Loading...

मप्र में ITI का रिजल्ट ऑनलाइन पब्लिक नहीं किया, क्या घोटाला है | Khula Khat to CM Kamal nath

अभी कुछ दिन पहले मध्यप्रदेश में ITI (tech. Education, Skill developed department) का रिजल्ट आया है।  यह रिजल्ट परीक्षार्थी स्वयं ऑनलाइन नहीं देख पा रहे हैं। उन्हें कालेजों के चक्कर काटने पड रहे हैं क्योकिं mponline/iti संचालनालय ने जानबूझकर कालेज संचालकों से मिलीभगतकर ऐसी व्यवस्था कर रखी है कि छात्र इस रिजल्ट को नहीं देख सकते केवल कालेज संचालक ही देख सकते हैं। 

इसका फायदा उठाकर कालेजा संचालक मनमानी कर रहे हैं और छात्रों को सही रिजल्ट नहीं बता रहे उन्हें गुमराह किया जा रहा है। दिनांक 07.11.19 को मैं स्वयं ITI विजयपुर जिला श्योपुर में अपनी भतीजी का रिजल्ट देखने गया तो प्राचार्य ने रिजल्ट नहीं बताया इससे पहले 04.11.19 को मेरी भतीजी रिजल्ट देखने गई तो उसे भी गुमराह करके वापस भेज दिया। अन्य छात्राओं ने भी बताया कि वो जब रिजल्ट पूछने गईं तो यहां का प्राचार्य छात्राओं पर चिल्ला के पड़ा। इससे भी ज्यादा मनमानी प्राईवेट कालेज संचालक कर रहे हैं।

ये रिजल्ट पब्लिक डोमेन में होना चाहिए जिससे छात्र स्वयं ऑनलाइन रिजल्ट देख सकें जैसा कि सभी परीक्षाओ में होता है लेकिन mp online अथवा ITI संचालनालय ने जानबूझकर छात्रों को रिजल्ट देखने का लिन्क वेबसाइट पर नहीं दिया है।

कृपया विभाग के प्रदेश स्तरीय अधिकारियों से इस विषय पर स्पस्टीकरण लेने का कष्ट करें कि छात्रों को स्वयं रिजल्ट देखने की व्यवस्था क्यों नहीं की गई है। अधिकारियों को ये भी बताने का कष्ट करें कि कालेज संचालक सही रिजल्ट नहीं बता रहे। इससे पास छात्रों को फैल बताकर उनको पास कराने के नाम पर पैसे ऐंठे जाने की संभावना है।

सीएम सर कौशल विकास संचालनालय के अधिकारियों से यह प्रश्न करने का कष्ट करें iti का रिजल्ट पब्लिकली आनलाइन क्यों नहीं किया ऐसी व्यवस्था क्यों की है कि सिर्फ कालेज वाले ही रिजल्ट देख सकते हैं।
// रामेश्वर राठौर