Loading...    
   


दलित परिवार की शादी समारोह में राजपूत बोर्डिंग के छात्रों का हमला, तनाव, हड़ताल | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। मराठा बोर्डिंग में आयोजित दलित परिवार की शादी समारोह में हंगामा हो गया। आरोप है कि नजदीक स्थित राजपूत बोर्डिंग के छात्रों ने विवाह समारोह में आए अतिथियों पर हमला कर दिया। वहां रखा दहेज का सामान भी तोड़ दिया। करीब 10 से ज्यादा वाहनों में तोड़फोड़ की गई। गुस्सा आया दलित समाज रात में ही धरने पर बैठ गया। मंगलवार को सफाई कर्मचारियों ने हड़ताल कर दी। प्रभावित इलाकों में भारी मात्रा में पुलिस तैनात की गई है।

पुलिस थाने में दर्ज है FIR की कहानी के अनुसार सीताराम खरे की बेटी की शादी मराठा बोर्डिंग में थी। उनका कहना है कि दस बजे नियमानुसार डीजे भी बंद कर दिया गया था। खाना चल रहा था, इसके साथ ही मेहमानों ने वापसी शुरु कर दी थी, लेकिन राजपूत बोर्डिंग के छात्रों ने महिलाओं और अन्य लोगों पर पानी फैंकना शुरु कर दिया, जब इसका विरोध किया गया तो वह लाठियां व सरिए लेकर बाहर आ गए और आधा दर्जन से अधिक गाडिय़ा तोड़ दीं, वहीं दहेज के सामान के साथ डेकोरेशन भी तोड़ दिया, जो भी बीच में आया उसे पीटा। 

हमलावरों पर डकैती का मामला दर्ज, सीसीटीवी से पहचान होगी

शादी समारोह में दुल्हें तथा उसके परिजनों की मारपीटकर लूट करने वाले आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर उनकी तलाश में दबिश देना शुरू कर दिया है।हमलावरों की पहचान के लिए पुलिस वहां पर लगे सीसीटीवी फुटेज के साथ ही वीडिय़ो रिकॉर्डिग के आधार पर हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है। इसके साथ ही पुलिस पता लगा रही है कि यहां पर कौन-कौन से छात्र कब से रह रहे है और यहां पर अनाधिकृत तौर पर रहने वालों की भी जानकारी जुटाई जा रही है। 

राजपूत बोर्डिंग के छात्रों के खिलाफ इन धाराओं के तहत मामला दर्ज

पुलिस ने पीडि़त परिवार की तरफ से आरोपियों के खिलाफ  354 क, 394, 11/13 डकैती एक्ट, एससी-एसटी एक्ट, 452, 323, 294, 336, 147, 427, 324, के तहत मामला दर्ज कर लिया है। वहीं तनाव के हालात को देखते हुए आधा दर्जन थानों का बल अलर्ट मोड़ पर रखा गया है। जिससे तनाव की स्थिति बनने पर हालात को तत्काल नियंत्रित किया जा सके।

जयेंद्रगंज को छावनी बनाया, रात 3:20 बजे तक चक्का जाम

तनाव को देखते हुए इंदरगंज थाना और जयेन्द्रगंज को छावनी बना दिया और कई थानों के साथ ही लाइन से आए बल के साथ ही क्यूआरटी भी तैनात कर दी है। इंदरगंज चौराहे पर घटना के बाद रात 3:20 मिनट तक हंगामा हुआ, चक्काजाम किया गया, जिससे यहां से निकलने वाले वाहन चालकों को परेशानी उठानी पड़ी। दाल बाजार में भी ट्रक नहीं घुस सके।

जब तक ‘न्याय’ नहीं, तब तक ‘सफाई’ नही, हड़ताल

मराठा बोर्डिंग में विवाह समारोह के दौरान मारपीट के विरोध में सुबह मंगलवार को बाल्मीक समाज ने अबेडकर पार्क में अपना आक्रोश प्रकट किया। खास बात यह रही कि इन विरोध में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल रहीं। बाल्मीक समाज के नेता अशोक बाल्मीक ने विरोध धरने को सबोधित करते हुए कहा कि विवाह समारोह में जिस प्रकार से राजपूत बोर्डिंग के लडक़ों ने समारोह में व्यवधान डाला। हमारी महिलाओं के साथ अभ्रद व्यवहार किया। वाहन तोड़े और शादी में आए लोगों के साथ मारपीट की उसका हम कड़ा विरोध करते हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here