Loading...

पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं ने नियमितीकरण के लिए दिया धरना | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। प्रेस को जारी विज्ञप्ति में प्रदेश सचिव दिनेश सेन ने बताया कि विजय याग्निक जी के नेतृत्व में पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता संघ मध्यप्रदेश की ग्वालियर इकाई द्वारा नियमितीकरण की मांग को लेकर फूलबाग चौराहा, ग्वालियर में एक दिवसीय धरने का आयोजन किया गया। जिसमे कांग्रेस विधायक मुन्नालाल गोयल ने धरना स्थल पर पहुँचकर मुख्यमंत्री से बात कर जल्द नियमतिकरण का आश्वासन दिया।

प्रदेश अध्यक्ष अखलेश सेन ने बताया कि पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याता विगत 5 वर्षों से नियमितीकरण की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे है। लगभग 15 वर्षो से प्रदेश के सभी 67 शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेजों के अतिथि व्याख्याता शोषण रूपी व्यवस्था का शिकार हो रहे है जिसमे नियुक्ति पूरे 11 माह की देकर प्रतिमाह औसतन वेतनमान रुपये 5000 प्रतिमाह या 400 प्रतिकाल खंड  मिल पा रहा है। इतने कम एक भरण पोषण करना संभव नही है। जो कि किसी अकाल मृत्यु से भी भयंकर रहा है। पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं द्वारा लगातार नियमितीकरण के लिए संघर्ष किया जा रहा है। 

हज़ारों ज्ञापन नियमितीकरण की मांग के लिए सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों, विधायकों को दिया जा चुके है। लेकिन तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकारियों की मनमानी के कारण पॉलिटेक्निक अतिथियों को नियमित नही किया जा रहा है। जबकि तदर्थ व्यवस्था के माध्यम से कार्य करने वाले अंशकालीन व्याख्याताओं (एडहॉक व्याख्याता) नियमित किया जा चुका है। जिन्होंने 90 दिनों अधिमतम ही सेवाएं दी थी उनको विभाग द्वारा नियमित किया जा चुका है। शासन द्वारा विभाग की मिलीभगत से की जाने वाली गेट 2020 परीक्षा नियमित भर्ती को रोक जाए एवं सेवारत अतिथि व्याख्याताओं को नियमित किया जावे। 

जब कि पटना उच्च न्यायालय ने विहार में समान प्रकार की पॉलिटेक्निक व इंजीनियरिंग नियमित व्याख्यता भर्ती को रोक दिया क्यों कि इसमें अध्यापन योग्यता से संवंधित कुछ नही है उच्च तकनीकी शिक्षा एम. टेक व पीएचडी प्राप्त करने का आधार मात्र है। चूंकि सरकार ने नियमितीकरण का वचन दिया है। और अतिथि शब्द हटाने का भी वचन पूर्व में दिया है जिसे पूरा किया जाए और हमारी सेवाओं को नियमित कर सुरक्षित किया जाए। इस आज के धरने  में मुख्य रूप से वरिष्ठ समाज सेवी सुधीर सप्रा,कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष काशीराम देहलवार,जसवंत सिंह,योगेश इन्दोरिया, राहुल यादव,पूजा माझी,देवीदीन अहिरवार, एवं सभी जिलों से आये सभी अतिथि व्याख्याताओं के साथ समाजिक- कर्मचारी संगठन,स्वास्थ संविदा कर्मचारी संघ- डॉ लक्ष्मण गुर्जर,कसक- डॉ जबर सिंह अग्र,विश्वजीत रतोनिया, मनोज कुशवाह,ओबीसी महासभा- धर्मेंद्र सिंह कुशवाह,अधिवक्ता परिषद,जैन समाज सेवा संघ,राष्ट्रवादी कांग्रेस- सुरेंद्र जैस्वाल,एस एफ आई- आकांक्षा धाकड़, अन्य सामाजिक संगठन एवं राजनैतिक दलों ने भी धरने में आकर अपनी उपस्थिति के साथ नियमितीकरण की मांग का समर्थन समर्थन पत्र संगठन को दिया।