Loading...    
   


शिक्षक भर्ती से पहले अतिथि शिक्षकों को नियमित करे सरकार: अतिथि शिक्षक समन्वय समिति / EMPLOYEE NEWS

भोपाल। अतिथि शिक्षक समन्वय समिति मध्यप्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह परिहार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से मांग की है कि शिक्षक भर्ती करने से पहले अतिथि शिक्षकों को नियमित करें। विगत तेरह वर्ष से बहुत ही अल्प मानदेय पर सेवाएं देने वाले अतिथि शिक्षकों का भविष्य अंधकारमय हो गया है। 

अतिथि शिक्षकों को  तेरह वर्ष शासकीय विद्यालयों में कार्य करने के बाद भी शिक्षक भर्ती में बोनस अंक नहीं देना घोर अन्याय है। पच्चीस प्रतिशत आरक्षण देने से अतिथि शिक्षकों को कोई लाभ नहीं है। आरक्षण की वजह से हजारों अतिथि शिक्षक मेरिट में होने के बाद भी बाहर हो गए हैं।

कोर्ट में याचिका लगाकर स्टे लेंगे
अतिथि शिक्षक समन्वय समिति के कार्यकारी अध्यक्ष चंद्रशेखर राय और प्रदेश उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने बताया है कि संगठन शीघ्र शिक्षक भर्ती पर स्टे लगवाएगा। 

महाराज और शिवराज से सुरक्षित भविष्य की आस
संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी पी डी खेरवार,अनीता हरचंदानी,रविशंकर दहायत , इंद्रपाल पटेल, दिलावर हसन ने बताया है कि हमें महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी पर पूरा भरोसा है। उप चुनाव से पहले अतिथि शिक्षकों का भविष्य सुरक्षित करेंगे।

04 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

जब खून लाल है तो नसों का रंग नीला क्यों होता है
बर्फ ठंडी होती है, फिर उसमें से भाप क्यों निकलती है
MP BOARD 10th-12th EXAM RESULT कब आएगा, यहां पढ़िए
SSC EXAM 2020 DATE घोषित, शेड्यूल जारी
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
छतरपुर में युवा कर्मचारी ने CMO की पत्नी को गोलियां मारीं
इंदौर में व्यापारी के गोदाम से नोटों से भरे बोरे बरामद
जबलपुर में DTH की छतरी ने ली महिला की जान
CBSE 12th EXAM NOTIFICATION जारी, यहां पढ़िए
शिवराज सिंह की संभावित कैबिनेट में कितने कांटे, आइए गिनते हैं
पालतू कुत्तों की पूंछ क्यों काट दी जाती है
आम रास्ते में रुकावट पैदा करने वाले के खिलाफ किस धारा के तहत FIR दर्ज होती है
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
PNB सेविंग अकाउंट होल्डर के लिए बुरी खबर
MUMBAI के तूफान का MADHYA PRADESH पर क्या असर पड़ेगा, यहां पढ़िए
राजेंद्र शुक्ला ने सोनू सूद के बहाने शिवराज सिंह के गाल पर तमाचा मारा
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
ओवरलोड बस का चालान बनता है, ओवरलोड नाव का क्या होता है, यहां पढ़िए
PNB सेविंग अकाउंट होल्डर के लिए बुरी खबर
शिवपुरी में पंचायत सचिव तबादला घोटाला: एक्शन के इंतजार में इन्वेस्टिगेशन रिपोर्ट


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here