Loading...

मोबाइल पर ज्यादा बात करने से कैंसर होता है: कोर्ट का फैसला | mobile phone cause cancer

नई दिल्ली। डॉक्टरों की रिपोर्ट के बाद इटली की बड़ी अदालत ने फैसला दिया है कि मोबाइल पर ज्यादा बात करने से कैंसर होता है। फैसले से पहले कोर्ट ने डॉक्टरों को इसका परीक्षण करने एवं तथ्य जुटाने के लिए नियुक्त किया था। डॉक्टरों ने अपनी रिपोर्ट में कोर्ट को बताया कि मोबाइल पर नियमित रूप से ज्यादा बात करने से सिर में ट्यूमर हो सकता है जो कैंसर बन जाता है। 

रोज 4-5 घंटे फोन पर बात करने से कैंसर हो गया

मामला इटली की कंपनी टेलीकॉम इटालिया के एक कर्मचारी रॉबर्टो रोमियो से जुड़ा है। 57 साल के रॉबर्टो ने उन्हें हुए ट्यूमर और न्यूरो डिसऑर्डर की वजह मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल को बताया था। इसके एवज में उन्होंने कंपनी से हर महीने करीब 40 हजार मुद्रा मुआवजा दिलाने की मांग की थी। उनकी दलील थी कि टेलीकॉम इटालिया में 15 साल नौकरी के दौरान उन्हें रोज 4 से 5 घंटे फोन पर बात करनी पड़ती थी। इस वजह से उनकी ऐसी हालत हो गई है।

कोर्ट ने माना मोबाइल पर ज्यादा बात करने से कैंसर होता है

2017 में निचली अदालत ने भी रॉबर्टो के पक्ष में फैसला दिया था, जिसे बड़ी अदालत में चुनौती दी गई थी। कोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखते हुए रॉबर्टो के पक्ष में फैसला सुनाया। जजों ने कहा- मोबाइल फोन से रेडियो फ्रिक्वेंसी और बीमारी के बीच संबंधों की पुष्टि की ठोस वजह है। कोर्ट ने वर्किंग प्लेस एक्सीडेंट इंश्योरेंस एजेंसी को रोमियो को क्षतिपूर्ति देने का आदेश दिया है।