Loading...    
   


20 अप्रैल के बाद सशर्त छूट-छाट दी जा सकती है, लॉकडाउन 3 मई तक रहेगा: प्रधानमंत्री | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में करोना के खिलाफ लड़ाई अब आगे कैसे बढ़े। हम विजयी कैसे हों, हमारे यहां नुकसान कम कैसे हो। लोगों की दिक्कतें कम कैसे करें। इन बातों को लेकर राज्यों के साथ निरंतर चर्चाएं की और इन सभी चर्चाओं में से एक बात उभर कर के आती है, हर किसी का यही सुझाव आता है, नागरिकों की तरफ से भी यही सुझाव आता है कि लॉक डाउन को बढ़ाया जाए। कई राज्य तो पहले से ही लॉक डाउन को बढ़ाने का फैसला कर चुके हैं। साथियों सारे सुझावों को ध्यान में रखते हुए यह तय किया गया है कि भारत में लॉकडाउन को 3 मई तक और बढ़ाना पड़ेगा। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के इस समय में देश के लोग जिस तरह नियमों का पालन कर रहे हैं, जितने संयम से अपने घरों में रहकर त्योहार मना रहे हैं, वो बहुत प्रशंसनीय है। कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई, बहुत मजबूती के साथ आगे बढ़ रही है। आपकी तपस्या, आपके त्याग की वजह से भारत अब तक, कोरोना से होने वाले नुकसान को काफी हद तक टालने में सफल रहा है।

जब हमारे यहां कोरोना के सिर्फ 550 केस थे, तभी भारत ने 21 दिन के संपूर्ण लॉकडाउन का एक बड़ा कदम उठा लिया था। भारत ने, समस्या बढ़ने का इंतजार नहीं किया, बल्कि जैसे ही समस्या दिखी, उसे, तेजी से फैसले लेकर उसी समय रोकने का प्रयास किया। आज पूरे विश्व में कोरोना वैश्विक महामारी की जो स्थिति है, आप उसे भली-भांति जानते हैं। अन्य देशों के मुकाबले, भारत ने कैसे अपने यहां संक्रमण को रोकने के प्रयास किए, आप इसके सहभागी भी रहे हैं और साक्षी भी।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भारत के नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें अनुशासन का उसी तरह पालन करना है जैसे हम करते आ रहे हैं। मेरी सभी देशवासियों से यह प्रार्थना है कि अब कोरोना को हमें किसी भी कीमत पर नए क्षेत्रों में फैलने नहीं देना है। स्थानीय स्तर पर अब एक भी मरीज बढ़ता है तो यह हमारे लिए चिंता का विषय होना चाहिए। कहीं पर भी कोरोना से एक भी मरीज की दुखद मृत्यु होती है, हमारी चिंता और बढ़नी चाहिए। हमें बहुत ज्यादा सतर्कता बरतनी ही होगी। जिन स्थानों के हॉटस्पॉट में बदलने की आशंका है उस पर भी हमें कड़ी नजर रखनी होगी। कठोर कदम उठाने होंगे। नए हॉटस्पॉट का बनना हमारे परिश्रम और हमारी तपस्या को और चुनौती देगा।

इसलिए अगले 1 सप्ताह में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी। 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को बड़ी बारीकी से परखा जाएगा। वहां लॉक डाउन का कितना पालन हो रहा है। उस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है, इसका मूल्यांकन लगातार किया जाएगा। जो क्षेत्र इस अग्नि परीक्षा में सफल होगा। जो अपने यहां हॉट स्पॉट नहीं बढ़ने देगा वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की छूट दी जाएगी लेकिन याद रखिए यह अनुमति शर्त होगी। बाहर निकलने के नियम बहुत सख्त होंगे।

लॉक डाउन के नियम अगर टूटते हैं और कोरोनावायरस का पैर हमारे इलाके में फिर से पड़ता है तो सारी अनुमति तुरंत वापिस ले ली जाएंगी। इसलिए ना खुद कोई लापरवाही करनी है और यदि किसी और को लापरवाही करने देना। इस बारे में सरकार की तरफ से एक विस्तृत गाइडलाइन जारी की जाएगी। 


14 अप्रैल को सबसे ज्यादा पढ़ी जा रहीं खबरें

पुरानी बाइक का पिकअप कम क्यों हो जाता है 
किसान सावधान! पश्चिम से काली घटाएं उठ रही हैं, बारिश होगी 
बंदूक की गोली में यदि माचिस से आग लगाएं तो क्या होगा 
1.35 करोड़ कर्मचारी NPS अकाउंट से निकासी कर सकते हैं 
IIFA के बाद IPL 2020 की भी उम्मीद खत्म, दादा ने कहा भूल जाइए 
क्या आपको पता है डॉ. आम्बेडकर के नीले कोट का रहस्य, यहां पढ़िए 
कमलनाथ की दलीलें खारिज, सुप्रीम कोर्ट में केस हार गए, योग्यता पर सवाल 
SDOP ने सिंधिया भक्त पूर्व विधायक को ऐसी धूल चटाई, कोरोना से ज्यादा वायरल हो गई (आडियो सुनें) 
कामवाली बाई, सब्जी वाला सहित 15 उद्योगों को सशर्त मंजूरी देने वाली है सरकार: IANS Report 
मई के लास्ट वीक में खुल सकते हैं स्कूल-कॉलेज 
मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल नहीं, विशेष कार्य दल का गठन 
क्या गुजारा भत्ता में भी वेतन की तरह DA बढ़ाया जा सकता है 
जहां कोरोना नहीं है वहां मनरेगा शुरू होगा: सीएम शिवराज सिंह 
छिंदवाड़ा मीटिंग में कमलनाथ के PA की मौजूदगी पर हंगामा (वीडियो देखें) 
खबर का असर: कोरोना मरीजों के समर्थन में सीएम शिवराज सिंह 
मध्य प्रदेश: कुल संक्रमित 614, मृत्यु 50, स्थिर 499, गंभीर 14, स्वस्थ हुए 51 
कोरोना शवदाह गृह में जूनियर ने शव की जगह सीनियर कर्मचारी को जिंदा जला दिया


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here