इंदौर में कोरोनावायरस: दो नए संदिग्ध मरीज मिले, एक 19 साल का युवक दूसरा 2 साल का बच्चा | INDORE NEWS
       
        Loading...    
   

इंदौर में कोरोनावायरस: दो नए संदिग्ध मरीज मिले, एक 19 साल का युवक दूसरा 2 साल का बच्चा | INDORE NEWS

इंदौर। देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में कोरोनावायरस की दहशत फैल गई है। यहां दो संदिग्ध मरीज मिले हैं। डॉक्टरों को संदेह है कि दोनों कोरोना वायरस से पीड़ित हो सकते हैं। मरीजों में एक 19 साल का युवक है जबकि दूसरा 2 साल का मासूम बच्चा। खाना कि इससे पहले भी डॉक्टरों ने एक छात्रा और एक छात्र को कोरोना वायरस के संदेह में भर्ती किया था परंतु उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। 

दोनों संदिग्ध चीन से वापस लौटे हैं

एमवाय अस्पताल अधीक्षक डॉ. पीएस ठाकुर के अनुसार, संदिग्ध मरीज में शामिल 19 साल का युवक 2 फरवरी को चीन के झैंगझू से इंदौर आया है। संदिग्ध मरीज में दो साल का बच्चा भी शामिल है जो 1 फरवरी को शंघाई से इंदौर आया था। चूंकि, दोनों मरीज कुछ ही दिन पहले चीन से लौटे हैं, इसलिए सावधानीवश उन्हें अस्पताल में भर्ती किया है। दोनों के ब्लड सैंपल के नमूने कोरोनावायरस संक्रमण की जांच के लिए पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजे गए।

चीन से आने वाले नागरिकों से स्क्रीनिंग कराने की अपील

इंदौर कलेक्टर ने पिछले 15 दिनों के दौरान चीन से आने वाले सभी नागरिकों से स्वास्थ्य परीक्षण कराने की अपील की है। अपील में कहा गया है कि चीन से आने वाले लोग पीसी सेठी अस्पताल और एमवाय अस्पताल में निःशुल्क परीक्षण करवा सकते हैं।

कंट्रोल रूम स्थापित

कोरोनावायरस के संबंध में जानकारी के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के कट्रोल रूम नंबर 0731-2537253 पर संपर्क किया जा सकता है। प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस के संबंध में सहयोग करने के लिए डॉ. संतोष सिसोदिया (मोबाइल नं. 94259-06685 ) को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार एमवाय अस्पताल में डॉ. सलिल साकल्ले (मोबाइल नं. 98260-11663) को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया है। शासकीय पीसी सेठी अस्पलात और एमवाय अस्पताल में आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है और इलाज के लिए विशेष टीम गठित की गई है।