को प्रमोट करने का आरोप है। गूगल ने पेटीएम के मोबाइल ऐप को अपने प्ले स्टोर से हटा दिया है। Update: Paytm ने एक स्टेटमेंट में कहा है कि कंपनी गूगल की पॉलिसी रिक्वॉरमेंट के तहत अब कैशबैक कॉम्पोेनेंट हटा रही है। हालांकि कंपनी ने कहा है कि ये अस्थाई तौर पर है। गूगल नीतियों का पालन करने के बाद पेटीएम एक बार फिर प्ले स्टोर पर उपलब्ध। 

PAYTM APP को गूगल प्ले स्टोर से क्यों हटाया गया

Google ने अपने Blog में Paytm पर नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए कहा है कि 'हम किसी Gambling (जुआ खेलने वाले), ऑनलाइन कैश वाले गेम्स ऐप का समर्थन नहीं करते है।' गूगल ने बताया कि इसमें वे ऐप शामिल हैं जो ग्राहकों को किसी ऐसी बाहरी वेबसाइट पर जाने के लिए प्रेरित करते हैं, जो धनराशि लेकर खेलों में पैसा या नकद पुरस्कार जीतने का मौका देती है। बताया गया है कि कि 'PayTM First Games' के जरिए पैसे जीतने का दावा करती है लेकिन गूगल की नीति के चलते अब आप प्ले स्टोर से पेटीएम को डाउनलोड नहीं कर सकेंगे। 

क्या गूगल की कार्रवाई के बाद पेटीएम बंद हो जाएगा

फिलहाल Paytm ऐप सिर्फ उन लोगों के मोबाइल में काम कर रहा है जिनके पास पहले से ही ये इंस्टॉल है, लेकिन इस समय गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) से ऐप के नए डाउनलोड संभव नहीं हैं। हालांकि Paytm से जुड़े अन्य ऐप, जैसे पेटीएम मनी, पेटीएम मॉल और बिजनेस पेटीएम अभी भी डाउनलोड के लिए गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) पर उपलब्ध हैं। 

क्या है Google की नीतियां?

गौरतलब है कि 18 सितंबर को गूगल ने एक बयान जारी कर कहा कि वो ऑनलाइन कैसिनो या खेल सट्टेबाजी की सुविधा देने वाले किसी भी अनियमित जुआ ऐप का समर्थन नहीं करता है। अगर कोई ऐप उपभोक्ताओं को बाहरी वेबसाइट की ओर ले जाती है, जो उन्हें असली पैसे या नकद पुरस्कार जीतने के लिए टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति देता है, तो यह हमारी नीतियों का उल्लंघन है।

क्या गूगल ने प्ले स्टोर से हटाने से पहले पेटीएम को नोटिस दिया था

जब भी कोई ऐप इन नीतियों का उल्लंघन करता है, तो सबसे पहले हम उल्लंघनकर्ता को सूचित करते हैं और उसके बाद ही ऐप को प्ले स्टोर से हटाने की कार्रवाई करते हैं। ये कार्यवाही तब तक जारी रहती है जब तक कि ऐप को गूगल की नियामक शर्तों के दायरे में नहीं लाता जाता है। उस मामले में जहां बार-बार पॉलिसी उल्लंघन होते हैं, हम अधिक गंभीर कार्यवाही कर सकते हैं, जिसमें गूगल प्ले के डेवलपर खातों को समाप्त करना शामिल है। हमारी नीतियों को सभी डेवलपर्स पर लगातार लागू किया जाता रहता है।

18 सितम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here