Loading...    
   


ज्योतिरादित्य सिंधिया: राज्यसभा चुनाव के बाद भी चैन से नहीं बैठ पाएंगे / MP NEWS

भोपाल। ज्योतिरादित्य सिंधिया के पोलिटिकल ट्रैक पर हर्डल्स की कमी नहीं है। एक कुछ जंप करके तीन कदम आगे बढ़ते हैं कि दूसरा दिखाई दे जाता है। अब राज्यसभा के नामांकन में चूक हो गई है। कांग्रेस की शिकायत खारिज हो गई थी परंतु प्रॉब्लम सॉल्व नहीं हुई है। आफ्टर इलेक्शन ज्योतिरादित्य सिंधिया चैन से नहीं बैठ पाएंगे क्योंकि उनके इलेक्शन को कोर्ट में चैलेंज किया जाएगा।

ज्योतिराज सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी दोनों के खिलाफ इलेक्शन पिटिशन दाखिल होगी

बीजेपी के दोनों उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी की उम्मीदवारी पर कांग्रेस ने सवाल खड़ा किया है। कानूनी दांव-पेंच के जरिए दोनों को कांग्रेस उलझन में डालने की तैयारी में हैं। कांग्रेस दोनों के हलफनामे को अब कोर्ट में चुनौती देगी। इसे लेकर कांग्रेस हाईकोर्ट में इलेक्शन पिटीशन दायर करेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने कहा है कि हम लोगों ने पहले भी आपत्तियां दर्ज कराई थीं, लेकिन उनको मान्य नहीं किया गया। अब कांग्रेस के पास कोर्ट जाने का ही रास्ता बचा है।

कांग्रेस के पास इलेक्शन पिटिशन का ग्राउंड क्या है

विवेक तन्खा ने कहा ने कहा कि बीजेपी प्रत्याशियों के नामांकन फॉर्म में कई खामियां हैं। सिंधिया ने शपथ पत्र में यह बात छिपाई है कि उन पर भोपाल में केस दर्ज है। कांग्रेस ने इस बात की आपत्ति नामांकन फॉर्म जमा करने के बाद दर्ज कराई थी। जिस पर तर्क दिया था कि ज्योतिरायदित्य सिंधिया को इस बात की जानकारी नहीं है। जबकि केस दर्ज होने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का मीडिया के सामने बयान आया था। कांग्रेस सांसद तन्खा ने कहा कि सुमेर सिंह सोलंकी ने जब फॉर्म भरा था। तब तक उनका इस्तीफा मंजूर नहीं हुआ था, वो सरकारी मुलाजिम थे। चुनाव के बाद कोर्ट में ये मुद्दे उठाएंगे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ भोपाल में कौन सी FIR दर्ज है

दरअसल, यह मामला व्यापमं कांड से जुड़ा है। सितंबर 2017 में भोपाल की विशेष अदालत के न्यायधीश सुरेश सिंह के आदेश पर श्यामला हिल्स पुलिस ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, कमलनाथ और आईटी विशेषज्ञ प्रशांत पांडे के खिलाफ मामला दर्ज किया था। इनके खिलाफ कूटरचित दस्तावेज पेश करने, धोखाधड़ी में शामिल होने सहित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया था। इस परिवाद में कहा गया था कि कांग्रेस के इन नेताओं की ओर से व्यापामं घोटालों में फर्जी दस्तावेज पेश किए गए हैं।

06 जून को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

मैं कांग्रेस में लौट आया हूं 'महाराज' आने वाले हैं: सत्येंद्र यादव
छतरपुर में युवा कर्मचारी ने CMO की पत्नी को गोलियां मारीं, घटना के समय दोनों घर में अकेले थे
दिवालिया बैंक में पैसा डूब जाता है तो क्या लिया गया LOAN भी नहीं चुकाना पड़ता
सिंधिया के सवाल पर तोमर ने कहा: भाजपा किसी को पचाने में सक्षम है
CBSE 12th EXAM NOTIFICATION जारी, यहां पढ़िए
भोपाल में देह व्यापार अनलॉक, 5 लड़कियों के साथ सीहोर का किसान गिरफ्तार
धूम्रपान करने वालों के खिलाफ IPC की किस धारा के तहत FIR दर्ज होगी, क्या आप जानते हैं
इंदौर में जिस व्यापारी के यहां नोटों से भरे बोरे मिले, वो पाकिस्तानी निकला
दुनिया में जब रेजर नहीं थे, लोग सेविंग कैसे करते थे
शिवलिंग गोल होते है, फिर आधी परिक्रमा क्यों करते हैं
MP BOARD EXAM के लिए प्रवेश-पत्र जारी, यहां से डाउनलोड करें
जबलपुर में युवक ने खंडहर में नाबालिग को हवस का शिकार बनाया
चिन्ह और चिह्न में से क्या सही है और क्या गलत, प्रमाण सहित उत्तर यहां पढ़िए
SSC EXAM 2020 DATE घोषित, शेड्यूल जारी / SSC EXAM 2020 TIMETABLE
कोरोना के लक्षण दिखाई देते ही क्या करें: 1000 मरीजों का ठीक करने वाले डॉ. गोयनका के सुनिए
सीएम शिवराज सिंह गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के घर क्यों गए, जवाब की तलाश
ग्वालियर नगर निगम ने नामांतरण शुल्क 50 से 5000 कर दिया, चेंबर ऑफ कॉमर्स नाराज
बॉयफ्रेंड के साथ भागने वाली थी विवाहिता, पति ने पत्थर पर पटककर मार डाला
चुनाव की तरह सभी कर्मचारियों को कोरोना ड्यूटी पर लगाएं: कमिश्नर ग्वालियर
पेयजल को अपवित्र करना पाप ही नहीं क्राइम भी है, पढ़िए किस धारा के तहत FIR दर्ज होती है


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here