Loading...    
   


अब भोपाल में भी ओला एंबुलेंस शुरू, मेडिकल इमरजेंसी में एप के जरिए बुक होगी / BHOPAL NEWS

भोपाल। राजधानी भोपाल (Bhopal) में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के फैलाव को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने इंदौर की तर्ज पर ओला कैब (Ola Cab) इमरजेंसी सेवा की शुरूआत की है। इनका इस्तेमाल एंबुलेंस (Ambulance) की तरह होगा। पहले चरण में राजधानी में 50 कैब एंबुलेंस के तौर पर इस्तेमाल में लाई जाएंगी। कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने इनके ड्राइवर्स से आज बात की और उन्होंने सावधानी और मदद के बारे में समझाइश भी दी है। इन ओला कैब के ड्राइवर्स को कोरोना से बचाव के तमाम इंतज़ामों से लैस किया गया है।

भोपाल वासियों में से जिसे भी मेडिकल इमरजेंसी (Medical Emergency) की जरूरत हो, वह एप के जरिए कैब बुक कर सकता है. इससे इमरजेंसी सेवा के लिए परेशान लोगों को राहत मिलेगी। प्रदेश के कई जिलों में इमरजेंसी सेवा ना मिल पाने के कारण कई मरीज़ो को अपनी जान गवां कर इसका खामियाज़ा भुगतना पड़ा है। इन घटनाओं पर रोक लगाने के लिए जिला प्रशासन ने अब ओला कैब को एम्बुलेंस के तौर पर इस्तेमाल करने का फैसला लिया है। इसके लिए, पहले चरण में 50 ओला टैक्सी तैयार की गई हैं। इनके ड्राइवर्स को विशेष प्रशिक्षण, मास्क और सैनिटाइजर दिया गया है। जिससे वे अपने आपको सुरक्षित रख सकें और बेहिचक मरीजों को अस्पताल तक पहुंचा सकें। 

ओला एंबुलेंस चलाने वाले ड्रायवर्स को कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने सेनेटाइजर, मास्क के इस्तेमाल और मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार करने के लिए कहा है। ओला एप्प के माध्यम से कोई भी व्यक्ति मेडिकल सुविधा के लिए इसको बुक कर सकता है। इस सुविधा से शहर के 100 हॉस्पिटल को जोड़ा गया है। डॉक्टर को दिखाने, मेडिकल इमरजेंसी और केवल हॉस्पिटल तक जाने के लिए ही यह सुविधा उपलब्ध होगी। 


21 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

कूलर में यदि पानी की जगह बर्फ रख दें तो क्या वह ज्यादा ठंडी हवा देगा
ग्वालियर में सरेआम महिला ने कपड़े उतारे, पुलिस और डॉक्टर के सामने हंगामा 
20 अप्रैल से 03 मई तक क्या खुलेगा क्या बंद रहेगा, यहां पढ़िए 
आग की लौ ऊपर क्यों जाती है, गुरुत्वाकर्षण प्रभावित नहीं करता क्या 
कमलनाथ की प्रिय बहन रामबाई को शिवराज सरकार में मंत्री पद चाहिए (वीडियो देखिए क्या कहा) 
अस्थाई शिक्षकों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला, नियमितीकरण पर मुहर 
रेप पीड़ित महिला बैंक अधिकारी की हालत गंभीर, पति लॉक डाउनलोड फंसा था 
मध्यप्रदेश 03 मई तक लॉक डाउन में ठेकेदारों के लिए गाइडलाइन 
टीआई देवेंद्र चंद्रवंशी आज डिस्चार्ज होने वाले थे, लगातार दो रिपोर्ट नेगेटिव आई थी 
इंदौर शोक मग्न: कोरोना फाइटर TI देवेंद्र चंद्रवंशी शहीद, पढ़िए पूरी रिपोर्ट 
प्रधानमंत्री ने छोटे दुकानदारों को धन्यवाद के साथ संदेश दिया 
कोरोना वायरस: MADHYA PRADESH तीसरे नंबर पर, महाराष्ट्र और DELHI के बाद सबसे ज्यादा मरीज
गृह निर्माण के समय ईटों पानी में क्यों भिगोया जाता है, आइए जानते हैं 
मध्यप्रदेश में शराबबंदी के नए आदेश जारी 
BHOPAL: मात्र 9 दिन की नवजात बच्ची कोरोना पॉजिटिव
लॉकडाउन में घर बैठे डॉक्टर को उसकी पत्नी ने पीटा, चाकू अड़ा दिया
मध्य प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में 20 अप्रैल के बाद क्या कर सकते हैं, क्या नहीं कर सकते, यहां पढ़िए
कोरोना शहीद TI चंद्रवंशी के माता-पिता को पुलिस ने गांव में घुसने से मना किया
मच्छर शाम के समय सिर के ऊपर क्यों भिनभिनाते हैं
ट्रेन का इंजन CAR की तरह चाबी से स्टार्ट होता है या कोई दूसरा तरीका है, यहां पढ़िए
मध्य प्रदेश में शिक्षक, बोर्ड परीक्षाओं के होम वैल्यूएशन के लिए तैयार नहीं
कर्मचारियों की NPS बंद करके OPS शुरू कर दें, कोरोना के लिए बजट आ जाएगा
ग्वालियर में धारा 144 संशोधित आदेश: 20 अप्रैल से क्या खुलेगा, क्या बंद रहेगा


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here