Loading...

नगर निगम की महिला कमिश्नर ने गुरुद्वारे के अंदर मंत्री के पैर छुए | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजनीति में नया बवाल शुरू हो गया है। देवास नगर निगम के कमिश्नर संजना जैन गुरु नानक जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में गुरुद्वारा परिसर के भीतर मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के पैर छुए। अब इस पर बवाल शुरू हो गया है। लोगों का कहना है कि इस तरह का आचरण सरकारी कर्मचारियों को भ्रष्ट प्रतिज्ञ प्रदर्शित करता है। धार्मिक दृष्टि से भी यह सर्वथा अनुचित है।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को गुरुनानक जयंती के अवसर पर देवास के गुरुद्वारा में धार्मिक आयोजन किया जा रहा था। इस आयोजन में कमलनाथ सरकार के मंत्री सज्जन सिंह वर्मा भी पहुंचे, मंत्री के पहुंचते ही वहां पहले से उपस्थित देवास नगर निगम की आयुक्त संजना जैन ने पैर छूकर उनका आर्शिवाद लिया। जानकारों के अनुसार सरकारी कर्मचारियों द्वारा किसी राजनैतिक व्यक्ति के चरण स्पर्श करना कर्मचारियों के लिए निर्धारित आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन है। इस तरह की गतिविधियां प्रदर्शित करती है कि कर्मचारी पक्षपाती है।

चला आरोप-प्रत्यारोप का दौर

मामले के तूल पकड़ने पर मंत्री सज्जन वर्मा ने कहा कि भाईदूज त्योहार के चलते अधिकारी ने उनके पैर छूए थे। वहीं देवास से भाजपा सांसद महेन्द्र सिंह सोलंकी ने कहा कि सरकारी अधिकारी कांग्रेस नेताओं के शरणागत हो गए हैं। नियम तोड़ने वाले अफसराें पर कार्रवाई की जानी चाहिए। इस मामले में शिकायत करने की बात सांसद द्वारा कही गई है। वहीं देवास से भाजपा विधायक गायत्री राजे पंवार ने कहा कि हम यह बात पहले दिन से कह रहे हैं कि निगमायुक्त द्वारा भेदभाव किया जाता है।