Loading...    
   


बच्चों के बयान वर्दी में नहीं ले सकती पुलिस: नई गाइडलाइन / MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को पॉक्सो एक्ट के संदर्भ में नई गाइडलाइन भेजी है। इसमें सबसे खास बात यह है कि पुलिस कर्मचारी अब बच्चों का बयान खाकी वर्दी में नहीं ले सकते। बच्चों का बयान लेने से पहले उन्हें सामान्य ड्रेस पहननी पड़ेगी।

नई गाइडलाइन के अनुसार पीड़ित बच्चे या फिर उसके परिजनों को मामले से जुड़ी चार्जशीट की कॉपी देना होगी। इस गाइडलाइन के साथ पीएचक्यू की महिला अपराध शाखा लॉकडाउन के दौरान जन जागरण अभियान भी अपने स्तर पर चला रही है। प्रदेश में होने वाले बाल अपराधों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी पुलिस मुख्यालय की महिला अपराध शाखा के पास रहती है। यही कारण है कि पुलिस मुख्यालय के निर्देश के बाद लॉकडाउन के बीच महिला अपराध शाखा जो कि प्रदेश भर में सक्रिय है, उसके द्वारा जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है। 

लोगों को किया जा रहा जागरूक

लॉकडाउन के दौरान महिला अपराध शाखा ने महिलाओं और बच्चों से संबंधित कानूनी अधिकारों के बारे में लोगों को जागरूक किया जा रहा है। साथ ही पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए भी महिला-बच्चों से संबंधित अपराधों की रिपोर्ट लिखते समय और विवेचना के दौरान पोक्सो एक्ट के साथ अन्य कानूनी प्रावधानों का बारीकी से पालन करने के संबंध में दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।

18 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कांग्रेस की गोपनीय लिस्ट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास पहुंच गई
गर्भपात के दौरान यदि महिला की मृत्यु हो गई तो जेल कौन जाएगा डॉक्टर या पति
भारत में परमाणु बम का कोड और हमले का अधिकार किसके पास होता है
इस साल स्कूल नहीं खुलेंगे तो बच्चों को कैसे पढ़ाएंगे, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया
सीबीएसई 10वीं-12वीं परीक्षा का टाइम टेबल / CBSE 10th-12th BOARD EXAM TIME TABLE
मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं होगा, IAS अफसरों को मंत्री जैसे अधिकार दे दिए
कंप्यूटर को टीवी की तरह डायरेक्ट स्विच ऑफ क्यों नहीं कर सकते
टॉयलेट के तुरंत बाद पानी पीना चाहिए या नहीं, पढ़िए
महिलाएं आटा गूंथने के बाद उस पर उंगलियों से निशान क्यों बनाती हैं, जानिए रहस्य की बात 
मनमाने बिजली बिल के मामले में चुप नहीं बैठूंगा: कमलनाथ
लॉक डाउन 4.0 भोपाल में क्या कर सकते है क्या नहीं पढ़िए
मध्यप्रदेश युवक कांग्रेस से सैंकड़ों ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों की सदस्यता बर्खास्त
कमलनाथ को पहला चुनावी झटका, कांग्रेस नेताओं की एक टीम भाजपा में शामिल
ग्वालियर: इंदरगंज में भीषण आग, 2 बच्चियों सहित 5 जिंदा जल गए, रेस्क्यू जारी
165Km/hr की स्पीड से आएगा तबाही का चक्रवाती तूफान, पढ़िए भारत में कहां तांडव करेगा
इंदौर लॉक डाउन 4.0 में: किसको कितनी छूट मिली, पढ़िए 
गर्भस्थ शिशु जिसका जन्म ही नहीं हुआ, उसकी हत्या अपराध मानी जाएगी या नहीं
टीम दिग्विजय सिंह ने श्रमिकों को भिखारी बताया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here