Loading...    
   


इंदौर: कोरोना मरीज की मौत 16 दिन तक ​छुपाए रखी / INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश की व्यवसायिक राजधानी इंदौर में कोरोना महामारी से मरीजों की मौत की आधिकारिक जानकारी मीडिया के साथ देरी से साझा किए जाने के मामले बार-बार सामने आ रहे हैं और इस विलम्ब से स्वास्थ्य विभाग के रवैये पर सवाल उठ रहे हैं। ताजा मामले में कोविड-19 से एक मरीज की मौत की जानकारी 16 दिन तक मीडिया से छुपाए रखी गई।

21 मई को मौत हुई थी, बुलेटिन में 16 दिन बाद बताया

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद यहां अलग-अलग अस्पतालों में तीन मरीजों की मौत हो गई इनमें शामिल 61 वर्षीय पुरुष ने एक निजी अस्पताल में 12 दिन तक चले इलाज के बाद 21 मई को दम तोड़ा था। हालांकि, इस मरीज की मौत की आधिकारिक जानकारी इसके 16 दिन बाद स्वास्थ्य विभाग के शनिवार रात जारी नवीनतम बुलेटिन में दी गई है

कोरोना महामारी के सरकारी आंकड़ों की विश्वसनीयता को लेकर संदेह

जिले में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों का आधिकारिक ब्योरा देरी से दिए जाने को लेकर प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस के साथ ही गैर-सरकारी संगठन आरोप लगा रहे हैं कि स्वास्थ्य विभाग इन मौतों का खुलासा अपनी सुविधानुसार कर रहा है जिससे महामारी के सरकारी आंकड़ों की विश्वसनीयता को लेकर संदेह पैदा होता है। इन तीन नए मामलों के बाद जिले में कोविड-19 से दम तोड़ने वाले मरीजों की तादाद 156 पर पहुंच गई है

हम जल्द ही सारी विसंगतियां दूर कर लेंगे: CMHO

प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) एमपी शर्मा ने कहा, ‘हम कोविड-19 से मरीजों की मौत की जानकारी देरी से दिए जाने पर संबंधित अस्पतालों से लगातार जवाब-तलब कर रहे हैं’ उन्होंने कहा, ‘हम कोविड-19 से मरीजों की मौत के रिकॉर्ड की अपने स्तर पर भी पड़ताल कर रहे हैं। हमें उम्मीद है कि इस सिलसिले में सारी विसंगतियां जल्द दूर हो जाएंगी’इस बीच अधिकारियों ने बताया कि इंदौर में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 27 नए मामले मिले हैं। इसके साथ ही जिले में संक्रमितों की कुल तादाद 3,722 से बढ़कर 3,749 हो गई है

उन्होंने बताया कि इलाज के बाद स्वस्थ होने पर अब तक जिले के 2,390 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है। कोविड-19 का प्रकोप कायम रहने के कारण इंदौर जिला रेड जोन में बना हुआ है। जिले में इस प्रकोप की शुरुआत 24 मार्च से हुई, जब पहले चार मरीजों में इस महामारी की पुष्टि हुई थी


07 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मैं कांग्रेस में लौट आया हूं 'महाराज' आने वाले हैं: सत्येंद्र यादव
केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ता मामले में दिल्ली हाई कोर्ट का डिसीजन
ज्योतिरादित्य सिंधिया: बिना आग के धुंए में कौन सी खिचड़ी पका रहे हैं
एमपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा तारीख बदल सकती है
दिवालिया बैंक में जमाधन डूब जाता है तो क्या लिया गया LOAN भी नहीं चुकाना पड़ता
चिन्ह और चिह्न में से क्या सही है और क्या गलत, प्रमाण सहित उत्तर यहां पढ़िए
ज्योतिरादित्य सिंधिया: राज्यसभा चुनाव के बाद भी चैन से नहीं बैठ पाएंगे
सॉफ्ट ड्रिंक बॉटल का बेस 5 पॉइंट वाला क्यों होता है जबकि मिनरल का फ्लैट
SIM CARD का फुल फॉर्म क्या है, आविष्कार कब हुआ, कितने प्रकार की होती है
मध्य प्रदेश शासन ने सभी सरकारी/प्राइवेट स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई
MP BOARD 12th EXAM 2020: ऑनलाइन प्रवेश-पत्र की मान्यता के संबंध में संशोधित आदेश
मुख्यमंत्री ने 7 जिलों के कलेक्टर, भोपाल निगम कमिश्नर बदले
MP BOARD 12th EXAM GUIDELINE, परिजन क्वॉरेंटाइन है तो परीक्षा नहीं दे सकते
नेताजी के स्वागत में हाईवे पर खड़े रहे IG पुलिस, वर्दीधारी से चाय पेश करवाई
दवाई में मिलावट और विक्रय, किस धारा के तहत FIR दर्ज होगी, पढ़िए
CBSE 12th EXAM के लिए HELPLINE NUMBER एवं प्रमुख दिशा निर्देश


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here