दहेज में जीप नहीं दी तो शादी के दूसरे दिन बहु को मार डाला | GWALIOR NEWS
       
        Loading...    
   

दहेज में जीप नहीं दी तो शादी के दूसरे दिन बहु को मार डाला | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। बड़ौदा थाना क्षेत्र ग्राम मूंडला निवासी नव विवाहिता दिलखुश मीणा की ससुराल आने के दूसरे ही दिन मौत होने के मामले में पुलिस ने अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की है। इसके पीछे पुलिस अधिकारी तर्क दे रहे है कि अभी मामले की पीएम रिपोर्ट नहीं मिली है। जबकि सोमवार को मृतिका के परिजनों ने पुलिस अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर आरोप लगाया कि दिलखुश के ससुरालीजन दहेज में जीप की मांग कर रहे थे।

जीप की मांग पूरी न होने पर ससुरालियों ने उसकी हत्या कर दी। इसके बाद भी पुलिस दोषी ससुरालियों के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाए उनको बचा रही है। मृतक नव विवाहिता दिलखुश की बहन पूजा मीणा और मामा रामविलास मीणा ने एसपी को दिए आवेदन में बताया कि शादी के समय दिलखुश के ससुरालियों को 5 लाख रुपए दहेज में दिए। इसके बाद भी दिलखुश को ससुराल में पति सत्यनारायण, ननद रामकथा, ननदेऊ रामू मीणा, मामा ससुर रामलखन दहेज में जीप लाने के लिए प्रताडि़त करते थे। यह मांग पूरी न करने पर ससुरालियों ने दिलखुश को ससुराल ले जाकर उसकी हत्या कर दी।

इस मामले की शिकायत बड़ौदा थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए दोषियों के नाम भी बताए। मगर पुलिस न तो हमारी कोई सुनवाई कर रही है और न ही दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज कर रही है। पीएम रिपोर्ट मांगने पर गुमराह कर रही है। परिजनों ने एसपी नगेन्द्र सिंह से दोषियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की है।