INDORE में किराना के लिए 311 APP DOWNLOAD करें, सब्जी वाला कचरा वाहन के साथ आएगा
       
        Loading...    
   

INDORE में किराना के लिए 311 APP DOWNLOAD करें, सब्जी वाला कचरा वाहन के साथ आएगा

इंदौर। कर्फ्यू में लोगों को सब्जियों और किराना सामान के लिए परेशान नहीं होना पड़े, इसके लिए नगर निगम नई व्यवस्था कर रहा है। गुरुवार दोपहर से डोर-टू-डोर कचरा वाहन के 100 मीटर पीछे सब्जियों के वाहन चलाए जाएंगे, ताकि लोग घर बैठे सब्जियां ले सकें। इसके अलावा किराना दुकानों की सूची भी निगम के 311 एप पर डाली जा रही है। लोग इन पर कॉल कर घर सामान बुलवा सकते हैं। 311 मोबाइल एप की डायरेक्ट लिंक नीचे दी गई है।

कचरा वाहन के पीछे सब्जी वाला चलेगा

निगमायुक्त आशीष सिंह ने बताया कि शहर के 19 जोन में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन गाड़ियों के 467 रूट निर्धारित हैं। हर रूट पर 1000 से 1200 घर आते हैं। प्रत्येक जोन में 20 से 22 रूट पड़ते हैं। हमने सभी जोनल अधिकारियों और एनजीओ को इन सभी रूट्स के लिए व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। गुरुवार से कचरा गाड़ी के 100 मीटर पीछे ही सब्जी वाहन चलेंगे। इन वाहनों को जोनल अधिकारी द्वारा अधिकृत लेटर भी दिया जाएगा। लोग इनसे सब्जी खरीद सकते हैं। 

कर्फ्यू में ढील के समय भी लोग तय सब्जी मार्केट से सब्जियां खरीद सकते हैं, लेकिन दूर खड़े रहकर।  वहीं, निगम ने शहर के सभी जोन की किराना दुकानों की सूची तैयार कर ली है। इसे 311 एप पर डाला जा रहा है। इनमें कुछ ऐसे हैं जो घर पहुंच सेवा भी देंगे और कुछ को फोन पर सामान नोट करवा सकते हैं। वे सामान पैक रखेंगे। घर का कोई भी सदस्य वहां जाकर सामान ला सकेगा।

सब्जी और दूध के वितरण के लिए हर वार्ड में होंगे पांच स्थान

नगर निगम शहर में 425 स्थान चिह्नित कर रहा है, जहां सब्जियों और दूध की दुकानें लगवाई जाएंगी। निगमायुक्त आशीष सिंह ने बताया कि हर वार्ड में पांच ऐसे स्थान चिह्नित किए जा रहे हैं, जहां सब्जी और दूध की दुकानें लगाईं जा सके। उन स्थानों पर ठेले या अस्थायी दुकानें लगेंगी। 

14 अप्रैल तक फ्लाइट, ट्रेन, बसें बंद, इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी 

 कोरोना से बचाव के लिए रेलवे ने सभी ट्रेनाें काे 14 अप्रैल तक निरस्त कर दिया है। तीन सप्ताह के लॉकडाउन की घाेषणा के बाद रेलवे ने यह निर्णय लिया। 14 अप्रैल की रात 12 बजे तक अब कोई ट्रेन नहीं चलेगी। इंदौर से 80 से ज्यादा ट्रेनों का संचालन होता है। इंदौर से उड़ने वाली सभी फ्लाइटों का संचालन मंगलवार रात से बंद कर दिया गया है। ये अगले आदेश तक बंद रहेंगी। 

लोकल बसें, ऑटो, कैब नहीं चलेंगी : 

सभी बसें, ऑटो, कैब का संचालन पहले ही बंद हो चुका है। बसें भी 14 अप्रैल तक नहीं चलेंगी। हालांकि इमरजेंसी सेवाएं जारी रहेंगी। 20 संस्थाओं को वृद्ध, विकलांगों को भोजन सामग्री देने की मंजूरी घरों में वृद्ध, विकलांग, अनाथ, बीमार व्यक्तियों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन ने 20 गैर सरकारी संस्थाओं को मंजूरी पत्र जारी किया है। हर संस्था के लिए वार्ड चिह्नित कर दिए हैं, जो इन जगहों पर भोजन सामग्री का वितरण करेगी। अपर कलेक्टर दिनेश जैन ने मंजूरी जारी की है। कोई भी संस्था यह करना चाहे तो वह मंजूरी ले सकती है। हालांकि संस्थाओं को निर्देश दिए हैं कि वह भीड़ एकत्र नहीं करेंगी।

निजी वाहन से भी जिला छाेड़ने की इजाजत नहीं 

मुख्यमंत्री ने अधिकारियाें के साथ वीडियाे काॅन्फ्रेंसिंग की। उन्हाेंने सभी कलेक्टर और अन्य अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी को निजी वाहन से भी जिला छोड़ने की मंजूरी नहीं दें। जो जहां है, वहीं रहेगा। इसके बाद प्रशासन ने एसडीएम और थाना स्तर पर दी जाने वाली मंजूरी बंद कर दी।

बाहरी लोगों की जानकारी देने के लिए रोज 100 काॅल

शहर में बाहर से आए लोगों की जांच की जा रही है। कलेक्टर ने बताया कि इसके लिए कंट्रोल रूम के नंबर 0731-2567333 पर राेज 100 से ज्यादा कॉल आ रहे हैं। लाेग बाहर से आए लोगों की जानकारी दे रहे हैं। इन्हें चिह्नित कर जांच की जा रही है। 
इंदौर 311 मोबाइल ऐप अभी डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

25 मार्च को सबसे ज्यादा पढ़ी गईं खबरें

जींस में छोटी जेब क्यों होती है, कोई बड़ा कारण है या बस डिजाइन
यदि पेट्रोल को इंडक्शन कुकर पर उबाला जाए तो क्या होगा, पढ़िए
जयारोग्य हॉस्पिटल में कोरोना पॉजीटिव 3 दिन भटकाया, अब पत्नी को भर्ती करने की नौबत
जबलपुर में 148 लोग कोरोना संदिग्ध, होम क्वारंटाइन किया
हवाई जहाज कितना माइलेज देता है, प्रति व्यक्ति ईंधन का खर्चा कितना होता है
MP VIMARSH PORTAL 9th-11th EXAM RESULT DIRECT LINK यहां देखें
शिवराज सिंह: कलेक्टरों को गाइडलाइन, किसानों, गरीबों व विद्यार्थियों को राहत
हिंदुओं का दंडवत, जिसे ढोंग कहा था, दुनिया को कोरोनावायरस से बचा रहा है: चीन और अमेरिका की रिसर्च रिपोर्ट
भोपाल में कोरोनावायरस संदिग्ध लड़की पटवारी से लिपट गई
ना खांसी, ना जुकाम, मोहल्ले से बाहर नहीं निकली फिर भी कोरोनावायरस से मौत