ट्रेन में लगाए जाने वाला AC कितने टन का होता है | GK IN HINDI
       
        Loading...    
   

ट्रेन में लगाए जाने वाला AC कितने टन का होता है | GK IN HINDI

हम अपने घर या ऑफिस के लिए जब AC खरीदते हैं, तो उसमें अन्य फीचर्स के अलावा एक बात जरूर देखते हैं और वह होती है हमारा एयर कंडीशनर कितने टन का है। एयर कंडीशनर में 'टन' का मतलब क्या होता है हम आपको पहले ही बता चुके हैं, यदि आप से चूक गया है तो यहां क्लिक करके पढ़ सकते हैं। अब प्रश्न उठता है कि एक कोच में करीब 72 यात्रियों को लेकर दौड़ने वाले ट्रेन में कितने टन का AC लगाया जाता है। 

हम आपको बताना चाहते हैं कि इसके लिए कोई फिक्स फार्मूला नहीं है। यह कोच यानी बोगी पर डिपेंड करता है कि उसके अंदर कितने टन का एसी होगा। रेलवे की पुरानी कुछ फैक्ट्रियों में AC का फार्मूला अलग है जबकि अब हाई स्पीड ट्रेनों के लिए बनाई जा रही रेल की बोगियों के लिए एयर कंडीशनर का फार्मूला अलग है। सरल भाषा में कुछ इस तरीके से समझिए:

इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) भारत की सबसे पुरानी कोच फैक्ट्री है। इसमें निर्मित होने वाली बोगियों में AC फिटिंग का फार्मूला कुछ इस तरह से होता है।
  • AC 1st : 6.7 टन की एक यूनिट लगाई जाती है।
  • AC 2nd : 5.2 टन की दो यूनिट लगाई जाती है।
  • AC चेयर कार : 6.6 टन की दो यूनिट लगाई जाती है।
  • AC 3rd : 7 टन की दो यूनिट लगाई जाती है।



वर्तमान में अत्याधुनिक लिंक हॉफमैन बुश LHB कोच बनाए जा रहे हैं। इन्हीं के कारण ट्रेन की स्पीड बढ़ाना संभव हो पाया है। भारत में फिलहाल 300 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ने वाले कोच बनाए जा सकते हैं। अत्याधुनिक रेलवे कोच में में AC लगाने का फार्मूला कुछ इस प्रकार है:
  • प्रत्येक कोच में 7 टन के 2AC लगाए जाते हैं।
  • सभी डब्बों में : 7 टन का 2 = 14 टन
  • डबल डेकर LHB कोच में 10 टन के 2AC लगाए जाते हैं। 


यही कारण है कि रेल के नए कोच में आपको एसी ज्यादा अच्छा अनुभव देता है जबकि रेल के पुराने कोच में एसी का एक्सपीरियंस थोड़ा काम अच्छा होता है। हालांकि दोनों ही स्थितियों में बोगी के अंदर का तापमान स्थिर रखा जाता है जो यात्रियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण है।
यदि आपके पास भी हैं ऐसी ही कुछ मजेदार जानकारियां तो कृपया हमें जरूर भेजें। हमारा ईपता तो आपको पता ही है: editorbhopalsamachar@gmail.com
Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article
(current affairs in hindi, gk question in hindi, current affairs 2019 in hindi, current affairs 2018 in hindi, today current affairs in hindi, general knowledge in hindi, gk ke question, gktoday in hindi, gk question answer in hindi,)