Loading...    
   


महिला के सातवें पति ने उसकी हत्या की फिर आत्महत्या कर ली / MP NEWS

बालाघाट। मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले के बिरसा थाने के मरारीटोला में आज एक बंद पड़े घर में पति-पत्नी के शव मिले हैं। महिला का शव नीचे पड़ा था, वहीं पति का शव फंदे से लटका हुआ था। इससे फिलहाल अंदाजा लगाया जा रहा है कि पत्नी की हत्या के बाद पति ने आत्महत्या की है। बताया जा रहा है कि मृतक महिला का सातवां पति था।  

पुलिस को घटना की जानकारी मृतक के बेटे ने दी है। पुत्र को पडोसियों से घर बंद होने की सूचना मिलने के बाद बंद पड़े मकान को खोलकर देखने पर मिली। जिसमें पहले कमरे पर महिला नाबाई चौधरी 55 वर्ष का शव मिला जबकि दूसरे कमरे को खोलते ही गमछे पर झूलता उक्त महिला के पति लोकराम चौधरी का शव मिला। ग्रामीणो के अनुसार पति-पत्नी दोनो में शराब के नशे की लत थी अत: प्रथम दृष्टया यह संभावना व्यक्त की जा रही है। नशे में दोनो के बीच कोई विवाद हुआ। जिसके बाद पति ने पत्नी की गला घोट हत्या कर खुद भी अपने ही गमछे से फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। मृत दम्पत्ति बिरसा में अलग घर में निवास करता था। 

घटना के संबंध में पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुरूवार दोपहर से दंपत्ति को घर से बाहर नहीं देखा गया और शुक्रवार सुबह घर से बदबू आने के बाद पड़ोसियो ने इसकी सूचना बाकीकुड़ा निवासी पुत्र को दी। जिसके बाद जब पुत्र रामकिशोर चौधरी घर पहुंचा और दरवाजा खोलकर देखा तो उसकी सौतेली मां 55 वर्षीय नाबाई चौधरी का शव घर के पहले कमरे में पड़ा था। जिसकी मौत हो गई, जबकि घर के तीसरे कमरे में पिता लोकराम चौधरी का शव फांसी पर लटका था। उक्त घटना की गंभीरता को देखते हुए बालाघाट मुख्यालय से एफएसएल टीम को घटनास्थल पर बुलाया गया। जहा एफएसएल टीम के एएसआई मनोज तरवरे एवं पुलिस फोटोग्राफर लोकेश चौकसे द्वारा मौके पर पहुंचकर घटना स्थल एवं आस पास का बारीकी से निरीक्षण किया गया एवं फोटोग्राफ्स लिये गये। 

बताया जाता है कि पति, पत्नी दोनो ही शराब पीते थे। जिससे संभावना व्यक्त की जा रही है कि शराब के नशे में पारिवारिक विवाद में पति ने पत्नी का गला घोंटकर हत्या कर दी, जिसके बाद उसने भी फांसी लगाकर जान दे दी। बहरहाल घटना की जानकारी मिलने के बाद बिरसा पुलिस घटनास्थल पहुंची और घर में रखे शव बरामद कर पंचनामा कार्यवाही के बाद शव का पीएम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है। मामले में बिरसा थाना प्रभारी रविकांत डहेरिया ने बताया कि प्रथमदृष्टया पारिवारिक विवाद में पति द्वारा पत्नी की हत्या कर स्वयं फांसी लगाने का मामला प्रतीत होता है। 

मामले में मर्ग कायम कर जांच में लिया गया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले में कुछ कहा जा सकता है। घटनाक्रम के अनुसार मलाजखंड ताम्र परियोजना में ठेकेदार के अंतर्गत लोकराम चौधरी काम करता था। जिसकी नाबाई दूसरी पत्नी थी। जिससे बीते 10 साल पहले लोकराम ने विवाह किया था। जिसके बाद से पति लोकराम, पत्नी नाबाई के साथ बिरसा के मरारीटोला में रहता था। जबकि उसकी पहली पत्नी के बच्चे बाकीकुड़ा में रहते थे। पुत्र रामकिशोर की मानें तो पिता बीते मंगलवार को बाकीकुड़ा से मरारीटोला गये थे।


23 मई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

कच्चे फल हरे रंग के क्यों होते हैं, पकने के बाद रंग क्यों बदल जाता है
क्या रात में मोबाइल फोन यूज करने से मोटापा बढ़ता है, पढ़िए डॉक्टर क्या कहते हैं
ग्वालियर के लोगों को झांसी या आगरा से रेल यात्रा करनी है तो विशेष पास दिया जाएगा
ग्वालियर स्टेशन से निकलने वाली ट्रेनों में सीट 30 मिनट में फुल
बच्चा चोर के खिलाफ किस धारा के तहत मामला दर्ज होता है, कितनी सजा होती है, पढ़िए
मध्य प्रदेश: उज्जैन 500 के पार, 20 जिलों में आज 189 पॉजिटिव मिले 
तीन श्रेणियों के कर्मचारियों को कार्यालय में उपस्थिति से छूट के आदेश 
यदि स्मार्टफोन में कई MOVIE और PHOTO डाउनलोड कर लें तो क्या उसका वजन बढ़ जाएगा
सिंधिया गुट के 7 विधायकों ने शिवराज सिंह से 700 करोड़ मांगे
कमलनाथ के लिए कोरोना से भी बुरी खबर, मायावती ने साथ छोड़ा, हाथ तोड़ने - हाथी छोड़ा 
लॉकडाउन 4.0 में जबलपुर में क्या खुलेगा और क्या नहीं: कलेक्टर ने बताया
तीन मजदूरों ने साथी की पत्नी को बंधक बनाकर गैंगरेप किया 
चाय में कोरोना वायरस को मारने की गुण पाए गए: IHBT डायरेक्टर का दावा
मध्यप्रदेश उपचुनाव: कांग्रेस की कमान प्रशांत किशोर के हाथ में
भिंड के 1 घर में अचानक कोबरा सांप निकलने लगे, 1 सप्ताह में 123 निकले
ज्योतिरादित्य सिंधिया पैसे लेकर कांग्रेस के टिकट बेचते थे, मेरे पास सबूत है: पूर्व मंत्री वर्मा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here