Loading...    
   


चीन में जहां पैदा हुआ कोरोना वायरस, वहां जश्न मना रहे हैं लोग | BSS WORLD NEWS

बीजिंग। कोरोना महामारी का केंद्र रहे चीन के वुहान शहर में 73 दिन बाद बुधवार आधी रात से लॉकडाउन खत्म कर दिया गया। शहर के 1.1 करोड़ लोगों को अब कहीं भी आने-जाने के लिए विशेष अनुमति लेने की जरूरत नहीं होगी, बशर्ते अनिवार्य स्मार्ट फोन एप्लिकेशन में यह बात स्पष्ट होना चाहिए कि वे स्वस्थ हैं और किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में नहीं आए हैं। वुहान शहर में 23 जनवरी को लॉकडाउन लागू किया गया था। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बस और ट्रेन सेवा पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही विमान सेवा पर भी उसी समय रोक लगा दी गई थी। सिर्फ जरूरी कामकाज को छोड़कर लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने की भी इजाजत नहीं दी गई थी।

शहर की सीमाओं को भी इस खतरे से निपटने के लिए सील कर दिया गया था। लॉकडाउन हटने के साथ ही शहर से गुजरने वाली यांगतेज नदी के दोनों किनारों पर लाइट शो का आयोजन किया गया। शहर की आलिशान इमारतों और पुलों पर ऐसी छवियां तैर रहीं थीं जिनमें स्वास्थ्यकर्मी मरीजों को ले जाते हुए दिख रहे थे। कई जगहों पर वुहान शहर के लिए 'हीरोइक सिटी' जैसे शब्द लिखे दिखाई दे रहे थे। तटबंधों और पुलों पर लोग खड़े होकर झंडे लहरा रहे थे और 'वुहान आगे बढ़ो' के नारे लगाते हुए चीन का राष्ट्रगान गा रहे थे।

शानदोंग प्रांत के मूल निवासी गुओ लेई, जो वुहान में अपना कारोबार चलाते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं वुहान में आठ साल से रह रहा हूं। महामारी की वजह से हम सभी यहां फंस गए थे।' एक अन्य व्यक्ति तोंग झेंगकुन ने कहा, 'मुझे बाहर निकले 70 दिन से भी ज्यादा दिन हो गए हैं। जिस इमारत में वह रहता था वहां पर संक्रमित व्यक्ति मिले थे, जिसके बाद पूरी इमारत को बंद कर दिया गया था।'

लॉकडाउन खत्म होते ही सड़कों पर कारों के साथ ही सैकड़ों लोग शहर से बाहर जाने के लिए ट्रेनों और विमानों का इंतजार करते दिखाई दिए तो कई लोग नौकरी पर जाने के लिए बेताब नजर आए। माना जा रहा है कि ट्रेन के जरिये करीब 53 हजार लोग वुहान शहर से बाहर गए। सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के अखबार ने हालांकि इतनी जल्दी जश्न मनाने को लेकर चेतावनी भी दी है।

वहीं चीन में मंगलवार को संक्रमण के 62 नए मामले सामने आए हैं। घरेलू संक्रमण के तीन मामलों को छोड़ दें तो शेष सभी संक्रमित लोग विदेश से आए थे। इस तरह विदेश से आए संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1,042 हो गई। मंगलवार को बगैर लक्षण वाले कोरोना संक्रमित 137 लोगों के नामों की सूची भी जारी की गई। मंगलवार को कोरोना की वजह से दो लोगों की मौत भी हुई। इनमें एक मौत शंघाई और दूसरी हुबेई प्रांत में हुई। देश में मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 3,333 हो गई है। अकेले वुहान में 50 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

09 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

  1. यदि एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष में अपने साथी पर गोली चलाए तो क्या होगा, पढ़िए 
  2. पत्नी को धर्मपत्नी क्यों कहते हैं, क्या कोई लॉजिक है या बस मान-सम्मान के लिए
  3. कोरोना फाइटर वंदना तिवारी की दर्दनाक मौत, DM से लेकर CM तक किसी ने मदद नहीं की 
  4. कोर्ट में गीता पर हाथ रखकर कसम क्यों खिलाते थे, रामायण पर क्यों नहीं है 
  5. ग्वालियर में सब्जी वाले से संक्रमित हुई बबीता वर्मा, बाकी सब बाहर से 
  6. मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत 
  7. ग्वालियर में गुर्जरों ने तहसीलदार पर पथराव किया, गनर ने हवाई फायर करके जान बचाई
  8. 9 ट्रेनों की लिस्ट तैयार, 15 से 21 अप्रैल तक चलेंगी 
  9. मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन 90 नए पॉजिटिव, खरगोन-बड़वानी आउट ऑफ कंट्रोल 
  10. मध्यप्रदेश में ESMA लागू, पढ़िए आम जनता को इससे क्या फायदा होगा 
  11. इंदौर, भोपाल, उज्जैन: घर से निकलते ही गिरफ्तार किए जाएंगे, 11 जिले 100% लॉक डाउन
  12. लॉकडाउन के दौरान कालाबाजारी या नकली सामान की शिकायत कहां करें, पढ़िए 
  13. सांसदों की तरह मध्य प्रदेश में विधायकों की विधायक निधि बंद होगी: सीएम शिवराज सिंह 
  14. लॉक डाउन में प्याज चुराकर भाग रहे थे रोका तो पिता पुत्र की हत्या की 
  15. भोपाल में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 92 हुई, मुख्यमंत्री भड़के 
  16. CMHO डहेरिया: मुख्यमंत्री ने 5 दिन पहले नमन किया था, आज ट्रांसफर कर दिया
  17. SBI ने दूसरी बार मौके का फायदा उठाया, खाताधारकों को नुकसान 
  18. पुलिस की वर्दी का रंग 'खाकी' क्यों होता है ब्राउन (कॉफी) क्यों नहीं होता



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here