Loading...

M2 MONEY: डेली 1% ब्याज का लालच देने वाला सौरभ चौबे गिरफ्तार | SAURABH CHAUBEY ARREST

जबलपुर। मोबाइल एप एवं ई-वॉलेट M2 MONEY के मालिक SAURABH CHAUBEY को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सौरभ चौबे उमरिया मप्र का रहने वाला है परंतु झारखंड में जाकर छुप गया था। सौरभ चौबे पर आरोप है कि उसने लोगों को झांसा दिया कि यदि वो M2 MONEY ई-वॉलेट में पैसा जमा करते हैं तो प्रतिदिन 1 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा। लालच में आकर लोगों ने 80 लाख रुपए जमा करा दिए लेकिन ब्याज मिलता तो दूर की बात, उनका मूलधन भी ब्लॉक हो गया। एक भी व्यक्ति अपने पैसे वापस प्राप्त नहीं कर पाया 

उमरिया का रहने वाला है सौरभ चौबे, प्रतिदिन 1 प्रतिशत ब्याज का लालच दिया था

जबलपुर साइबर सेल के पुलिस अधीक्षक अंकित शुक्ला ने शनिवार को बताया कि सौरभ चौबे ने ‘एम-2-मनी’’ नाम से एक ई-वॉलेट बनाया और जबलपुर निवासी अनिल सिंह ने इसमें छह लाख रुपये जमा किये लेकिन सिंह ने शिकायत की कि वह इसे उपयोग नहीं कर सके।’’ उन्होंने बताया कि सिंह की शिकायत पर उमरिया जिले में पाली के रहने वाले सौरभ चौबे को झारखंड से गिरफ्तार किया गया है। एसपी ने बताया कि चौबे द्वारा बनाये गये ई-वॉलेट में बिल भुगतान और शॉपिंग जैसी सुविधाएं थीं। आरोपी ने जमाकर्ताओं को अपने ई-वॉलेट की ओर आकर्षित करने के लिए प्रतिदिन एक प्रतिशत ब्याज की पेशकश की। 

इंदौर के इंजीनियर ने डवलप किया था ठगी वाला ई-वॉलेट

उसने इंदौर स्थित एक इंजीनियर से 10 लाख रुपये में इसे डिजाइन कराया था, यह रुपया उसने दोस्तों से इकट्ठा किया था। इसके बाद इसे गूगल प्लेस्टोर पर उपलब्ध करा दिया। शुक्ला ने बताया कि सागर के निजी विश्वविद्यालय से माईनिंग में डिप्लोमा करने वाले सौरभ में अपने ई-वॉलेट में लगभग 5000 उपयोगकर्ताओं को जोड़ लिया था। उन्होंने बताया कि सौरभ के ई-वॉलेट में 80 लाख रुपये जमा होने के बाद जमाकर्ता उसका उपयोग नहीं कर पा रहे थे। सौरभ ने लोगों को धोखा देते हुए जमा धन को लग्जरी कार, ज्वैलरी और विदेशों में पर्यटन कर खर्च कर दिया। उन्होंने कहा कि आरोपी के खिलाफ दर्ज की गई अन्य शिकायतों को जुटाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि ई-वॉलेट के जरिये धोखाधड़ी का संभवत: प्रदेश में यह पहला मामला है।