Loading...    
   


कोरोना शहीद TI चंद्रवंशी के माता-पिता को पुलिस ने गांव में घुसने से मना किया / MP NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश पुलिस के 300 इंस्पेक्टर बेहद गुस्से में है क्योंकि शाजपुर जिले के बड़ोदिया थाना पुलिस ने कोरोना वायरस के हमले से लोगों को बचाते हुए शहीद हुए टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी के माता-पिता के गांव में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। चंद्रवंशी के बैचमेट 300 नगर निरीक्षकों ने खुला ऐलान किया है कि यदि उनके साथी के माता-पिता को गांव में घुसने से रोका तो हम सब थाने में घुस जाएंगे।

पुलिस ने मृत टीआई के माता-पिता से कहा लौटकर मत आना

इंदौर में शनिवार देर रात टीआइ की मौत की सूचना शाजपुर के बड़ोदिया थाने को दी गई। चंद्रवंशी का पैतृक निवास (रनायल गांव) इसी थाना क्षेत्र में है और यहां उनके माता-पिता रहते हैं। थाने के सिपाहियों ने माता-पिता को सूचना देने के बाद कहा कि 'अंतिम संस्कार करने इंदौर जा रहे हो तो गांव लौटकर मत आना।' बेटे को अंतिम विदाई देने इंदौर आए बुजुर्ग माता-पिता ने अपना यह दर्द सुनाया और अंतिम संस्कार में मौजूद लोगों से पूछा कि बाकी क्रिया करने गांव जा पाएंगे या नहीं? वहां हमें घुसने देंगे कि नहीं?

TI चंद्रवंशी के बैचमेट साथियों में गुस्सा

इस बात का पता चलते ही चंद्रवंशी के बैचमेट रहे साथियों में गुस्सा फूट पड़ा। चंद्रवंशी की सिपाही के पद पर भर्ती हुई थी। इस दौरान उपनिरीक्षक भर्ती परीक्षा में भाग लिया और वर्ष 2007 में उपनिरीक्षक बने। साइबर के जानकार होने के कारण अफसर उन्हें पसंद करते थे। करीब 20 दिन पूर्व सर्दी-खांसी हुई तो सामान्य उपचार लेने के साथ ड्यूटी करते रहे। तकलीफ बढ़ने पर निजी अस्पताल पहुंचे जहां भर्ती कर लिया गया। कोरोना के लक्षण दिखने पर तत्काल अरबिंदो अस्पताल भिजवाया गया। आईजी विवेक शर्मा के मुताबिक उनकी हालत में सुधार होने लगा था, लेकिन रविवार को अचानक मौत हो गई। 

इंदौर में कोरोना फैला हुआ है इसलिए वापस मत आना

बड़ोदिया थाने में सूचना करवाई गई थी ताकि वे टीआइ के माता-पिता को इंदौर भेजने की व्यवस्था कर दें। रविवार तड़के पुलिसकर्मी उनके घर पहुंचे और टीआइ की मौत का समाचार सुनाया। उन्होंने यह भी कहा कि इंदौर में कोरोना फैला हुआ है। टीआइ की कोरोना के कारण ही मौत हुई है। आप उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रहे हो, इसलिए कुछ दिन गांव मत आना।

मध्य प्रदेश के 300 टीआई बड़ोदिया थाना पुलिस से नाराज

रविवार दोपहर माता-पिता ने टीआइ के घर मौजूद पुलिसकर्मियों को यह किस्सा सुनाया तो वे नाराज हो गए। एक टीआइ ने तुरंत अपना मोबाइल नंबर दिया और कहा कि कोई रोके तो मुझे फोन लगा देना। आपका बेटा हमारा बैचमेट था। हमारी बैच में 300 टीआइ हैं। किसी ने रोकने की हिम्मत भी की एक साथ थाने में घुस जाएंगे।

पीपीई किट पहनाकर वाहन में बैठाया

टीआइ दो बेटियों और पत्नी के साथ थाना परिसर में बने शासकीय क्वार्टर में ही रहते थे। माता-पिता और भाई गांव (रनायल) में रहते हैं। माता-पिता और भाई-बहन रविवार सुबह घर पहुंचे, लेकिन कोरोना के कारण अंदर नहीं जा सके। यहां मौजूद महिला पुलिसकर्मियों ने उन्हें बाहर ही रोक लिया। किसी को भी एक-दूसरे से मिलने की अनुमति नहीं थी।

रामबाग मुक्तिधाम पर शव पहुंचने के बाद पत्नी-बेटियों को वहां लाने का संदेश आया। महिला आरक्षकों ने उन्हें पीपीई किट पहनाई और थाना परिसर में खड़े पुलिस वाहन में बैठने को कहा।

स्वजन ने दूर से शव देखा

घर से बाहर निकलते ही रोती हुईं बेटियां दादी की ओर दौड़ीं, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उन्हें पकड़ लिया। कहा- 'दादा-दादी बीमार हो जाएंगे।' दुखी मन पर चोट न लगे, इसलिए कहा- 'तुम तो समझदार हो। तुम भी भला ऐसा करोगी तो कैसे काम चलेगा।' उन्हें बिलखता देख टीआइ के पिता की तबीयत बिगड़ गई। उन्होंने जेब में रखी गोली निकालकर जुबान के नीचे रखी और पत्नी का हाथ थामकर छांव में बैठ गए। पत्नी और बेटियों को पुलिस वाहन (बस) में दूर-दूर बैठाकर मुक्तिधाम ले जाया गया। माता-पिता, भाई-बहन और साला निजी वाहन से पहुंचे। उन्हें दूर से शव देखकर तसल्ली करनी पड़ी।

20 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कूलर में यदि पानी की जगह बर्फ रख दें तो क्या वह ज्यादा ठंडी हवा देगा
ग्वालियर में सरेआम महिला ने कपड़े उतारे, पुलिस और डॉक्टर के सामने हंगामा 
20 अप्रैल से 03 मई तक क्या खुलेगा क्या बंद रहेगा, यहां पढ़िए 
आग की लौ ऊपर क्यों जाती है, गुरुत्वाकर्षण प्रभावित नहीं करता क्या 
कमलनाथ की प्रिय बहन रामबाई को शिवराज सरकार में मंत्री पद चाहिए (वीडियो देखिए क्या कहा) 
अस्थाई शिक्षकों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, नियमितीकरण पर मुहर 
रेप पीड़ित महिला बैंक अधिकारी की हालत गंभीर, पति लॉक डाउनलोड फंसा था 
मध्यप्रदेश 03 मई तक लॉक डाउन में ठेकेदारों के लिए गाइडलाइन 
टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी आज डिस्चार्ज होने वाले थे, लगातार दो रिपोर्ट नेगेटिव आई थी 
इंदौर शोक मग्न: कोरोना फाइटर TI देवेंद्र चंद्रवंशी शहीद, पढ़िए पूरी रिपोर्ट 
प्रधानमंत्री ने छोटे दुकानदारों को धन्यवाद के साथ संदेश दिया 
कोरोना वायरस: MADHYA PRADESH तीसरे नंबर पर, महाराष्ट्र और DELHI के बाद सबसे ज्यादा मरीज
गृह निर्माण के समय ईटों पानी में क्यों भिगोया जाता है, आइए जानते हैं 
मध्यप्रदेश में शराबबंदी के नए आदेश जारी 
BHOPAL: मात्र 9 दिन की नवजात बच्ची कोरोना पॉजिटिव


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here