Loading...

ब्यावरा कलेक्टर ने भाजपा नेताओं से पहले पुलिस अधिकारी को पीटा था: शिकायत | MP NEWS

भोपाल। ब्यावरा कलेक्टर निधि निवेदिता के खिलाफ एक गंभीर शिकायत सामने आई है। भाजपा नेताओं के साथ मारपीट के मामले में कलेक्टर में दलील दी थी कि माहौल बिगड़ रहा था, कंट्रोल करने के लिए हाथ उठाया लेकिन अब एक शिकायत और एक वीडियो सामने आया है। शिकायत पुलिस अधिकारी ने की है। पुलिस अधिकारी का कहना है कि रैली शुरू होने से पहले कलेक्टर ने उसे चांटा मारा था। एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें रैली शुरू होने से पहले कलेक्टर निधि निवेदिता एक पटवारी को पीटते नजर आ रही है। पुलिस अधिकारी ने एसपी राजगढ़ के सामने लिखित शिकायत प्रस्तुत की है एवं कलेक्टर के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग की है।

भाजपा की रैली से पहले ASI और पटवारी को थप्पड़ मारा था

एएसआई शर्मा की महारैली में ड्यूटी थी। बताया जा रहा है कि वे ब्यावरा में वैष्णो देवी मंदिर के सामने गाड़ी में बैठकर कैमरे से रैली की रिकॉर्डिंग कर रहे थे। दोपहर करीब 1:30 बजे कलेक्टर यहां पहुंची और उन्होंने शर्मा को गाड़ी से नीचे उतारकर थप्पड़ मारा। इसी तरह रैली शुरू होने के पहले मौके पर पटवारी जितेंद्र ड्यूटी कर रहे थे, तब वहां से निकलते वक्त कलेक्टर ने उन्हें फटकार लगाई और थप्पड़ मारा था। जितेंद्र को थप्पड़ मारने का वीडियो बीते दो दिन से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

क्या कलेक्टर निधि निवेदिता खुद माहौल बिगाड़ रही थी 

कलेक्टर निधि निवेदिता के मारपीट करते हुए 3 वीडियो सामने आ चुके हैं और अब एक पुलिस अधिकारी की शिकायत भी। कलेक्टर का कहना है कि उन्होंने माहौल को बिगड़ने से रोकने के लिए यह स्टेप उठाए। सवाल यह है कि कलेक्टर माहौल को बिगड़ने से रोकना चाहती थी या फिर खुद ही माहौल बिगाड़ रही थी। रैली शुरू होने से पहले पुलिस अधिकारी को थप्पड़ मारने का क्या अर्थ हो सकता है, जबकि पुलिस अधिकारी उनका अधीनस्थ कर्मचारी नहीं है और होता भी तब भी थप्पड़ मारने का हक तो कलेक्टर को बिल्कुल नहीं है। पटवारी का वीडियो वायरल हो चुका है। हालांकि पटवारी ने शिकायत नहीं की है।