छतरपुर पुलिस ने प्राइवेट कंपनी के कहने पर गरीब का मकान गिरा दिया, दंपति को पीटा | MP NEWS
       
        Loading...    
   

छतरपुर पुलिस ने प्राइवेट कंपनी के कहने पर गरीब का मकान गिरा दिया, दंपति को पीटा | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के छतरपुर से समाचार मिला है कि अलीपुरा थाना पुलिस ने फोरलेन सड़क का काम कर रही प्राइवेट कंपनी (PNC COMPANY) के कहने पर एक गरीब व्यक्ति का मकान गिरा दिया। जब दंपति ने पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध किया तो पुलिस ने पति पत्नी को बेरहमी से पीटा। 

पुलिस की पिटाई से महिला बेहोश, चक्का जाम 

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि पीएनसी कंपनी के लोग पुलिस और जेसीबी मशीन लेकर आए। कंपनी अधिकारियों के कहने पर जेसीबी मशीन मकान गिराना शुरू कर दिया। जब दंपति ने इसका विरोध किया तो पुलिस ने पति-पत्नी को बेरहमी से पीटा। इस दौरान जब संतोष पाल ने इसका विरोध किया, तो इन पुलिसकर्मियों ने संतोष पाल और उसकी पत्नी की जमकर पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से संतोष की पत्नी बेहोश हो गई. जब इस घटना के बारे में अन्य ग्रामीणों को पता चला तो उन्होंने पुलिस की इस गुंडागर्दी के खिलाफ सड़क पर चक्काजाम कर दिया।

SDM/SDOP कार्रवाई का आश्वासन दिया

चक्काजाम की खबर लगते ही नौगांव के एसडीएम और एसडीओपी समेत बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गई। इसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों को समझाइश देकर दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की बात कही। तब जाकर ग्रामीणों ने चक्काजाम खत्म किया। इस दौरान करीब 3 घंटे तक लगे जाम से हाईवे पर गाड़ियों की लंबी कतार लग गई थी।